वाराणसी में घुस लेते पकड़ा गया लेखपाल, एन्टी करप्शन की टीम ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार
वाराणसी में घुस लेते पकड़ा गया लेखपाल, एन्टी करप्शन की टीम ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार

संवाददाता - सुजीत सिंह 

वाराणसी। पेट्रोल पंप खोलने के लिए फॉर्म भरने वाले से रिपोर्ट देने के बदले में पैसा मांग रहा था। भ्रष्टाचार निवारण संगठन (ACO) की टीम ने गुरुवार को वाराणसी के मोहनसराय क्षेत्र से एक लेखपाल को 40 हजार रुपए घूस लेते हुए रंगेहाथ पकड़ा।

 

आरोपी लेखपाल को रोहनिया थाने की पुलिस को सौंपा गया हैं। पूछताछ की प्रक्रिया पूरी कर लेखपाल को अदालत में पेश कर जेल भेजा जाएगा।

 

 

पेट्रोल पंप खोलने से जुड़ा है मामला


रोहनिया थाना के नरउर निवासी अजीत कुमार सिंह इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंप के लिए आवेदन किए थे। इसके लिए वाराणसी के जिलाधिकारी के यहां से जमीन की जांच और एनओसी के लिए तहसील को निर्देशित किया गया था।

 

तहसील से मामले की जांच इलाकाई लेखपाल संजय कुमार वर्मा को सौंपी गई। अजीत कुमार सिंह के अनुसार, बीते अप्रैल माह में ही लेखपाल के पास पेपर आ गया था। जब पेपर के बारे में पूछता था तो वह टालमटोल कर देते थे।

कुछ समय बाद उन्होंने कहा कि 80 हजार रुपए खर्च लगेगा, तभी रिपोर्ट लग पाएगी। कारण कि, ऐसे प्रकरणों में अधिकारियों को भी पैसा देना पड़ता है। 

अजीत कुमार सिंह ने कहा कि पहले तो उन्होंने असमर्थता जताई, लेकिन फिर 5-5 हजार रुपए दो बार में उन्होंने लेखपाल को दिया। बीती 17 सितंबर को लेखपाल संजय वर्मा ने पैसे की फिर मांग की। इस पर परेशान होकर उन्होंने एंटी करप्शन ऑर्गनाइजेशन की टीम से संपर्क किया।

टीम ने अजीत कुमार सिंह के साथ मोहनसराय स्थित मिश्रा कांप्लेक्स में लेखपाल के अस्थायी कार्यालय पर उसे पैसे देने की योजना बनाई। 

गुरुवार को अजीत कुमार सिंह ने 40 हजार रुपए लेखपाल को दिए तो उसे वह अपनी पैंट की जेब में डाल लिया। उसी दौरान एंटी करप्शन ऑर्गनाइजेशन की टीम ने उसे पकड़ लिया।

एंटी करप्शन ऑर्गनाइजेशन की टीम आरोपी लेखपाल को लेकर रोहनिया थाने पहुंची। रोहनिया थाने के प्रभारी निरीक्षक विमल कुमार मिश्र ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

ख़बरदार...होशियार! होश में आयें हिन्दू धर्म के लोग, विधर्मियों से न खरीदें व्रत व पूजा पाठ की सामग्री

अखिल भारतीय संत समिति के महासचिव स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने वाराणसी में गुरुवार को कहा कि सनातन हिंदू धर्म के लोग व्रत और पूजा की सामग्री विधर्मियों से न खरीदें। उन्होंने कहा कि पितृ पक्ष के संपन्न होते ही हमारे तीज-त्योहारों का सिलसिला शुरू हो जाएगा।

अकसर वीडियो सामने आते रहते हैं कि फल और अन्य सामग्रियां बेचने वाले विधर्मी उन पर थूकते हुए या गंदा पानी फेकते नजर आ जाते हैं।

इसलिए सनातन हिंदू धर्म के अनुयायी खुद की पवित्रता को बचाए रखने के लिए व्रत और पूजा की सामग्री विधर्मियों से न खरीदें। अखिल भारतीय संत समिति यह अपील करती है कि दूध, फल, वस्त्र या पूजा से जुड़ी अन्य सामग्रियां सिर्फ सनातन हिंदू धर्म के अनुयायियों से ही खरीदी जाए।

मदरसों और वक्फ संपत्ति के सर्वे का स्वागत

स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि मदरसों और वक्फ संपत्ति के सर्वे के निर्णय का स्वागत करते हुए अखिल भारतीय संत समिति उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बधाई देती है। प्रश्न यह उठता है कि जब देश का विभाजन धर्म के आधार पर हुआ था।

मुसलमानों ने यह कहा था कि हम हिंदुओं के साथ नहीं रह सकते हैं। इसी आधार पर भारत माता के दो टुकड़े किए गए। फिर, हिंदुस्तान में वक्फ के नाम पर किस प्रकार की संपत्ति बच गई। हम भारत सरकार से यह मांग करते हैं कि वक्फ एक्ट 1995 को तत्काल रद्द किया जाए।

साथ ही ऐसी संपत्तियां जो वक्फ के नाम से दर्ज हैं उनकी जांच हो कि उन्हें आखिरकार किसने और कब दान दिया था। हिंदुस्तान में 16 लाख एकड़ से ज्यादा जमीन वक्फ के नाम पर दर्ज है। यह भी गजवा-ए-हिंद का एक पार्ट है। इसलिए वक्फ एक्ट को तत्काल रद्द किया जाना चाहिए।

डांडिया और गरबा नृत्य के दौरान सतर्क रहें

स्वामी  जितेंद्रांनद सरस्वती ने कहा कि आगामी नवरात्रि के दिनों में गरबा नृत्य और डांडिया का आयोजन होता है। बीते सालों में देखने में आया है कि विधर्मी अपनी पहचान छुपा कर हाथ में कलाबा बांध कर डांडिया और गरबा समूहों में घुस कर लव जिहाद का प्रयास करते हैं।

ऐसी परिस्थितियों में हम सबकी जिम्मेदारी है कि हम सनातन हिंदू धर्म के लोग स्त्री स्वाभिमान की रक्षा करें। अखिल भारतीय संत समिति गरबा और डांडिया आयोजित करने वालों से अपील करती हैं कि वह सतर्क होकर आयोजन कराएं।

चेक कराएं कि कोई विधर्मी गरबा या डांडिया में तो शामिल नहीं हुआ है। साथ ही हम विधर्मियों को चेतावनी भी देते हैं कि वो ऐसा कोई काम न करें कि उनके साथ कोई दुर्घटना हो।

