2014 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक वीरभद्र निषाद का निधन
Virbhadra Nishad, the proponent of Prime Minister Narendra Modi in the 2014 Lok Sabha elections, passed away.

वाराणसी। 2014 लोक सभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनाव प्रस्ताव रहे वीर भद्रं निषाद का बुधवार की देर रात में 95 वर्ष की अवस्था में निधन हो गया। उन्होंने अपने शिवाला स्थित आवास पर अंतिम सांस ली। परिजनों के मुताबिक वे उक्त रक्तचाप से पीड़ित थे। कल अचानक तबियत खराब हुई । चिकित्सकों को घर बुलाकर दिखाया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। उनकी शवयात्रा गुरुवार को उनके आवास से हरिश्चंद्र घाट तक निकली। मुखाग्नि उनके जेष्ठ पुत्र राजेन्द्र निषाद ने दी। 

उनको श्रद्धाजंलि देने पीएम संसदीय कार्यालय के प्रभारी शिव शरण पाठक, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, सभासद राजेश यादव चल्लू, रवींद्र सिंह राजीव यादव व अन्य भाजपा नेता पहुंचे।  स्वर्गीय निषाद की पत्नी का निधन दो वर्ष पूर्व हो चुका है। वे अपने पीछे छह पुत्र और दो पुत्री का भरा- पूरा परिवार छोड़ गए हैं।


बता दें कि साल 2014 लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के नामांकन के दौरान बीएचयू के संस्थापक पंडित मदन मोहन मालवीय के पौत्र और हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज गिरधर मालवीय सहित चार लोगों को नरेंद्र मोदी का प्रस्तावक बनाया गया था। जस्टिस गिरधर के अलावा पद्मभूषण से सम्मानित जाने-माने शास्त्रीय गायक पंडित छन्नूलाल मिश्र, वीरभद्र निषाद (मल्लाह) और अशोक(बुनकर) को प्रस्तावक बनाया गया था। 16वीं लोकसभा के चुनाव के दौरान वाराणसी के शिवाला घाट के समीप रहने वाले वीरभद्र निषाद को भारतीय जनता पार्टी की ओर से तत्कालीन सांसद उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी का प्रस्तावक बनाया गया था।

2017 में वाराणसी नगर निगम के चुनाव के दौरान बनारस के समाजसेवी वीरभद्र निषाद का नाम वोटर लिस्ट से गायब रहा। इस मामले की शिकायत वो डीएम और राज्य निर्वाचन आयुक्त से भी किए थे।

Share this story