×
Mangaluru Blast:देश में इस्लामिक स्टेट का बेस बनाना चाहते थे आरोपी
Mangaluru Blast: देश में इस्लामिक स्टेट का बेस बनाना चाहते थे आरोपी

मंगलुरु विस्फोट का आरोपी कर रहा था देश के खिलाफ षड्यंत्र घर से मिला बम बनाने का सामान, पुलिस हर बात की कर रही जांच पुलिस बोली- आरोपी शारिक बहुत बड़ा नुकसान पहुंचाना चाहता था।

 

मंगलुरु: पुलिस को उस घर से बम बनाने की सामग्री मिली है, जहां मंगलुरु विस्फोट का आरोपी मोहम्मद शारिक मैसूर में किराए पर रहता था।अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) आलोक कुमार ने बताया कि शारिक अंतरराष्ट्रीय (आतंकवादी) संगठनों से ‘‘प्रभावित’’ था।

 

दादाजी को गाली देकर यात्रा हिट करा रहे राहुल : सावरकर के पोते रणजीत बोले

 

शिवमोगा जिले का निवासी शारिक (24) कुकर में ‘आईईडी’ बनाने की कोशिश कर रहा था, जब तटीय शहर में शनिवार को उसमें विस्फोट हो गया।हादसे में वह झुलस गया। उसका शहर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है।

 

इसके अलावा पुलिस को यह पता चला है कि आरोपी और उसके साथी देश में एक इस्लामिक स्टेट बेस स्थापित करने की योजना बना रहे थे। वह देश में ‘‘एक खिलाफत स्थापित करना’’ चाहते थे।

 

Bangladesh news: बांग्लादेशी सेना और उग्रवादी संगठन के बीच मुठभेड़, 200 से ज्यादा लोगों ने भारत में ली शरण

 

कुमार ने कहा, ‘‘ हमारी प्राथमिकता उसे बचाना है ताकि हम उससे पूछताछ कर सकें।’’ पुलिस ने इस विस्फोट को ‘‘ आतंकवाद का एक कृत्य करार दिया है, जिसके पीछे की मंशा गंभीर नुकसान पहुंचाने की थी।’’

Sunita Baby ने सर्दियों में अपनी हॉटनेस से ताऊ को करवाया गर्मी का एहसास, Video Viral...

कुमार ने कहा, ‘‘ हमें आरोपी के घर से बम बनाने में इस्तेमाल किए जाने वाले अमोनियम नाइट्रेट, नट, बोल्ट आदि अन्य सामग्री मिली है, जहां वह (किराए पर) रहता था।’’

पुलिस सात स्थानों पर तलाशी अभियान चला रही है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि शारिक के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जा रहा है।

पाकिस्तान: 'हक दो' आंदोलन, ग्वादर बंदरगाह जाने वाला हाईवे जाम

देश के खिलाफ षड्यंत्र रच रहे थे आरोपी


शिवमोगा के जिला मुख्यालय शहर में 15 अगस्त को एक सार्वजनिक स्थान पर हिंदुत्व विचारक विनायक दामोदर सावरकर की तस्वीर लगाने को लेकर हुई सांप्रदायिक झड़प के मामले में भी शारिक का नाम सामने आया था।

अमेरिका के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय ने सिख छात्रों के संबंध में लिया बड़ा फैसला

इस मामले में पुलिस ने मोहम्मद जबीहुल्ला उर्फ चारबी, सैयद यासीन और माज मुनीर अहमद को गिरफ्तार किया था जबकि शारिक फरार था। यासिन और माज ने पुलिस को बताया था कि शारिक ने उन्हें ‘‘बरगलाया’’ था।

Varanasi latest news: वाराणसी में दरोगा को गोली मारने वाले दो बदमाशों को पुलिस ने उतारा मौत के घाट, दोनो थे सगे भाई

ये लोग देश में एक इस्लामिक स्टेट बेस स्थापित करने की योजना बना रहे थे और देश में ‘‘एक खिलाफत स्थापित करना’’ चाहते थे। कुमार ने बताया कि शारिक मंगलुरु में आपत्तिजनक भित्तिचित्र बनाने के मामले में भी शामिल था।

यह भी पढ़े:

Varanasi news: दिल्ली जा रहे यात्री के पास मिला कारतूस, बाबतपुर एयरपोर्ट से भेजा गया जेल

वाराणसी एयरपोर्ट के सिक्योरिटी हेल्ड एरिया में चेकिंग के दौरान एक यात्री के बैग से कारतूस बरामद हुआ।

वाराणसी: के बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्त्री इंटरनेशनल एयरपोर्ट के सिक्योरिटी हेल्ड एरिया में शनिवार देर रात चेकिंग के दौरान एक यात्री के बैग से कारतूस बरामद हुआ।

सीआईएसएफ ने उसे यात्रा करने से रोक दिया और पुलिस को सौंप दिया। आर्म्स एक्ट में कारवाई करते हुए यात्री को जेल भेज दिया गया।

यात्री की पहचान  छितेंद्र चंद्रमोहन निवासी सिरकुट हरिद्वार के तौर पर हुई। वह शनिवार देर रात इंडिगो के विमान से दिल्ली जाने के लिए पहुंचा था।

दादाजी को गाली देकर यात्रा हिट करा रहे राहुल : सावरकर के पोते रणजीत बोले

सिक्योरिटी हेल्ड एरिया में सीआईएसएफ बैग से एक जिंदा कारतूस बरामद किया। यात्रा करने से रोके जाने पर छितेंद्र ने पुलिस और सीआईएसएफ के जवानों से  कहासुनी की।

Sunita Baby ने सर्दियों में अपनी हॉटनेस से ताऊ को करवाया गर्मी का एहसास, Video Viral...

हालांकि उसकी एक नहीं सुनी गई और पुलिस ने बरामद कारतूस जब्त कर लिया। आर्म्स एक्ट में मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया।

E Shram Card Payment List: ई श्रम कार्ड धारकों को अब इस तरह मिलेगा पैसा, हुआ बड़ा बदलाव, यहाँ देखे लिस्ट...

एसओ फूलपुर ने बताया कि यात्री के पास से कारतूस बरामद किया गया था। उसके पास कारतूस से संबंधित कागज नहीं था। उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। 

Share this story