कांग्रेस नेता अजय राय ने मुख्तार अंसारी को सजा देने पर न्यायपालिका को कही बड़ी बात

वाराणसी। माफिया मुख्तार अंसारी को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ ने जेलर को धमकाने के 19 साल पुराने मामले में 7 साल की सजा से दंडित किया है।

इसे लेकर उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता अजय राय ने गुरुवार को वाराणसी में न्यायपालिका का आभार जताया।

उन्होंने कहा कि अदालत के इस फैसले से अब हमारे अंदर भी उम्मीद जगी है। हमारे पूरे परिवार को अब यह लग रहा है कि 31 साल पहले की गई हमारे बड़े भाई अवधेश राय की हत्या हमें भी न्याय मिलेगा और मुख्तार अंसारी को सजा मिलेगी।

उत्तर भारत का सबसे बड़ा माफिया है

पूर्व मंत्री अजय राय ने कहा कि मुख्तार अंसारी उत्तर भारत का सबसे बड़ा माफिया है। उसे एक लंबे अरसे के बाद किसी मामले में अदालत ने सजा सुनाई है। अदालत के इस फैसले से मुख्तार अंसारी से पीड़ित हर किसी के अंदर न्याय के प्रति आस जगी है।

अजय राय ने कहा कि मैं अपने बड़े भाई की हत्या का केस 21 साल की उम्र से लड़ रहा हूं और अब तक 31 साल बीत गए हैं। मुख्तार अंसारी का जब जलवा हुआ करता था तब भी हम अदालत में उसके खिलाफ गवाही देने के लिए जाते थे।

अदालत ने उसे कल सजा सुनाई तो हमारा पूरा परिवार खुश हो गया और हमें लगा कि अब वह दिन दूर नहीं जब मुख्तार हमारे बड़े भाई की हत्या के लिए भी दंडित किया जाएगा।

3 अगस्त 1991 को हुई थी अवधेश राय की हत्या

3 अगस्त 1991 को अवेधश राय की हत्या लहुराबीर स्थित उनके आवास पर गोली मार कर की गई थी। इस मामले में अजय राय ने मुख्तार अंसारी, पूर्व विधायक अब्दुल कलाम, भीम सिंह, कमलेश सिंह और राकेश न्यायिक सहित अन्य लोगों के खिलाफ चेतगंज थाने में केस दर्ज कराया था।

इन दिनों इस मुकदमे की सुनवाई वाराणसी की MP-MLA कोर्ट में चल रही है।

वाराणसी कोर्ट में हंसते हुए आया बलात्कारी मौलाना, कोर्ट ने सुनाई इतने साल की सजा और लगाया जुर्माना!  

रेप और ब्लैकमेल सहित अन्य आरोपों में दर्ज मुकदमे के दोषी इटावा के चर्चित मौलाना जरजिस को आज वाराणसी की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई है।

इसके साथ ही उसे कोर्ट ने 10 हजार रुपए के जुर्माने से भी दंडित किया है। इससे पहले बुधवार को कोर्ट ने मौलाना जरजिस को दोषी करार दिया था।

मुकदमा दर्ज कराने वाली पीड़िता के अनुसार, मौलाना जरजिस वाराणसी में तकरीर करने के लिए आता था। उस दौरान वह वाराणसी के होटलों में रुकता था।

तकरीर के दौरान ही वर्ष 2013 में उसका परिचय मौलाना जरजिस से हुआ था। उसी दौरान वह उसे होटल में बुलाया था।

होटल में मौलाना जरजिस ने उसके साथ रेप किया था और उसका अश्लील वीडियो बना लिया था।

इसके बाद निकाह का झांसा देकर मौलाना जरजिस ने उसके साथ अलग-अलग होटलों में कई बार दुष्कर्म और कुकर्म किया था। 19 नवंबर 2015 को मौलाना जरजिस उसके घर आकर दुष्कर्म किया।

विरोध करने पर समाज में बदनाम करने के साथ ही जान से मारने की धमकी दिया। काफी मिन्नतों के बाद भी मौलाना जरजिस ने उसके साथ निकाह नहीं किया तो वह वाराणसी के एसएसपी के यहां प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की गुहार लगाई थी।

एसएसपी के निर्देश पर जैतपुरा थाने में मौलाना जरजिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था।

मौलाना जरजिस के खिलाफ यह मुकदमा 17 जनवरी 2016 को वाराणसी के जैतपुरा थाने में दर्ज किया गया था। वहीं, मौलाना जरजिस कोर्ट में पेश किए जाने से पहले कचहरी परिसर में हंस रहा था।

पत्रकारों से उसने कहा कि उसके साथ गलत हुआ है। वह जिला अदालत के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट जाएगा।

वाराणसी में वीडियो कॉल पर अश्लील हरकत कर महिला ने डॉक्टर से ऐंठे कई लाख रुपये

वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट के शिवपुर और मंडुवाडीह थाने में साइबर क्राइम के दो मुकदमे दर्ज किए गए हैं। शिवपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराने वाले डॉक्टर के अनुसार उन्हें एक महिला वीडियो कॉल कर अश्लील हरकत की।

फोन काटने पर उन्हें ब्लैकमेल कर साइबर क्रिमिनल अब तक 6.78 रुपए ऐंठ चुके हैं। वहीं, बनारस रेल इंजन कारखाना (BLW) की महाप्रबंधक की फर्जी वॉट्स ऐप आईडी बना कर कर्मचारियों से पैसे मांगने का प्रयास किया गया।

साइबर क्राइम कमिश्नर बता कर धमकाया

भरलाई स्थित सिद्धि विनायक अपार्टमेंट में डॉ. सुधीर सिंह रहते हैं। डॉ. सुधीर के अनुसार, उनके पास बीती 17 सितंबर को एक वीडियो कॉल आई थी। उन्होंने कॉल रिसीव की तो एक महिला अश्लील हरकत करने लगी।

इस पर उन्होंने तत्काल कॉल कट कर दी। उसके बाद राकेश अस्थाना नाम के एक शख्स ने कॉल कर कहा कि साइबर क्राइम का कमिश्नर बोल रहा हूं। यदि तुम पैसा नहीं दोगे तो तुम्हारा अश्लील वीडियो यू-ट्यूब पर वायरल कर दूंगा।

राकेश अस्थाना की धमकी से डर कर उन्होंने निलेश दिगंबर नाम के शख्स के बैंक खाते में 6.78 लाख रुपए ट्रांसफर किए। इसके बाद राकेश और निलेश फिर पैसा मांगने लगे। डॉ. सुधीर की तहरीर पर राकेश और निलेश के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

फर्जी वाट्स ऐप आईडी बनाई

BLW की महाप्रबंधक अंजली गोयल के अनुसार, किसी ने उनके नाम से फर्जी वाट्स ऐप आईडी बना ली है। फर्जी वाट्स ऐप आईडी मोबाइल नंबर 9372451601 से बनाई गई है।

उस फर्जी आईडी से BLW के कर्मचारियों को पैसे मांगने की बात सामने आई है। प्रकरण को लेकर मंडुवाडीह थाने में मुकदमा दर्ज कराने के साथ ही साइबर क्राइम सेल को भी सूचना दी गई है।

अब नहीं सुन सकेंगे बादशाह का गाना, सिंगर ने म्यूजिक की दुनिया से कहा अलविदा!

