ख़बरदार! वाहन चलाने वाले सावधान, न करें ऐसी गलती, अब तक कट चुका है लाखों लोगों का चालान...
Beware! Drivers beware, do not make such mistake, till now the challan of lakhs of people has been deducted...

मोटरसाइकिल, कार, स्कूटर या अन्य वाहन चलाने वालों के लिए बेहद जरूरी सूचना है। दरअसल सरकार का परिवहन विभाग उन वाहन मालिकों को नोटिस भेजना शुरू कर सकता है जिनके पास वैध पीयूसी प्रमाण पत्र (पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल सर्टिफिकेट) नहीं हैं।

 When You Stopped By Traffic Police, Follow These Importent Tips And Know  Your Citizen Rights - जब ट्रैफिक पुलिस काटने लगे आपकी गाड़ी का चालान, तो  कानून देता है आपको ये अधिकार -

 

यह पॉल्यूशन सर्टिफिकेट ना होने पर वाहन मालिक को 10000 रुपये का चालान भी देना पड़ सकता है। अधिकारियों ने कहा कि विभाग यह सुनिश्चित करने के लिए अभियान तेज करेगा कि बिना प्रदूषण नियंत्रण (पीयूसी) प्रमाण पत्र वाले वाहन शहर की सड़कों पर न चलें।

Traffic Challan की ताज़ा खबरे हिन्दी में | ब्रेकिंग और लेटेस्ट न्यूज़ in  Hindi - Zee News Hindi

यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर 4 लाख वाहन और 5 लाख मोटरसाइकिल, स्कूटर पर मामला दर्ज किया गया है। ट्रैफिक पुलिस अब उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर रही है। कारों में पीछे के यात्रियों के लिए सीट बेल्ट अनिवार्य है, और ऐसा नहीं करने वालों से शुल्क लिया जाएगा।

इसके अलावा दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की ओर से जारी एक नई रिपोर्ट के मुताबिक उसने गलत पार्किंग, खतरनाक ड्राइविंग और शराब पीकर गाड़ी चलाने जैसे उल्लंघन के आरोप में साल 2021 में करीब 4 लाख कार और 5 लाख बाइक और स्कूटर बुक किए हैं. एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

दिल्ली रोड क्रैश फैटलिटीज रिपोर्ट 2021 में कहा गया है कि अनुचित पार्किंग के लिए 1,44,734 कारों और 1,54,506 मोटरसाइकिलों और स्कूटरों पर जुर्माना लगाया गया। रिपोर्ट के मुताबिक, 'खतरनाक ड्राइविंग' श्रेणी के तहत 10,696 कारों और 11,373 बाइक या स्कूटर को बुक किया गया था।

e-challan: बिना गलती के पुलिस ने काट दिया ऑनलाइन चालान? ऐसे करें चैलेंज

रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2021 में कुल 3,96,028 कारों और 5,16,018 मोटरसाइकिलों और स्कूटरों पर विभिन्न अपराधों के लिए मुकदमा चलाया गया। यातायात पुलिस ने अपने अपराध के अनुसार 48 प्रकार के अपराधों को वाहन श्रेणी में सूचीबद्ध किया है, जिसके लिए उल्लंघन करने वालों पर मुकदमा चलाया गया। 

रिपोर्ट से यह भी पता चला है कि 2021 में विभिन्न अपराधों के लिए 1,05,318 LGV (लाइट गुड्स व्हीकल) का चालान किया गया था। पिछले साल, 76 स्कूल बसों और 97 स्कूल कैब पर बिना परमिट के खतरनाक ड्राइविंग और गलत पार्किंग जैसे अपराधों के लिए मुकदमा चलाया गया था,

रिपोर्ट में कहा गया है। इसी तरह, दिल्ली यातायात पुलिस ने एक ही वर्ष में गैर-ड्राइविंग, खतरनाक ड्राइविंग और अनुचित पार्किंग के लिए 1,995 डीटीसी बसों को जब्त कर लिया। रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने पिछले साल 59,233 टैक्सियों पर कार्रवाई की थी।

क्या है PUC सर्टिफिकेट

एयर पलूशन पर लगाम लगाने के उद्देश्य से सभी प्रकार की गाड़ियों के लिए PUC सर्टिफिकेट अनिवार्य है। इसमें पता लगाया जाता कि कहीं कोई गाड़ी तय मानकों से ज्यादा पलूशन तो नहीं छोड़ रही। जांच के बाद सब सही होने पर PUC सर्टिफिकेट जारी कर दिया जाता है।

Raju Srivastava Death: नहीं रहे मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव! महीनों से थे एम्स में भर्ती...

