Remove facial hair: चेहरे पर बढ़ रहे हैं बाल से अगर आप भी हैं, परेशान तो करें ये काम!
Chehre ke Baal Hatane ka Tarika |

शरीर और चेहरे पर बाल होना नॉर्मल हैं लेकिन यह अत्यधिक बालों का चेहरे पर होना हमे असहज कर देते हैं। आमतौर पर  ये बहुत महीन और हल्के रंग के होते हैं। यदि यह मोटे और काले हो जाते हैं तो यह शर्मनाक हो सकता है और आप इसे हटाने के तरीके ढूंढ सकती हैं। एक महिला के चेहरे में बालों का अत्यधिक बढ़ना हिर्सुटिज़्म नामक कंडीशन के परिणामस्वरूप होता है।

 

 

बालों के पैटर्न में वृद्धि बिल्कुल एक वयस्क पुरुष के समान होती है। जिन एरिया में बालों का असामान्य विकास दिखाई देती है, वे चेस्‍ट, होंठों के ऊपर, चिन और गाल आदि हैं। ये बाल काले होते हैं लेकिन प्रकृति से फाइन होते हैं। उन्हें आमतौर पर पीच फ़ज़ (peach fuzz) के रूप में जाना जाता है।

क्या आपके चेहरे पर भी बाल हैं? तो आइए चेहरे पर बाल आने के 5 कारणों और समस्‍या से छुटकारा पाने वाले उपायों के बारे में विस्‍तार से आर्टिकल के माध्‍यम से जान लेते हैं। इसकी जानकारी हमें डाइटीशियन मनप्रीत जी के इंस्टाग्राम अकाउंट को देखने के बाद मिली है। 

 

 एण्ड्रोजन का हाई लेवल (Elevated levels of Androgens)

हालांकि, एण्ड्रोजन एक पुरुष हार्मोन है, यह महिलाओं में भी कम मात्रा में मौजूद होता है। चेहरे के बालों का बढ़ना और कुछ नहीं, बल्कि एक महिला में एण्ड्रोजन का अचानक बढ़ना है। यहां तक कि बर्थ कंट्रोल पिल्‍स भी शरीर में एण्ड्रोजन के उत्पादन को बढ़ा सकती हैं। इन मामलों में, चिकित्सा सलाह लेना बहुत महत्वपूर्ण है।

 

टेस्टोस्टेरोन का बढ़ा हुआ लेवल  (Increased Testosterone levels)

पुरुष हार्मोन को एण्ड्रोजन कहा जाता है, जिनमें से सबसे फेमस टेस्टोस्टेरोन है। पुरुषों में, टेस्टोस्टेरोन आवाज को गहरा करने और स्‍पर्म के उत्पादन में शामिल होता है।

सभी महिलाओं की बॉडी कुछ टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन करती हैं, लेकिन सामान्य से अधिक लेवल आपकी सेक्स ड्राइव को बढ़ा सकता है, आपके पीरियड्स को प्रभावित कर सकता है और चेहरे और शरीर पर अतिरिक्त बाल पैदा कर सकता है।

 

 

 पीसीओएस (PCOS)

प्रीमेनोपॉज़ल महिलाओं में पुरुष सेक्स हार्मोन के हाई लेवल के मुख्य कारणों में से एक पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) है, जो एक नार्मल कंडीशन है जिसके कारण ओवरीज के किनारे के आसपास सिस्ट विकसित होते हैं। एक्‍स्‍ट्रा बालों के विकास के साथ, पीसीओएस वाली महिलाओं का वजन बढ़ सकता है और अनियमित पीरियड्स और मुंहासे हो सकते हैं।

अंडर एक्टिव थायरॉयड ग्लैंड  (Under-Active Thyroid gland)

थायरॉयड एक हार्मोन-उत्पादक ग्‍लैंड है, जो शरीर की एनर्जी, ऑक्सीजन और गर्मी के उत्पादन के उपयोग की निगरानी करता है। यह पिट्यूटरी ग्‍लैंड द्वारा प्रबंधित किया जाता है, हाइपरथायरायडिज्म महिलाओं की तुलना में पुरुषों में 10 गुना अधिक आम है और आमतौर पर 20 और 40 की उम्र के बीच होता है। एक अति एक्टिव पिट्यूटरी ग्‍लैंड भी बालों की एक्‍स्‍ट्रा ग्रोथ का कारण बन सकता है।

 एड्रेनल हाइपरप्लासिया  (Adrenal Hyperplasia)

असामान्य हार्मोन उत्पादन से हिर्सुटिज़्म हो सकता है। कई मामलों में, ऐसी कंडीशन्‍स  होती हैं जहां महिलाएं पुरुष हार्मोन का उत्पादन करना शुरू कर देती हैं, जिससे चेहरे पर असामान्य बाल उग आते हैं।

चेहरे के बालों के बढ़ने के सबसे आम कारणों में से एक पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम (पीओएस) है। यह फिर से एक हार्मोनल असंतुलन है जिससे चेहरे के बाल उगते हैं। यहां तक कि कुशिंग सिंड्रोम, एड्रेनल कैंसर और जन्मजात एड्रेनल हाइपरप्लासिया जैसे एड्रेनल ग्‍लैंड संबंधी विकार भी एक्‍स्‍ट्रा बाल पैदा कर सकते हैं।

चेहरे के अनचाहे बालों से मिनटों में पाये छुटकारा, अपनाएं ये घरेलू नुस्खे...