अपने गानों से दुनिया के लोगों को दिवाना बनाने वाले बदशाह के फैंस के लिए एक बुरी खबर निकलकर सामने आई है। दरअसल, अब सिंगर बादशाह म्यूजिक की दुनिया से अलविदा कह दिया है। ऐसा हम नहीं उन्होंने अपने सोशल मीडिया पर ऐसा पोस्ट किया है। जिसके बाद उनके फैंस काफी परेशान नजर आ रहे है।

जानकारी के अनुसार, सिंगर बादशाह ने अपने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट फैंस के बीच शेयर किया है। जिसमें वो जल्द ही म्यूजिक की दुनिया से ब्रेक लेने की बात कही है। उन्होंने ने ये पोस्ट अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर पोस्ट कर जानकारी दी है। उनके इस पोस्ट से कारोड़ फैंस का दिल टूट गया है।

फैंस कई तरह सवाल जवाब करने लगे है। बादशाह ने अपने पोस्ट पर लिखा- टेकिंग ए ब्रेक उनके पोस्ट के बाद सोशल मीडिया में काफी बवाल मच गया है। उनको लेकर कई प्रकार की चर्चा होने लगी है।

36 साल के बादशाह का इस तरह का म्यूजिक की दुनिया से ब्रेक लेना फैंस को काफी तगड़ा झटका लगा है। हालंकि खुलकर इस बारे में जानकारी नहीं मिली है, लेकिन उनके इस पोस्ट से सोशल मीडिया पर काफी फैंस परेशान हो गए है।

बता दें कि बादशाह देश में ही नहीं विदेश में भी अच्छा खासा जाने जाते है। उनके कई हिट गाने भी गाए है। देश विदेश में उनकी अच्छा खासा फैन फॉलोइंग है। जब भी कही भी शादी पार्टी होती है, तो सबसे पहले उनके गाने ही बजाए जाते है।

आजकल लोगों को भोजपुरी गाने बेहद पसंद आने लगे हैं। यूट्यूब पर आए दिन एक से बढ़कर एक भोजपुरी गाने रिलीज होते हैं। इनमे से कुछ गाने ऐसे हाते हैं जो देखते ही देखते तेजी से वायरल हो जाते हैं।

 

कई गाने तो कम समय में काफी ज्यादा देखे जाते हैं और उन्हें लोग काफी पसंद भी करते हैं।

 

वैसे तो भोजपुरी इंडस्ट्री में कई स्टार्स है जिनके गाने धड़ल्ले से वायरल हो जाते हैं। इनमें से कुछ ख़ास नाम हैं पवन सिंह, निरहुआ आम्रपाली, खेसारी लाल यादव, शिल्पी राज और रितेश पांडे।

ऐसा ही एक गाना है ‘ए राजा जाई ना बहरिया ( Ye Raja Jai Na Bahriya)’ है, जो तेजी से वायरल हुआ और लोगों की जुबां पर चढ़ गया। इस गाने को कुछ ही दिनों में काफी ज्यादा लाइक किया गया।

दरअसल, इस गाने को म्यूजिक कंपनी म्यूजिक वाइड ने अपने यूट्यूब चैनल पर 28 जुलाई 2020 को रिलीज किया था, तब से लेकर अब तक इस गाने को 49 करोड़ 31 लाख से ज्यादा बार देखा गया है।

गाने में राकेश मिश्रा के अपोजिट त्रिशाकर मधु का बोल्ड अंदाज देखने को मिलता है। इस गाने में दोनों के बीच की केमेस्ट्री बहुत ही शानदार लग रही है। इस गाने में दोनों के डांस और एक्टिंग और रोमांस को बेहद पसंद किया जा रहा है।

Akshara Singh MMS Leak Video: भोजपुरी स्टार अक्षरा सिंह का MMS Video Viral, इंटरनेट पर मचा बवाल

भोजपुरी एक्ट्रेस अक्षरा सिंह (Akshara Singh) को उनके फैंस द्वारा बिहार और इंडस्ट्री की शेरनी कहा जाता है। वो अपने दमदार अभिनय के साथ-साथ गायिकी के लिए जानी जाती हैं। उनकी फिल्मों में उनके जबरदस्त रोमांस के तड़के को पसंद किया जाता है।

ऐसे में अब इंटरनेट पर एक्ट्रेस को लेकर देखने के लिए मिल रहा है कि काफी बवाल मचा हुआ है और इसकी वजह कुछ और नहीं बल्कि इंटरनेट पर लीक हुआ एक प्राइवेट वीडियो है, जिसे अक्षरा का बताया जा रहा है।

हालांकि, असल में ये वीडियो उनका नहीं लग रहा है। एक्ट्रेस का भी इस पर कोई रिएक्शन नहीं है। इस बीच गूगल पर देखने के लिए मिल रहा है कि एक्ट्रेस के कथित एमएमएस वीडियो (Bhojpuri Actress MMS Video) को डाउनलोड करने के लिए लोग लिंक शेयर कर रहे हैं।

दरअसल, जब अक्षरा सिंह का नाम या फिर उनके नाम के साथ वायरल वीडियो लिखकर कोई नए गाने की सर्चिंग की जा रही है तो उसमें देखने के लिए मिल रहा है कि गूगल में टॉप पर कई लिंक आ रहे हैं, जो अक्षरा सिंह का कथित वायरल वीडियो डाउनलोड करने का लिंक हैं। इससे वीडियो को डाउनलोड करने का ऑप्शन दिया जा रहा है। 

