×

Varanasi News: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ जनपद वाराणसी का जनपदीय सम्मेलन शैक्षिक विचार गोष्ठी

ff


Varanasi News: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ जनपद वाराणसी का जनपदीय सम्मेलन शैक्षिक विचार गोष्ठी 

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ जनपद वाराणसी का जनपदीय सम्मेलन शैक्षिक विचार गोष्ठी एवं शिक्षक सम्मान समारोह का उद्घाटन मुख्य अतिथि एवंप्रदेशीय अध्यक्ष सुरेश कुमार त्रिपाठी द्वारा झंडोतोलन दीप प्रज्वलन एवं माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण किया गया तत्पश्चात् हरिश्चंद्र बालिका इंटर कॉलेज की छात्राओं द्वारा सरस्वती वंदना स्वागत गान किया गया।

जनपदीय पदाधिकारियों द्वारा मुख्य अतिथि एवं अन्य अतिथियों का बैज अलंकरण माल्यार्पण अंगवस्त्रम तथा स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया।

उपस्थित शिक्षक एवं शिक्षिका बहनों को संगठन का संकल्प एवं शपय महामंत्री नरेंद्र कुमार वर्मा द्वारा कराया गया। सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि नवीन पेंशन योजना किसी भी तरह से पेंशन नहींहै, यह सिर्फ शिक्षकों एवं कर्मचारियों के लिए छलावा मात्र है।

9 नवंबर 2023 केशासनादेश द्वारा विगत 25-30 वर्षों से कार्यरत तदर्थ शिक्षकों की सेवाएं अचानक समाप्त करदी गई।

ऐसे सभी शिक्षकों को विनियमित करते हुए उनकी सेवाएं बहाल की जाए। शिक्षा निर्देशक द्वारा सरप्लस शिक्षकों के समायोजन हेतु निर्गत शासनादेश को वापस किया जाए।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

चयन बोर्ड की धारा 12,18 एवं 21 की व्यवस्थाओं को यथावत् अधिनियमित किया जाए। वितविहीन शिक्षकों को समान कार्य हेतु समान वेतन प्रदान किया जाए।

वर्ष 2014 से बंद सामूहिक बीमा को पुनः बहाल किया जाए। संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉक्टर प्रमोद कुमार मिश्र ने कहा कि ऐसे शिक्षक जिनका विज्ञापन एवं चयन एक अप्रैल 2005 से पूर्व हो चुका था किंतु प्रशासनिक एवं प्रबंधक की उदासीनता के कारण कार्यभार ग्रहण नहीं कराया जा सका। उन्हें केंद्र सरकार की भांति पुरानी पेंशन से आच्छादित किया जाए।


डॉक्टर मिश्र ने 13 ऐसी उपलब्धियां  सुविधाएँ जिन्हें संगठन ने संघर्षां के बल पर अर्जित किया था। वर्तमान सरकार ने एक झटके में ही छीन लिया है । इसको लेकर शिक्षक शिक्षिकाओं में भारी रोष व्याप्त है।

सम्मेलन के माध्यम से सरकार से हम पुरजोर मांग करते हैं कि ये सुविधाएँ पुनः बहाल की जाए। पूर्व महामंत्री  इन्द्रासन सिंह ने विभिन्न मुद्दों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सरकार द्वारा घोषित अवकाशो की अवधि में विद्यालय को खोले जाने के निर्देश नहीं दिए जाएं।

यदि विशेष परिस्थिति में बुलाता ही पड़े तो उसके बदले नियमानुसार अर्जित अवकाश प्रदान किया जाएं। प्रदेशी उपाध्यक्ष रामेश्वर उपाध्याय देव भाष्कर त्रिपाठी ने सरकार की विभिन्न विसंग तियों की ओर ध्यान आकृष्ट किया। सम्मेलन में सेवानिवृत/ 31 मार्च 2024 को सेवानिवृत होने वाले तथा नवागत शिक्षक शिक्षिका बहनों का माल्यार्पण स्मृति चिह्न एवं अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया गया। सम्मेलन में जिला मंत्री सरफुद्दीन द्वारा प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया।

कोषाध्यक्ष  कमलेश कुमार द्वारा आय-व्यय विवरण प्रस्तुत किया गया। आय-व्यय निरीक्षक डॉक्टर राजेश कुमार राय द्वारा सम्परीक्षा रिपोर्ट प्रस्तुत की गयी। सम्मेलन का संचालन जिला मंत्री  सरफुद्दीन ने किया। जिलाध्यक्ष  गिरिजेश कुमार त्रिपाठी ने अपना अध्यक्षीय उद्बोधन दिया।

कार्यक्रम के संयोजक कटिंगमेमोरियल इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉक्टर हरेंद्र कुमार ने सभी अतिथियों शिक्षक/ शिक्षिका बहनों का आभार प्रकट करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया।

सम्मेलन में पूर्व महामंत्री स्व. पंचानन राय की सुपुत्री विनीता राय, प्रदेश मंत्री दिनेशचन्द्रराय, प्रदेशकार्यकारिणी सदस्य  मायाशंकर यादव, मंडलीय अध्यक्ष विजय प्रताप सिंह राज्य परिषद के सम्मानित सदस्य विनोद शंकर पांडेय, गाजीपुर अध्यक्ष शिवकुमार सिंह, उपाध्यक्ष  रत्नेश कुमार राय एवं चंदौली के अध्यक्ष  महताब अहमद जौनपुर के मंडलीयमंत्री अनिल कुमार उपाध्याय,जिलामंत्री रमाशंकर सिंह, मीरजापुर से मंडलीय अध्यक्ष केदारनाथ दुबेअपने सहयोगियों के साथ उपस्थित रहे। जनपद के कार्यकारिणी के पदाधिकारी एवं सदस्य तथा जनपद केविभिन्न विद्यालयों के शिक्षक  शिक्षिका बहनों का अपार समूह उपस्थित रहा।

Share this story