पपीता और हल्दी मास्क

इस पैक के लिए पपीता और हल्दी पाउडर की जरूरत होती है। यह घरेलू उपाय आपकी त्वचा की रंगत और टेक्स्चर को बेहतर बनाता है। पपीते में पपैन एंजाइम होता है जो बालों के रोमछिद्र को खोल देता है और नतीजतन बाल गिर जाते हैं।

एक चौथाई पपीते को मैश करें, आधा चम्मच हल्दी पाउडर और तीन बड़े चम्मच एलोवेरा जेल के साथ मिलाकर एक पेस्ट बनाएं। इसे सीधे अनचाहे बालों पर लगाएं और 20 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। इसे उतारने के लिए बालों की वृद्धि के विपरीत दिशा में धीरे से हटाना शुरू करें और शेष को गुनगुने पानी से धो लें।

ओटमील और केला


चेहरे के अनचाहे बालों से छुटकारा पाने के लिए सबसे पहले एक केले को छीलकर उसमें 3 चम्मच ओटमील मिलाकर चेहरे पर सर्कुलर मोशन में 15 से 20 मिनट तक लगाएं। बेहतर रिजल्ट के लिए इसे हफ्ते में 2 बार इस्तेमाल करें। 

गेहूं का आटा


1 चम्मच गेहूं का आटा लेकर उसमें आधा चम्मच मुलेठी पाउडर, 2 चुटकी हल्दी और सरसों के तेल की कुछ बूंदे डालें। आप चाहे तो सरसों के तेल की जगह नारियल या ऑलिव तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अब इसमें थोड़ा-थोड़ा करके पानी मिलाते जाएं और एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें। अब इस पेस्ट को चेहरे पर जिस जगह बाल हैं वहां लगाएं। पेस्ट सूखने के बाद उल्टी दिशा में  रगड़कर छुड़ाएं। 

बेसन


एक कटोरी में 1 चम्मच बेसन के साथ करीब 1/4 चम्मच पिसी हुई फिटकरी और गुलाब जल मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें। इस बात का ध्यान रखें कि पेस्ट न ही ज्यादा गाढ़ा हो और न ही ज्यादा पतला। इस पेस्ट को आप रोजाना चेहरे के उन हिस्सों पर लगाएं, जहां आपको लगता है कि अनचाहे बाल हैं।

अगर आप समय की कमी की वजह से इस पेस्ट को रोजाना नहीं लगा सकते हैं तो कम से कम हफ्ते में 2 बार जरूर लगाएं। इस पेस्ट को चेहरे से निकालने के लिए करीब 10 मिनट बाद अपने हाथों को गीला करके चेहरे पर अच्छी तरह सर्कुलर मोशन में रगड़िए। इसके बाद अपने चेहरे को नॉर्मल पानी से धो लें। 

अंडा और कॉर्नफ्लोर मास्क

दरअसल, अंडे में स्टिकी कंसिस्टेंसी होती है यह आपके चेहरे के बालों को हटाने में मदद करता है। चेहरे पर अंडा लगाने से त्वचा को पोषण प्राप्त होता है क्योंकि यह प्रोटीन से भरपूर है। एक चम्मच चीनी के साथ आधा चम्मच कॉर्नस्टार्च और एक अंडा मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बनाएं। इसे चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट तक सूखने दें। एक बार सूख जाने पर इसे धीरे से हटाएं, और इसके बाद अपने चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें। प्रभावी परिणाम के लिए इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो या तीन बार दोहराएं।

चेहरे के बालों की ग्रोथ में सुधार के लिए 5 डाइट बदलाव

  • फलों पर 1 छोटा चम्मच कद्दू के बीज छिड़कें। जिंक से भरपूर कद्दू के बीज टेस्टोस्टेरोन मेटाबॉलिज्‍म में शामिल एंजाइम को रोकते हैं। 
  • प्रतिदिन 2 कप पुदीने की चाय लें। यह अतिरिक्त फ्री टेस्टोस्टेरोन को हटाता है और एण्ड्रोजन के लेवल को कम करता है।

  • भोजन के बाद दालचीनी का पानी पिएं। यह लिपिड प्रोफाइल में सुधार और ब्‍लड शुगर लेवल को नियंत्रित करता है।
  • अपनी डाइट में खट्टे फलों को शामिल करें। यह इनॉसिटॉल सेवन में सुधार और टेस्टोस्टेरोन के लेवल को कम करता है।

  • सोने से पहले एड्रेनल उत्तेजक चाय लें। यह अतिरिक्त टेस्टोस्टेरोन को हटाता है और इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करता है।

Share this story