सर्चिंग कीवर्ड टॉप लिस्ट में हैं. ये कीवर्ड कई यूट्यूब वीडियो के लिंक भी ओपन कर रहा है, जिसमें इस प्राइवेट वीडियो को एक्ट्रेस का वीडियो बताया जा रहा है। 

यूट्यूबर्स द्वारा इसे कई तरीके से एडिट करके चलाया जा रहा है। लोग अक्षरा के कथित वायरल वीडियो को डाउनलोड करने का ऑप्शन यूट्यूब पर भी दे रहे हैं। यहां तक कि कई तो इसे डायरेक्ट दिखाने का भी दावा कर रहे हैं।

आपको बता दें कि जब हमारी ओर से इस वीडियो की सच्चाई को जानने की कोशिश की गई तो वीडियो को देखकर नहीं लगा कि ये सच में अक्षरा सिंह का ही है। क्योंकि इसमें लड़की का चेहरा साफ तौर से देखा जा सकता है।

ऐसे में ये दावा करना गलत होगा कि वीडियो अक्षरा सिंह का ही है. लेकिन, लोग यूट्यूब और गूगल पर उनके वीडियो बताकर डाउनलोड तक करवा रहे हैं।

Akshara Singh Viral video:अक्षरा सिंह ने रोते हुए शेयर किया वीडियो, वायरल MMS पर तोड़ी चुप्पी? कह दी ये बड़ी बात

गौरतलब है कि एक्सपर्ट्स के अनुसार, अगर किसी के भी प्राइवेट वीडियो को शेयर किया जाता है या फिर उसे डाउनलोड करना का लिंक शेयर किया जाता है या फिर दिखा जाता है तो वो कानूनी रूप से सजा का पात्र होता है।

इस पर संबंधित व्यक्ति द्वारा उसके खिलाफ ऐक्शन भी लिया जा सकता है, जो यूट्यूबर्स और साइट के ओनर्स के लिए खतरे की घंटी है। अगर आपके द्वारा ऐसा किया जा रहा है तो आपको सावधान होने की जरूरत है, इससे पहले अभिनेत्री द्वारा कोई ऐक्शन लिया जाए।

Anjali Arora Viral MMS: अंजली अरोड़ा का MMS सोशल मीडिया पर वायरल, वीडियो देख लोगों के छूटे पसीने

Anjali Arora reaction On MMS: आए दिन सोशल मीडिया पर कुछ न कुछ वायरल होता रहता है। इसी के चलते हाल ही में कच्चा बादाम फेमस अंजलि अरोड़ा (Anjali Arora) का एक एमएमएस लीक होने की खबर सोशल मीडिया पर हवा की तरह फैली हुई थी।

वहीं, इसके बाद ही अंजलि अरोड़ा ने अपनी चुप्पी तोड़ लोगों को जवाब दिया था, उन्होंने कहा कि यह MMS मेरा नहीं था,

वह इसे देख काफी दुखी थी। वह रो रही थी कि इस सब का उनके घर-परिवार पर भी बहुत बुरा प्रभाव पड़ा था।

इसी के बीच अंजलि अरोड़ा ने एक बार फिर इसे लेकर कहा है कि अब उन्हें इस बात से कोई फ्रक नहीं पड़ता और जो लोग उनकी बराबरी नहीं कर पा रहे हैं, वे लोग उन्हें बदनाम करने का षड्यंत्र रच रहे हैं।

 अंजलि अरोड़ा (Anjali Arora On MMS) कहा कि देखो जिससे बराबरी नहीं हो पा रही है ना तो वह बदनामी शुरू कर ही देते हैं, लोगों को जो करना है करें, उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता है।

ये मशहूर सिंगर हर साल कराता है बेटी का वर्जिनिटी टैस्ट, आखिर क्या है वजह

हाल ही में अंजलि अरोड़ा ने सैयां नामक एक वीडियो भी वायरल हुआ था, जिसे लेकर वह काफी खुश थी। उनके रिलीज हुए गाने सैयां को एक करोड़ व्यूज भी मिले हैं। इसमें वो काफी खूबसूरत लग रही थी।  कच्चा बादाम फेमस अंजलि अरोड़ा लॉकअप सीजन वन में नजर आई थी और वे तीसरे नंबर पर रही थी। 

खुशखबरी! रिकॉर्ड तोड़ सस्ता हुआ LPG Cylinder – अब केवल 749 रुपए में मिलेगा सिलेंडर

अंजलि अरोड़ा सोशल मीडिया इनफ्लुएंसर हैं और उनके इंस्टा पर एक करोड़ 17 लाख फॉलोअर्स हैं। अंजलि अरोड़ा को कई बार अपने वीडियो के लिए ट्रोल भी किया जाता है। हालांकि इसका उन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।

Anjali Arora Leaked MMS : अंजली अरोड़ा ने MMS लीक मामले को लेकर दिया ये बयान ... कहा- मेरे पैरेंट्स और भाई...!

कच्च्चा बादाम की एक्ट्रेस Anjali Arora इन दिनों काफी सुर्खियों में है। दरअरसल, सोशल मीडिया पर एक एमएमएस जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें बाताया जा रहा है कि ये  Viral Video अंजली अरोड़ा है।

जिससे अंजली अरोड़ा काफी परेशान लग रही है और सोशल मीडिया पर एक्ट्रेस को काफी ट्रोल का सामना करना पड़ रहा है।

खबरो में दावा किया जा रहा है कि उनका कथित एमएमएस वीडियो लीक हो गया है, जो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

तमाम लोग ये भी दावा कर रहे हैं वीडियो में अंजलि ही दिखाई दे रही हैं। अब क्या है पूरा माजरा, आइए विस्तार से बताते हैं।

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो लीक हुआ, जिसे देखने के बाद कुछ ने ये कहा कि इसमें अंजलि अरोड़ा (Anjali Arora) हैं और कुछ ने ये दावा किया कि उसमें उनके जैसे दिखने वाली लड़की है।

इस मुद्दे पर अंजलि का भी अभी तक कोई रिएक्शन नहीं आया है। वैसे भी इस बात का कोई पुख्ता सबूत नहीं कि लीक हुए एमएमएस में अंजलि अरोड़ा ही हैं। इसलिए इस बात पर अभी कुछ भी दावे के साथ कहना गलत होगा।

 

बता दें कि अंजलि अरोड़ा को सोशल मीडिया के जरिए पॉप्युलैरिटी मिली थी। उन्होंने 'काचा बादाम' पर चंद सेकेंड डांस करके उपबल्धि हासिल की थी।

Amrapali Dubey से शादी कर दुखी दिखे Khesari Lal Yadav, एक्ट्रेस के चेहरे पर भी नजर आई मायूसी!