Raju Srivastava Death:  कॉमेडी के दुनिया के सबसे फेमस और इंडिया के बेस्ट कॉमेडियन में से एक राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastava) अब इस दुनिया में नहीं रहे। 

उन्होंने बुधवार को दिल्ली के एम्स में आखिरी सांस ली। 10 अगस्त को जिम में वर्कआउट करने के दौरान राजू श्रीवास्तव को हार्ट अटैक आया था जिसके बाद उन्हें तुरंत दिल्ली के एम्स (AIIMS)  हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया।


 जिंदगी और मौत के बीच 40 दिनों की लंबी लड़ाई लड़ने के बाद आज कॉमेडियन का निधन हो गया। 

  Gold Price Today: सोने चांदी की कीमत में उछाल, जानिए क्या है आज सोने-चांदी का भाव!


बता दें कि हॉस्पिटल में एडमिट करवाने के बाद से ही राजू श्रीवास्तव की हालत नाजुक बनी हई थी। 


कॉमेडियन को पहले आईसीयू में एडमिट करवाया गया था, लेकिन तबीयत में कोई सुधार ना होने के बाद उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट कर दिया गया। 

 बड़ी खबर: क्रिकेट के मैदान में अब 11 नहीं बल्कि 15 खिलाड़ी के साथ उतरेंगी टीमें! BCCI लेकर आ रहा नया नियम


भरपूर कोशिश के बाद भी डॉक्टर्स राजू श्रीवास्तव को बचा नहीं पाए और सबको हंसाने वाले कॉमेडियन सबको रुलाकर हमेशा के लिए इस दुनिया से चले गए।

10 अगस्त से वेंटिलेटर पर थे


कॉमेडियन को 10 अगस्त को सुबह हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उन्हें दिल्ली के AIIMS में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने उनके सिर का सीटी स्कैन कराया तो दिमाग के एक हिस्से में सूजन मिली थी।

15 दिन बाद जानकारी मिली कि उन्होंने अपना एक पैर मोड़ा था, लेकिन उन्हें होश नहीं आया और उनका ब्रेन भी रिस्पॉन्स नहीं कर रहा था।

 School Holiday in October 2022: अक्टूबर में छुट्टी ही छुट्टी, खबर देख बनाएं टूर की प्लानिंग  

AIIMS में राजू की एंजियोप्लास्टी की गई थी, जिसमें हार्ट के एक बड़े हिस्से में 100% ब्लॉकेज मिला था। राजू के परिवार में उनकी पत्नी शिखा, बेटी अंतरा, बेटा आयुष्मान, बडे़ भाई सीपी श्रीवास्तव, छोटे भाई दीपू श्रीवास्तव, भतीजे मयंक और मृदुल हैं।

राजू ने 2014 में BJP जॉइन की थी। वे काम के सिलसिले में दिल्ली पार्टी के कुछ बड़े नेताओं से मिलने के लिए दिल्ली पहुंचे थे। वह दिल्ली के साउथ एक्स के कल्ट जिम में 10 अगस्त की सुबह वर्क आउट कर रहे थे। इस दौरान ट्रेडमिल पर रनिंग करते समय उन्हें चेस्ट में पेन हुआ और वे नीचे गिर गए थे।

इसके बाद उन्हें फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया। राजू हमेशा अपनी फिटनेस पर ध्यान रखते थे और वह फिट और फाइन थे। 31 जुलाई तक वो लगातार शोज कर रहे थे, उनके आगे कई शहरों में शोज भी लाइन अप थे।

मदिरा प्रेमियों के लिए बुरी खबर! ये खबर तोड़ देगा शराब प्रेमियों का दिल

कानपुर से तय किया था मुंबई का सफर

राजू श्रीवास्तव का असली नाम सत्य प्रकाश श्रीवास्तव है। उनका जन्म 25 दिसंबर 1963 को कानपुर के नयापुरवा में हुआ था। उन्होंने 1993 में हास्य की दुनिया में कदम रखा। 1980 में वे कानपुर से मुंबई के लिए भागे थे।

अपने घर की दीवार फांदकर पड़ोसी के घर में कूदे और वहां से सीधे मुंबई भाग गए। उनके पड़ोसियों ने बताया कि चिल्लाते हुए गए थे कि अब नाम कमाकर ही लौटूंगा।


राजू के पीआरओ गर्वित नारंग ने बताया," "राजू श्रीवास्तव दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मुलाकात करने के लिए आए थे। उनकी मुलाकात का समय तय था। वो होटल में रुके थे। कमरे में कुछ देर रुकने के बाद बुधवार सुबह वे जिम करने चले गए। वहीं पर हार्ट अटैक आया।

