×

Aaj Ka Mausam: दिल्ली समेत इन राज्यों में भीषण ठंड से राहत के आसार नहीं, अब होगी बारिश! इन राज्यों में बर्फबारी का अलर्ट

Aaj Ka Mausam: दिल्ली समेत इन राज्यों में भीषण ठंड से राहत के आसार नहीं, अब होगी बारिश! इन राज्यों में बर्फबारी का अलर्ट

देश की राजधानी दिल्ली में बुधवार को लगातार आठवें दिन शीतलहर का प्रकोप जारी रहा। आईएमडी की वेबसाइट पर यह जानकारी दी गई। दिल्ली में जनवरी 2020 में सात दिन शीतलहर चली थी, पिछले साल एक भी ऐसा दिन दर्ज नहीं किया गया।

दिल्ली में आज (गुरूवार) हल्की बारिश और बूंदाबांदी हो सकती है। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में 23-24 जनवरी को दिल्ली सहित उत्तर-पश्चिम भारत में 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने के साथ ही हल्की से मध्यम बारिश होने और ओले गिरने का पूर्वानुमान है।

आईएमडी के अनुसार, दिल्ली में पांच से नौ जनवरी तक भीषण शीतलहर चली जो एक दशक में इस महीने में प्रचंड शीतलहर की दूसरी सबसे लंबी अवधि रही। अभी तक इस महीने 50 घंटे तक घना कोहरा दर्ज किया गया जो 2019 के बाद से सबसे अधिक है।


भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सोमवार को बताया था कि दो पश्चिमी विक्षोभों के प्रभाव के चलते आज यानी 19 जनवरी से शीतलहर का प्रकोप थम जाएगा। पश्चिम एशिया से गर्म नम हवाओं वाली एक मौसम प्रणाली को पश्चिमी विक्षोभ कहा जाता है। जब एक पश्चिमी विक्षोभ क्षेत्र में आता है, तो हवा की दिशा बदल जाती है।

पहाड़ों से आने वाली सर्द उत्तर-पश्चिमी हवाएं चलनी बंद हो जाती हैं जिससे तापमान बढ़ता है. दिल्ली की सफदरजंग वेधशाला में बुधवार को न्यूनतम तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मंगलवार को यहां न्यूनतम तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस और सोमवार को 1.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, ऐसा नवंबर और दिसंबर में मजबूत पश्चिमी विक्षोभ की कमी के कारण हुआ। पिछले साल जनवरी में शहर में 82.2 मिमी बारिश दर्ज की गई थी, जो 1901 के बाद से इस महीने में सबसे अधिक थी।

राजस्थान में फतेहपुर, सीकर, चूरू और करौली में रात का तापमान जमाव बिंदु से नीचे चला गया और पूरे प्रदेश में कड़ाके की सर्दी का सितम जारी है।

मौसम विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार रात सीकर के फतेहपुर में पारा शून्य से 2.2 डिग्री सेल्सियस नीचे, सीकर में शून्य से 1.5 डिग्री नीचे, चूरू में शून्य से 1.2 डिग्री नीचे और करौली में शून्य से 0.8 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा।

पंजाब और हरियाणा में कड़ाके की ठंड का प्रकोप जारी है। प्रदेश के अधिकांश इलाकों में न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे बना रहा। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, पंजाब के बठिंडा और फरीदकोट में भीषण ठंड पड़ रही है। यहां का न्यूनतम तापमान क्रमश: शून्य से 0.2 डिग्री सेल्सियस नीचे और 0.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के अनुसार, अमृतसर में तापमान 2.9 डिग्री सेल्सियस, लुधियाना में 2.8 डिग्री सेल्सियस, पटियाला में 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दोनों राज्यों की साझा राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 3.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

यहां हो सकती है बर्फबारी


मौसम विभाग के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर में भी 21 जनवरी को कुछ इलाकों में हल्की बारिश या बर्फबारी की संभावना है। वहीं, 22 जनवरी को अधिकतर जगहों पर हल्की बारिश या बर्फबारी हो सकती है। 23 और 24 जनवरी से ये और तेज हो सकती हैं।

वहीं आईएमडी ने हिमाचल प्रदेश में आज से ऊंचाई व मध्य क्षेत्रों में बारिश और बर्फबारी का अनुमान जताया है, जबकि 22 जनवरी से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है, जिससे पूरे प्रदेश में भारी बर्फबारी होने की आशंका जताई गई है।

विभाग की ओर से 22 से 25 जनवरी तक प्रदेश भर में मौसम खराब रहेगा। आज (गुरुवार) से प्रदेश भर में बारिश और बर्फबारी का दौर शुरू होगा।

Share this story