रातोंरात वह स्टार बन गई थीं। इंस्टाग्राम पर भी उनके 11 मिलियन से ज्यादा फॉलोवर्स हैं। इसके बाद उनको एकता कपूर के रियलिटी शो 'लॉक अप' में लाया गया।

यहां उनका और स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी का रिश्ता लोगो ने खूब पसंद किया और दोनों के नाम का एक हैशटैग भी बना दिया था।

एक बाार तो एक्ट्रेस ने मुनव्वर को प्रपोज भी कर दिया था। हालांकि शो के खत्म होने के बाद दोनों के रास्ते अलग-अलग हो गए थे।

अंजलि अरोड़ा फिलहाल डिजिटल क्रिएटर आकाश संस्सनवाल को डेट कर रही हैं। उन्होंने  एक इंटरव्यू में बताया था कि आकाश उनके लिए बहुत स्पेशल हैं।

उन दोनों का रिश्ता बहुत मजबूत है। उनके दिल में आकाश की जगह बहुत खास है लेकिन उनकी कोई सगाई नहीं हुई है। फिलहाल तो फैन्स अब एक ही इंतजार कर रहे हैं कि कब अंजलि को वह 'बिग बॉस ओटीटी' मं देख सकेंगे।

एक नए इंटरव्यू में इस कथित एमएमएस वीडियो के बारे में बात करते हुए अंजलि इमोशनल होकर रो पड़ीं। उन्होंने यह भी कहा कि ये पहली बार नहीं है जब ऐसा हुआ है और उनके पेरेंट्स पहले भी इसकी शिकायत कर चुके हैं।

सिद्धार्थ कन्नन से एक नई बातचीत में अंजलि ने इस विवादित वीडियो पर बात करते हुए कहा, 'मुझे नहीं पता कि ये क्या कर रहे हैं लोग। मेरा नाम लगाकर, मेरा फोटो लगाकर,

दुनिया के सामने बेटी और बेडरूम में पत्नी बनाकर रखते थे, एक्ट्रेस ने खोली महेश भट्ट के काली करतूतों का राज

कि ये अंजलि अरोड़ा का एमएमएस है, ये है वो है। मुझे नहीं पता ये क्यों कर रहे हैं। इन सभी ने तो मुझे बनाया है न. इनकी भी फैमिली है, मेरी भी फैमिली है...' ये बोलते हुए अंजलि रो पड़ीं।

 शराब पीकर प्रधानमंत्री ने किया जमकर डांस, वीडियो हुआ वायरल, मचा बवाल...

उन्होंने आगे कहा, 'कभी कभी मुझे लगता है कि ये लोग क्यों कर रहे हैं ऐसा। जिसमें मैं हूं ही नहीं उसको क्यों इतना फैला रहे हैं।

 यूट्यूब पर फालतू की चीजें व्यूज के लिए, कि अंजलि अरोड़ा का एमएमएस है, इसके साथ ये है वो है। यार मेरी भी तो फैमिली है, मेरा भाई है, मेरी बहन है। मेरे छोटे भाई हैं जो ये सब चीजें देखते हैं।' अंजलि ने कहा कि ये सब उन्हें बनाने वाले लोग ही ये सब करते हैं तो उन्हें बहुत दुख होता है। उन्होंने कहा, 'कहते हैं न कि जब किसी की बराबरी ना कर पाओ तो बदनाम कर दो।'

एक्सलेकिन वायरल हो रहे एमएमएस को लेकर एक्ट्रेस ने इस बात की पुष्टि की है। कि इस एमएमएस में वो नहीं है। पता नहीं क्यों लोग इसे फैला रहे है।

एक्ट्रेस ने कहा कि मुझे नहीं पता लोग ऐसा क्यों कर रहे है। मेरा नाम इस वीडियो में क्यों जोड़ा जा रहा है। मेरी कोई भी ऐसा एमएमएस नहीं लोग फालतू के इसे वायरल कर रहे है।

 मदिरा प्रेमियों के लिए खुशखबरी! सरकार खुद कर रही ज्यादा से ज्यादा शराब पीने की अपील

मेरा नाम लगाकर मेरा फोटो लगाकर पता नहीं लोग ये क्यों कर रहे है। मेरी फैमिली भी सारे वीडियो देखती है। मेरा छोटा भाई है, तो ये सब चीजे देखते है।

अंजली ने बताया कि वो जब लॉकअप से आई तो उन्हें ये सब पता चला। जिसके बाद उनके पापा ने पुलिस में इसकी शिकायत भी की है।

उन्होंने कहा कि मैंने आप लोगों का क्या बिगाड़ा है, मैंने क्या किया है? मैं तो वो हूं ही नहीं।

ऐसा काम करने से पहले लोग ये नहीं सोचते कि किसी के ऊपर या किसी के परिवार पर इसका क्या असर पड़ेगा।

आस्था के नाम पर Trishakar Madhu की अश्लीलता आई सामने, ऐसा किया डांस कि टूट गई... Viral हुआ Video...

Akshara Singh Viral video:अक्षरा सिंह ने रोते हुए शेयर किया वीडियो, वायरल MMS पर तोड़ी चुप्पी? कह दी ये बड़ी बात

भारत की 10 सबसे गंदी Web Series, जिसे देखकर बड़े-बड़े के छूट गए पसीने, कमरे की कुंडी लगाकर ही देखें

Monalisa को शादी के लाल जोड़े में देख उड़े Pawan Singh के होश, विडियो देख आप भी शर्म से हो जाएंगे पानी-पानी

वेब सीरीज की मशहूर एक्ट्रेस का MMS हुआ वायरल, कभी Tik Tok पर बिखेरती थी जलवे

Pawan Singh और Monalisa के सुहागरात का Video Viral, Video

Raju Srivastava Death: नहीं रहे मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव! महीनों से थे एम्स में भर्ती...

raju srivastav deathnews

Raju Srivastava Death:  कॉमेडी के दुनिया के सबसे फेमस और इंडिया के बेस्ट कॉमेडियन में से एक राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastava) अब इस दुनिया में नहीं रहे। 

उन्होंने बुधवार को दिल्ली के एम्स में आखिरी सांस ली। 10 अगस्त को जिम में वर्कआउट करने के दौरान राजू श्रीवास्तव को हार्ट अटैक आया था जिसके बाद उन्हें तुरंत दिल्ली के एम्स (AIIMS)  हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया।

 जिंदगी और मौत के बीच 40 दिनों की लंबी लड़ाई लड़ने के बाद आज कॉमेडियन का निधन हो गया। 

  Gold Price Today: सोने चांदी की कीमत में उछाल, जानिए क्या है आज सोने-चांदी का भाव!

