Post Office Scheme: शादीशुदा लोगों के लिए सुनहरा मौका, अब हर महीने मिलेंगे 4950 रुपये
Post Office Scheme: शादीशुदा लोगों के लिए सुनहरा मौका, अब हर महीने मिलेंगे 4950 रुपये

Post Office Scheme: Golden opportunity for married people, now you will get Rs 4950 every month


पोस्ट ऑफिस (Post Office) की मंथली इनकम स्कीम ( Monthly Income Scheme) एक ऐसी सुपरहिट स्‍माल सेविंग्‍स स्‍कीम(Superhit Small Savings Scheme) है, जिसमें सिर्फ एकबार आपको पैसा लगाना पड़ता है। 

 

 

 

 MIS अकाउंट का मैच्योरिटी पीरियड (maturity period) 5 साल का होता है।  यानी, पांच साल बाद से आपको गारंटीड मंथली इनकम (guaranteed monthly income) होने लगेगी। 

 

 

 अब पेट्रोल-डीजल पर मिलेगी पूरे 6000 रुपये की सब्सिडी! जानिए क्या है सरकार की नई तैयारी


ज्‍वाइंट अकाउंट में मैक्सिमम 9 लाख तक का निवेश(Maximum investment of up to 9 lakhs in a joint account) 


POMIS स्कीम में सिंगल और ज्‍वाइंट (single and joint) दोनों तरह का खाता खुलवाया जा सकता है। मिनिमम 1,000 रुपये के निवेश से अकाउंट खुल सकता है।

सिंगल अकाउंट में मैक्सिमम(Maximum in single account) 4.5 लाख रुपये का निवेश कर सकते हैं।  वहीं, ज्वाइंट खाते में निवेश की लिमिट 9 लाख रुपये है। 

1 अगस्त से बंद हो जाएंगी शराब की दुकानें, लंबे बवाल के बाद लागू होगी पुरानी आबकारी नीति


MIS में मिलते हैं कई लाभ(There are many benefits available in MIS) 

पोस्ट ऑफिस MIS स्कीम में दो या तीन लोग मिलकर भी ज्वाइंट अकाउंट खुलवा सकते हैं। 

इस अकाउंट के बदले में मिलने वाली आय को हर मेंबर को बराबर दिया जाता है। 

 ज्वाइंट अकाउंट को कभी भी सिंगल अकाउंट में कन्वर्ट करा सकते हैं

 सिंगल अकाउंट को भी ज्वाइंट अकाउंट में कन्वर्ट करा सकते हैं।

अकाउंट में किसी तरह का बदलाव करने के लिए सभी अकाउंट मेंबर्स की ज्वाइंट एप्लीकेशन देनी होती है।

मैच्योरिटी यानी पांच साल पूरा होने पर इसे आगे 5-5 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है।

 MIS अकाउंट में नॉमिनेशन की सुविधा है। इस स्‍कीम पैसा पूरी तरह सेफ होता है।  इस पर सरकार की सॉवरेन गारंटी होती है। 

अधिक उम्र वालों के लिए खुशखबरी, इस सरकारी नौकरी के लिए अब आप भी कर सकते हैं आवेदन

जानिए वर्तमान इंटेरेस्ट रेट(Know the current interest rate) 


 जानकारी के मुताबिक, मंथली इनकम स्‍कीम(monthly income scheme) पर सालाना 6.6 फीसदी ब्याज मिल रहा है। इसका भुगतान हर महीने होता है।

आप जान लीजिए कि पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (Post Office Monthly Income Scheme) में कोई भी भारतीय नागरिक निवेश(Indian citizen investment) कर सकता है। 


प्रीमैच्‍योर बंद कराने का खास नियम(Special rule to stop premature)


पोस्ट ऑफिस MIS स्कीम की मैच्‍योरिटी पांच साल होती है, इसमें प्रीमैच्‍योर क्‍लोजर हो सकता है. हालांकि, आप इसमें डिपॉजिट की तारीख से एक साल पूरे होने के बाद ही आप पैसा निकाल सकते हैं।

इस स्कीम के नियमों के अनुसार, 'अगर एक साल से तीन साल के बीच में पैसा निकालते हैं, तो डिपॉजिट अमाउंट का 2% काटकर वापस किया जाएगा।

अगर अकाउंट खुलने के 3 साल बाद मैच्योरिटी के पहले कभी भी पैसा निकालते हैं तो आपकी जमा राशि का 1% काटकर वापस किया जाएगा। 


कैसे खोलें MIS अकाउंट?(How to open MIS account?)

MIS अकाउंट खोलने के लिए आपके पास पोस्‍ट ऑफिस में सेविंग्‍स अकाउंट होना चाहिए। 

 इसके लिए आपके पास आईडी प्रूफ के लिए आधार कार्ड या पासपोर्ट या वोटर कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस आदि होना जरूरी है। 

 इसके लिए आपको 2 पासपोर्ट साइज के फोटोग्राफ देने होंगे। 

 एड्रेस प्रूफ के लिए सरकार द्वारा जारी आईडी कार्ड या यूटिलिटी बिल मान्‍य होंगे। 

 ये डॉक्युमेंट लेकर आप नजदीकी पोस्‍ट ऑफिस जाकर पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम का फॉर्म भरें। 

 आप इसे ऑनलाइन भी डाउनलोड कर सकते हैं। 

फॉर्म भर कर इसमें नॉमिनी का नाम भी दें। 

यह खाता खोलने के लिए शुरू में 1000 रुपये कैश या चेक के जरिए जमा करना होगा। 

Share this story