वाराणसी में संपूर्णानंद विश्वविद्यालय के खेल मैदान को बना दिया खेत, बागेश्वर बाबा के कथा की व्यवस्था की शिकायत राजभवन तक पहुंची

उसी दिन शाम को डॉक्टरों ने उनकी एंजियोप्लास्टी की, लेकिन उनका ब्रेन रिस्पांस नहीं कर रहा था। पल्स भी 60-65 के बीच था।"


राजू का हाल जानने के लिए कानपुर से पूर्व विधायक सतीश निगम भी एम्स पहुंचे थे। उन्नाव सदर से विधायक पंकज गुप्ता ने फोन पर उनका हालचाल लिया। PMO और मुख्यमंत्री ऑफिस से लगातार उनका अपडेट लिया जा रहा था।


राजू श्रीवास्तव ने कुल 16 फिल्मों और 14 टीवी शो में काम किया था।



अमिताभ बच्चन यानी बिग बी ने राजू श्रीवास्तव को खास ऑडियो संदेश भेजा था। इसमें अमिताभ कह रहे हैं- राजू उठो, बस बहुत हुआ, अभी बहुत काम करना है। अब उठ जाओ... हम सबको हंसना सिखाते रहा।" राजू को ये रिकॉर्डिंग सुनाई गई थी।


राजू के भाई और कॉमेडियन दीपू श्रीवास्तव ने बताया, "भइया की रिकवरी स्लो थी। इसलिए भइया को परिवार के रिकॉर्डेड ऑडियो मैसेज सुनाए गए। उनको गजोधर और संकठा के किस्से भी, उनकी ही आवाज में सुनाए गए थे।


राजू श्रीवास्तव लाफ्टर चैलेंज  शो के जरिए काफी मशहूर हुए थे।


राजू श्रीवास्तव 10 साल में तीन बार एंजियोप्लास्टी करा चुके हैं। उन्होंने पहली बार 10 साल पहले मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी हॉस्पिटल में और 7 साल पहले मुंबई के लीलावती हॉस्पिटल में एंजियोप्लास्टी कराई थी। इसके बाद बुधवार को तीसरी बार डॉक्टरों ने राजू श्रीवास्तव की एंजियोप्लास्टी की।

राजू श्रीवास्तव का जन्म कानपुर की एक मिडिल क्लास फैमिली में हुआ था। बचपन में इन्हें सत्य प्रकाश नाम मिला था, जो आगे जाकर राजू श्रीवास्तव बन गए।

इनके पिता रमेश चंद्र श्रीवास्तव एक सरकारी कर्मचारी थे और शौकिया तौर पर कविताएं लिखा करते थे। छुट्टियों में पिता कवि सम्मेलन का हिस्सा बना करते थे, जिन्हें बलाई काका नाम से पहचाना जाता था।

पिता से राजू को भी लोगों का मनोरंजन करने का गुर विरासत में मिला। बचपन से ही राजू घर आए मेहमानों के सामने मिमिक्री करते और स्कूल में टीचर की भी नकल उतारकर लोगों को खूब हंसाते।

कई टीचर उन्हें बद्तमीज कहते हुए सजा देते थे, लेकिन एक टीचर ऐसे भी थे जो इन्हें बढ़ावा दिया और कॉमेडी में करियर बनाने की सलाह दी।

लोगों ने राजू को लोकल क्रिकेट मैच में कमेंट्री करने की सलाह दी। इससे ये अपने हुनर को कॉन्फिडेंट के साथ लोगों के सामने पेश करने लगे। ये बचपन से ही कॉमेडियन बनना चाहते थे, लेकिन असल में इनकी प्रेरणा अमिताभ बच्चन थे।

बिग बी की फिल्म दीवार देखने के बाद राजू ने एक्टर बनने का फैसला किया

राजू बचपन से ही एक्टिंग और कॉमेडी में हाथ आजमाना चाहते थे, जिसके लिए वो 1982 में लखनऊ छोड़कर सपनों के शहर मुंबई चले आए। यहां ना रहने को घर था ना खाने के पैसे। घर से भेजे गए पैसे जब कम पड़ने लगे तो राजू ऑटो ड्राइवर बन गए। राजू अपनी सवारी को भी हंसाते थे। मुंबई में राजू को करीब 4-5 सालों तक संघर्ष करना पड़ा था।

एक दिन एक सवारी ने राजू के स्टाइल से इंप्रेस होकर उन्हें स्टेज परफॉर्मेंस देने को कहा। राजू मान गए और परफॉर्मेंस दी, जिसके लिए सिर्फ 50 रुपए मिले थे। इसके बाद राजू लगातार स्टेज शो करने लगे।