बता दें कि हॉस्पिटल में एडमिट करवाने के बाद से ही राजू श्रीवास्तव की हालत नाजुक बनी हई थी। 

कॉमेडियन को पहले आईसीयू में एडमिट करवाया गया था, लेकिन तबीयत में कोई सुधार ना होने के बाद उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट कर दिया गया। 

 बड़ी खबर: क्रिकेट के मैदान में अब 11 नहीं बल्कि 15 खिलाड़ी के साथ उतरेंगी टीमें! BCCI लेकर आ रहा नया नियम

भरपूर कोशिश के बाद भी डॉक्टर्स राजू श्रीवास्तव को बचा नहीं पाए और सबको हंसाने वाले कॉमेडियन सबको रुलाकर हमेशा के लिए इस दुनिया से चले गए।

10 अगस्त से वेंटिलेटर पर थे

कॉमेडियन को 10 अगस्त को सुबह हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उन्हें दिल्ली के AIIMS में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने उनके सिर का सीटी स्कैन कराया तो दिमाग के एक हिस्से में सूजन मिली थी।

15 दिन बाद जानकारी मिली कि उन्होंने अपना एक पैर मोड़ा था, लेकिन उन्हें होश नहीं आया और उनका ब्रेन भी रिस्पॉन्स नहीं कर रहा था।

 School Holiday in October 2022: अक्टूबर में छुट्टी ही छुट्टी, खबर देख बनाएं टूर की प्लानिंग  

AIIMS में राजू की एंजियोप्लास्टी की गई थी, जिसमें हार्ट के एक बड़े हिस्से में 100% ब्लॉकेज मिला था। राजू के परिवार में उनकी पत्नी शिखा, बेटी अंतरा, बेटा आयुष्मान, बडे़ भाई सीपी श्रीवास्तव, छोटे भाई दीपू श्रीवास्तव, भतीजे मयंक और मृदुल हैं।

राजू ने 2014 में BJP जॉइन की थी। वे काम के सिलसिले में दिल्ली पार्टी के कुछ बड़े नेताओं से मिलने के लिए दिल्ली पहुंचे थे। वह दिल्ली के साउथ एक्स के कल्ट जिम में 10 अगस्त की सुबह वर्क आउट कर रहे थे। इस दौरान ट्रेडमिल पर रनिंग करते समय उन्हें चेस्ट में पेन हुआ और वे नीचे गिर गए थे।

इसके बाद उन्हें फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया। राजू हमेशा अपनी फिटनेस पर ध्यान रखते थे और वह फिट और फाइन थे। 31 जुलाई तक वो लगातार शोज कर रहे थे, उनके आगे कई शहरों में शोज भी लाइन अप थे।

मदिरा प्रेमियों के लिए बुरी खबर! ये खबर तोड़ देगा शराब प्रेमियों का दिल

कानपुर से तय किया था मुंबई का सफर

राजू श्रीवास्तव का असली नाम सत्य प्रकाश श्रीवास्तव है। उनका जन्म 25 दिसंबर 1963 को कानपुर के नयापुरवा में हुआ था। उन्होंने 1993 में हास्य की दुनिया में कदम रखा। 1980 में वे कानपुर से मुंबई के लिए भागे थे।

अपने घर की दीवार फांदकर पड़ोसी के घर में कूदे और वहां से सीधे मुंबई भाग गए। उनके पड़ोसियों ने बताया कि चिल्लाते हुए गए थे कि अब नाम कमाकर ही लौटूंगा।

राजू के पीआरओ गर्वित नारंग ने बताया," "राजू श्रीवास्तव दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मुलाकात करने के लिए आए थे। उनकी मुलाकात का समय तय था। वो होटल में रुके थे। कमरे में कुछ देर रुकने के बाद बुधवार सुबह वे जिम करने चले गए। वहीं पर हार्ट अटैक आया।

वाराणसी में संपूर्णानंद विश्वविद्यालय के खेल मैदान को बना दिया खेत, बागेश्वर बाबा के कथा की व्यवस्था की शिकायत राजभवन तक पहुंची

उसी दिन शाम को डॉक्टरों ने उनकी एंजियोप्लास्टी की, लेकिन उनका ब्रेन रिस्पांस नहीं कर रहा था। पल्स भी 60-65 के बीच था।"

राजू का हाल जानने के लिए कानपुर से पूर्व विधायक सतीश निगम भी एम्स पहुंचे थे। उन्नाव सदर से विधायक पंकज गुप्ता ने फोन पर उनका हालचाल लिया। PMO और मुख्यमंत्री ऑफिस से लगातार उनका अपडेट लिया जा रहा था।

राजू श्रीवास्तव ने कुल 16 फिल्मों और 14 टीवी शो में काम किया था।

अमिताभ बच्चन यानी बिग बी ने राजू श्रीवास्तव को खास ऑडियो संदेश भेजा था। इसमें अमिताभ कह रहे हैं- राजू उठो, बस बहुत हुआ, अभी बहुत काम करना है। अब उठ जाओ... हम सबको हंसना सिखाते रहा।" राजू को ये रिकॉर्डिंग सुनाई गई थी।

राजू के भाई और कॉमेडियन दीपू श्रीवास्तव ने बताया, "भइया की रिकवरी स्लो थी। इसलिए भइया को परिवार के रिकॉर्डेड ऑडियो मैसेज सुनाए गए। उनको गजोधर और संकठा के किस्से भी, उनकी ही आवाज में सुनाए गए थे।

राजू श्रीवास्तव लाफ्टर चैलेंज  शो के जरिए काफी मशहूर हुए थे।

राजू श्रीवास्तव 10 साल में तीन बार एंजियोप्लास्टी करा चुके हैं। उन्होंने पहली बार 10 साल पहले मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी हॉस्पिटल में और 7 साल पहले मुंबई के लीलावती हॉस्पिटल में एंजियोप्लास्टी कराई थी। इसके बाद बुधवार को तीसरी बार डॉक्टरों ने राजू श्रीवास्तव की एंजियोप्लास्टी की।

राजू श्रीवास्तव का जन्म कानपुर की एक मिडिल क्लास फैमिली में हुआ था। बचपन में इन्हें सत्य प्रकाश नाम मिला था, जो आगे जाकर राजू श्रीवास्तव बन गए।

