चंदौली की नई जिलाधिकारी ईशा दुहन, एक लाठी लेकर खनन माफियाओं से लोहा लेने वाली ईशा दुहन कैसे बने लेडी सिंघम
chandauli news

चंदौली। ईशा दुहन ने आईएएस 2014 बैच में ऑल इंडि‍या में 59 रैंक हासिल की थी। मूल रूप से हरियाणा के पंचकूला की निवासी हैं। बॉयो टेक्‍नॉलॉजी में ग्रेजुएट IAS ईशा दुहन अपने पापा ईश्‍वर सिंह दुहन से काफी प्रभावित हैं। ईश्‍वर सिंह दुहन आईटीबीपी में डीआईजी पद पर तैनात थे।

 

 बड़ी खबर: क्रिकेट के मैदान में अब 11 नहीं बल्कि 15 खिलाड़ी के साथ उतरेंगी टीमें! BCCI लेकर आ रहा नया नियम

 

ईशा दुहन वाराणसी के राजातलाब तहसील की एसडीएम रह चुकी हैं। इस दौरान उन्होंने खनन माफियाओं पर प्रभावी कार्रवाई की थी। रोहनिया में साल 2017 में बिना फ़ोर्स के ही खनन माफियाओं पर छापेमारी की थी और ग्रामीणों की मदद से उन्हें पकड़वाया भी था।

 

 

 

  ​सेंट्रल रेलवे में निकली टीचर के इतने पदों पर भर्ती, इस दिन होगा इंटरव्यू

 

इसके अलावा राजातलाब तहसील में एसडीएम पद के दौरान एक व्यक्ति द्वारा पान खाकर उनके कक्ष में घुसना उसे भारी पड़ गया था। आईएएस ईशा दुहन ने उसे फटकारते हुए उसपर 500 रुपये का जुर्माना भी लगाया था।

 

 

बड़ी खुशखबरी! राशन कार्ड धारकों को मुफ्त में मिलेगा राशन, खाद्य सचिव ने दी अहम जानकारी

 

ग्रामीणों के सहयोग से कुछ भू माफियाओं को पकड़ा भी था। इसके अलावा इन्होंने चौरहट, कटेसर, पथरा में भी अवैध निर्माण के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई कर चुकी हैं। अब उन्हें जिलाधिकारी के रूप में जिम्मेदारी मिली है।

 School Holiday in October 2022: अक्टूबर में छुट्टी ही छुट्टी, खबर देख बनाएं टूर की प्लानिंग  

पहली पोस्टिंग धान के कटोरे में होने के बाद चर्चा यह है कि अब और तेजी से विकास का पहिया घूमेगा। साथ ही भ्रष्टचार व अवैध धंधों पर रोक लगेगी। डीएम बनने के बाद तो भू माफियाओं में खलबली भी है। कारण यह है कि जिले में युद्धस्तर से अवैध कालोनी बसाने का काम चलता है।


मदिरा प्रेमियों के लिए बुरी खबर! ये खबर तोड़ देगा शराब प्रेमियों का दिल

 

 

Petrol-Diesel Price Today:जनता के लिए बड़ी खुशखबरी! कम होंगे डीजल पेट्रोल के दाम ?

आपको बता दें कि ईशा दुहन एक जनप्रिय और दंबग अफसर हैं। वर्ष 2017 मेें ईशा दुहन राजातालाब की एसडीएम थीं।  फिर उसके बाद वो वाराणसी विकास प्राधिकरण में उपाध्यक्ष के पद पर आयीं और वाराणसी विकास प्राधिकरण को डिजिटल क्रांति से जोड़ने की पहल भी इन्होंने की।

Today Gold Price : सोने के दाम में भारी गिरावट, जानिए क्या है सोने का आज का रेट!

सारे डॉक्युमेंट्स को ऑनलाइन अपलोड कराया और विकास प्राधिकरण में रहने के दौरान भ्रष्टाचार की शिकायत पर कई अधिकारियों पर गाज भी गिराई।

अब ईशा दुहन को पहली बार चन्दौली में जिलाधिकारी के पद पर नियुक्त किया गया है।अब देखना यह होगा कि वो कैसे चन्दौली को भ्रष्ट अधिकारियों से मुक्त करेंगी और कैसे जनता की समस्याओं का निस्तारण करेंगी।

वाराणसी में संपूर्णानंद विश्वविद्यालय के खेल मैदान को बना दिया खेत, बागेश्वर बाबा के कथा की व्यवस्था की शिकायत राजभवन तक पहुंची

Share this story