स्टेज शो करते हुए राजू श्रीवास्तव अमिताभ बच्चन की भी नकल उतारा करते थे। यहीं से लोगों ने उनके लुक की तुलना अमिताभ बच्चन से करना शुरू कर दी।

स्टेज शो करते हुए इंडस्ट्री के लोगों से जान-पहचान बढ़ी तो इन्हें फिल्मों में छोटे-मोटे रोल भी मिलने लगे। राजू पहली बार 1988 की फिल्म तेजाब में नजर आए। आगे उन्होंने करीब 19 फिल्मों में काम किया।

कॉमेडियन बनने का सफर

राजू श्रीवास्तव सबसे पहले साल 1994 के शो टी टाइम मनोरंजन में नजर आए थे। इसके बाद उन्होंने द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज के पहले सीजन में पार्टिसिपेट किया। इस शो में राजू ने तीसरा स्थान हासिल किया,

जिससे इन्हें देशभर में पहचान मिल गई। इसके बाद राजू कॉमेडी का महा मुकाबला, कॉमेडी सर्कस, देख भाई देख, लाफ इंडिया लाफ, कॉमेडी नाइट विद कपिल, द कपिल शर्मा शो और गैंग्स ऑफ हसीपुर जैसे शोज का हिस्सा रहे।

विवादों और सुर्खियों से भी घिरे रहे हैं राजू श्रीवास्तव

राजू श्रीवास्तव ने साल 2009 में रियलिटी शो बिग बॉस 3 में हिस्सा लिया था। शो में राजू श्रीवास्तव का कमाल राशिद खान से जोरदार झगड़ा खूब सुर्खियों में था।

दरअसल, जब केआरके का रोहित वर्मा से झगड़ा हुआ तो उन्होंने गुस्से में उन पर बोतल फेंक दी। बोतल जाकर शमिता शेट्टी को लगी, जिससे घर दो पक्षों में बंट गया। राजू श्रीवास्तव ने केआरके को खूब बातें सुनाई तो बात और बढ़ गई।

राजू ने केआरके से कहा था, तुम बता रहे हो करोड़ों कमाते हो, मैं लाखों रुपए डोनेट कर देता हूं, जिसकी बराबरी का तुम सोच भी नहीं सकते।

स्से में केआरके ने राजू को भद्दी गालियां देनी शुरू कर दी। दोनों के बीच जमकर गाली-गलौज हुई और दोनों मारपीट को उतारू हो गए। इस्माइल दरबार ने बीच-बचाव कर दोनों को अलग किया।

बिग बॉस 2009 के दौरान कमाल आर. खान और राजू श्रीवास्तव। इस शो पर दोनों का खूब झगड़ा हुआ था।

साल 2010 में राजू श्रीवास्तव को पाकिस्तान से धमकी भरे कॉल आए थे। धमकी में उन्हें अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कर जोक क्रेक ना करने की चेतावनी दी गई थी।

बिग बॉस 11 में परफॉर्म करने पहुंचे राजू श्रीवास्तव, एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी पर भद्दा कमेंट कर विवादों से घिर गए थे। उन्होंने कहा था, अगर शिल्पा को मां बनने के लिए उतावली थीं, तो उन्हें पता होना चाहिए था कि शक्ति कपूर उनके घर के बाहर ही खड़े थे।

उनके इस बयान से विवाद इतना बढ़ा कि राजू को माफी मांगनी पड़ी। राजू ने माफी में कहा, मेरे डायलॉग को चैनल द्वारा गलत तरीके से दर्शाया गया है। मैंने फिल्म पर डायलॉग मारा था। मैं कलर्स चैनल से नाराज हूं।

समाजवादी पार्टी कि टिकट लौटाकर बटोरी सुर्खियां

भाजपा ज्वाइन करने से पहले साल 2014 में राजू श्रीवास्तव को समाजवादी पार्टी की तरफ से लोकसभा चुनाव का टिकट मिला था, लेकिन उन्होंने कुछ समय बाद ही टिकट लौटा दिया। राजू ने कहा कि उन्हें लोकल पार्टी यूनिट से सपोर्ट नहीं मिला। इसके बाद इसी साल राजू भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए।

भाजपा ज्वाइन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ राजू श्रीवास्तव।

राजू श्रीवास्तव ने 1993 में शिखा से शादी की थी, जिससे उन्हें दो बच्चे अंतरा और आयुष्मान हैं। इनकी एक बहन और 5 भाई हैं।

Share this story