इनके पिता रमेश चंद्र श्रीवास्तव एक सरकारी कर्मचारी थे और शौकिया तौर पर कविताएं लिखा करते थे। छुट्टियों में पिता कवि सम्मेलन का हिस्सा बना करते थे, जिन्हें बलाई काका नाम से पहचाना जाता था।

पिता से राजू को भी लोगों का मनोरंजन करने का गुर विरासत में मिला। बचपन से ही राजू घर आए मेहमानों के सामने मिमिक्री करते और स्कूल में टीचर की भी नकल उतारकर लोगों को खूब हंसाते।

कई टीचर उन्हें बद्तमीज कहते हुए सजा देते थे, लेकिन एक टीचर ऐसे भी थे जो इन्हें बढ़ावा दिया और कॉमेडी में करियर बनाने की सलाह दी।

लोगों ने राजू को लोकल क्रिकेट मैच में कमेंट्री करने की सलाह दी। इससे ये अपने हुनर को कॉन्फिडेंट के साथ लोगों के सामने पेश करने लगे। ये बचपन से ही कॉमेडियन बनना चाहते थे, लेकिन असल में इनकी प्रेरणा अमिताभ बच्चन थे।

बिग बी की फिल्म दीवार देखने के बाद राजू ने एक्टर बनने का फैसला किया

राजू बचपन से ही एक्टिंग और कॉमेडी में हाथ आजमाना चाहते थे, जिसके लिए वो 1982 में लखनऊ छोड़कर सपनों के शहर मुंबई चले आए। यहां ना रहने को घर था ना खाने के पैसे। घर से भेजे गए पैसे जब कम पड़ने लगे तो राजू ऑटो ड्राइवर बन गए। राजू अपनी सवारी को भी हंसाते थे। मुंबई में राजू को करीब 4-5 सालों तक संघर्ष करना पड़ा था।

एक दिन एक सवारी ने राजू के स्टाइल से इंप्रेस होकर उन्हें स्टेज परफॉर्मेंस देने को कहा। राजू मान गए और परफॉर्मेंस दी, जिसके लिए सिर्फ 50 रुपए मिले थे। इसके बाद राजू लगातार स्टेज शो करने लगे।

स्टेज शो करते हुए राजू श्रीवास्तव अमिताभ बच्चन की भी नकल उतारा करते थे। यहीं से लोगों ने उनके लुक की तुलना अमिताभ बच्चन से करना शुरू कर दी।

स्टेज शो करते हुए इंडस्ट्री के लोगों से जान-पहचान बढ़ी तो इन्हें फिल्मों में छोटे-मोटे रोल भी मिलने लगे। राजू पहली बार 1988 की फिल्म तेजाब में नजर आए। आगे उन्होंने करीब 19 फिल्मों में काम किया।

कॉमेडियन बनने का सफर

राजू श्रीवास्तव सबसे पहले साल 1994 के शो टी टाइम मनोरंजन में नजर आए थे। इसके बाद उन्होंने द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज के पहले सीजन में पार्टिसिपेट किया। इस शो में राजू ने तीसरा स्थान हासिल किया,

जिससे इन्हें देशभर में पहचान मिल गई। इसके बाद राजू कॉमेडी का महा मुकाबला, कॉमेडी सर्कस, देख भाई देख, लाफ इंडिया लाफ, कॉमेडी नाइट विद कपिल, द कपिल शर्मा शो और गैंग्स ऑफ हसीपुर जैसे शोज का हिस्सा रहे।

विवादों और सुर्खियों से भी घिरे रहे हैं राजू श्रीवास्तव

राजू श्रीवास्तव ने साल 2009 में रियलिटी शो बिग बॉस 3 में हिस्सा लिया था। शो में राजू श्रीवास्तव का कमाल राशिद खान से जोरदार झगड़ा खूब सुर्खियों में था।

दरअसल, जब केआरके का रोहित वर्मा से झगड़ा हुआ तो उन्होंने गुस्से में उन पर बोतल फेंक दी। बोतल जाकर शमिता शेट्टी को लगी, जिससे घर दो पक्षों में बंट गया। राजू श्रीवास्तव ने केआरके को खूब बातें सुनाई तो बात और बढ़ गई।

राजू ने केआरके से कहा था, तुम बता रहे हो करोड़ों कमाते हो, मैं लाखों रुपए डोनेट कर देता हूं, जिसकी बराबरी का तुम सोच भी नहीं सकते।

स्से में केआरके ने राजू को भद्दी गालियां देनी शुरू कर दी। दोनों के बीच जमकर गाली-गलौज हुई और दोनों मारपीट को उतारू हो गए। इस्माइल दरबार ने बीच-बचाव कर दोनों को अलग किया।

बिग बॉस 2009 के दौरान कमाल आर. खान और राजू श्रीवास्तव। इस शो पर दोनों का खूब झगड़ा हुआ था।

साल 2010 में राजू श्रीवास्तव को पाकिस्तान से धमकी भरे कॉल आए थे। धमकी में उन्हें अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कर जोक क्रेक ना करने की चेतावनी दी गई थी।

बिग बॉस 11 में परफॉर्म करने पहुंचे राजू श्रीवास्तव, एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी पर भद्दा कमेंट कर विवादों से घिर गए थे। उन्होंने कहा था, अगर शिल्पा को मां बनने के लिए उतावली थीं, तो उन्हें पता होना चाहिए था कि शक्ति कपूर उनके घर के बाहर ही खड़े थे।

उनके इस बयान से विवाद इतना बढ़ा कि राजू को माफी मांगनी पड़ी। राजू ने माफी में कहा, मेरे डायलॉग को चैनल द्वारा गलत तरीके से दर्शाया गया है। मैंने फिल्म पर डायलॉग मारा था। मैं कलर्स चैनल से नाराज हूं।

समाजवादी पार्टी कि टिकट लौटाकर बटोरी सुर्खियां

भाजपा ज्वाइन करने से पहले साल 2014 में राजू श्रीवास्तव को समाजवादी पार्टी की तरफ से लोकसभा चुनाव का टिकट मिला था, लेकिन उन्होंने कुछ समय बाद ही टिकट लौटा दिया। राजू ने कहा कि उन्हें लोकल पार्टी यूनिट से सपोर्ट नहीं मिला। इसके बाद इसी साल राजू भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए।

भाजपा ज्वाइन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ राजू श्रीवास्तव।

राजू श्रीवास्तव ने 1993 में शिखा से शादी की थी, जिससे उन्हें दो बच्चे अंतरा और आयुष्मान हैं। इनकी एक बहन और 5 भाई हैं।

पीएफआई PFI के 2 कार्यकर्ता हिरासत में वाराणसी में यूपी एटीएस ATS ने मारा छापा की जा रही है पूछताछ

एंटी टेररिस्ट स्क्वाड (ATS) ने गुरुवार की सुबह वाराणसी में छापा मार पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के दो कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है। दोनों से फिलहाल गुप्त स्थान पर पूछताछ जारी है।

पूछताछ में सामने आए तथ्यों के आधार पर कार्रवाई करते हुए उन्हें लखनऊ ले जाया जाएगा। वहीं, इस संबंध में पूछे जाने पर फिलहाल ATS के अफसरों ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है।

नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने गुरुवार सुबह देश के 10 राज्यों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के ठिकानों में छापेमारी की। उत्तर प्रदेश में छापेमारी में NIA का सहयोग ATS भी कर रही है।

ATS के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार वाराणसी के जैतपुरा और आदमपुर क्षेत्र में रहने वाले पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के दो कार्यकर्ताओं को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है।

पूछताछ की प्रक्रिया पूरी कर दोनों के खिलाफ कार्रवाई के संबंध में ATS के आला अफसर निर्णय लेंगे।

श्रृंगार गौरी केस की सुनवाई पर जताई थी नाराजगी

बीती 12 सितंबर को वाराणसी के जिला जज की कोर्ट ने आदेश दिया था कि ज्ञानवापी-श्रृंगार गौरी केस की सुनवाई जारी रहेगी। इसे लेकर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के चेयरमैन ओएमए सलाम ने बयान जारी कर कहा था,

 कि ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर रोजाना पूजा के लिए दी गई हिंदू श्रद्धालुओं की याचिका को बरकरार रखने के वाराणसी जिला जज के फैसले से अल्पसंख्यक वर्ग के अधिकारों पर फासीवादी हमलों को और ज्यादा मजबूती मिलेगी।

हम हाईकोर्ट में इस आदेश को चैलेंज करने के मसाजिद कमेटी के फैसले के साथ खड़े हैं।

वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट के शिवपुर और मंडुवाडीह थाने में साइबर क्राइम के दो मुकदमे दर्ज किए गए हैं। शिवपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराने वाले डॉक्टर के अनुसार उन्हें एक महिला वीडियो कॉल कर अश्लील हरकत की।

फोन काटने पर उन्हें ब्लैकमेल कर साइबर क्रिमिनल अब तक 6.78 रुपए ऐंठ चुके हैं। वहीं, बनारस रेल इंजन कारखाना (BLW) की महाप्रबंधक की फर्जी वॉट्स ऐप आईडी बना कर कर्मचारियों से पैसे मांगने का प्रयास किया गया।

साइबर क्राइम कमिश्नर बता कर धमकाया

भरलाई स्थित सिद्धि विनायक अपार्टमेंट में डॉ. सुधीर सिंह रहते हैं। डॉ. सुधीर के अनुसार, उनके पास बीती 17 सितंबर को एक वीडियो कॉल आई थी। उन्होंने कॉल रिसीव की तो एक महिला अश्लील हरकत करने लगी।

इस पर उन्होंने तत्काल कॉल कट कर दी। उसके बाद राकेश अस्थाना नाम के एक शख्स ने कॉल कर कहा कि साइबर क्राइम का कमिश्नर बोल रहा हूं। यदि तुम पैसा नहीं दोगे तो तुम्हारा अश्लील वीडियो यू-ट्यूब पर वायरल कर दूंगा।

राकेश अस्थाना की धमकी से डर कर उन्होंने निलेश दिगंबर नाम के शख्स के बैंक खाते में 6.78 लाख रुपए ट्रांसफर किए। इसके बाद राकेश और निलेश फिर पैसा मांगने लगे। डॉ. सुधीर की तहरीर पर राकेश और निलेश के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

फर्जी वाट्स ऐप आईडी बनाई

BLW की महाप्रबंधक अंजली गोयल के अनुसार, किसी ने उनके नाम से फर्जी वाट्स ऐप आईडी बना ली है। फर्जी वाट्स ऐप आईडी मोबाइल नंबर 9372451601 से बनाई गई है।

उस फर्जी आईडी से BLW के कर्मचारियों को पैसे मांगने की बात सामने आई है। प्रकरण को लेकर मंडुवाडीह थाने में मुकदमा दर्ज कराने के साथ ही साइबर क्राइम सेल को भी सूचना दी गई है।

पीएफआई PFI के 2 कार्यकर्ता हिरासत में वाराणसी में यूपी एटीएस ATS ने मारा छापा की जा रही है पूछताछ

एंटी टेररिस्ट स्क्वाड (ATS) ने गुरुवार की सुबह वाराणसी में छापा मार पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के दो कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है। दोनों से फिलहाल गुप्त स्थान पर पूछताछ जारी है।

पूछताछ में सामने आए तथ्यों के आधार पर कार्रवाई करते हुए उन्हें लखनऊ ले जाया जाएगा। वहीं, इस संबंध में पूछे जाने पर फिलहाल ATS के अफसरों ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है।

नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने गुरुवार सुबह देश के 10 राज्यों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के ठिकानों में छापेमारी की। उत्तर प्रदेश में छापेमारी में NIA का सहयोग ATS भी कर रही है।

ATS के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार वाराणसी के जैतपुरा और आदमपुर क्षेत्र में रहने वाले पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के दो कार्यकर्ताओं को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है।

पूछताछ की प्रक्रिया पूरी कर दोनों के खिलाफ कार्रवाई के संबंध में ATS के आला अफसर निर्णय लेंगे।

श्रृंगार गौरी केस की सुनवाई पर जताई थी नाराजगी

बीती 12 सितंबर को वाराणसी के जिला जज की कोर्ट ने आदेश दिया था कि ज्ञानवापी-श्रृंगार गौरी केस की सुनवाई जारी रहेगी। इसे लेकर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के चेयरमैन ओएमए सलाम ने बयान जारी कर कहा था,

 कि ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर रोजाना पूजा के लिए दी गई हिंदू श्रद्धालुओं की याचिका को बरकरार रखने के वाराणसी जिला जज के फैसले से अल्पसंख्यक वर्ग के अधिकारों पर फासीवादी हमलों को और ज्यादा मजबूती मिलेगी।

Share this story