×

Varanasi News: राम मंदिर और मस्जिद के नाम पर सलमान किन्नर का प्रेस से वार्ता

फ

 

Varanasi News: राम मंदिर और मस्जिद के नाम पर सलमान किन्नर का प्रेस से वार्ता

आज की प्रेस वार्ता के मुख्य उद्देश्य को बताते हुए सलमान किन्नर ने बताया कि वर्तमान समय में जो राम मंदिर और मस्जिद के नाम पर राजनीतिक पार्टियों वोट बैंक के लिए गंदा खेल खेल रही हैं।

उससे समाज में कहीं ना कहीं हिंसा फैल रही है जिसका नतीजा यह है की एक धर्म दूसरे धर्म की ना सिर्फ तौहीन कर रहा है, माखौल उड़ा रहा है अपितु एक दूसरे को निचे गिराने में लगा हुआ है।

एक दूसरे की कमियों को न सिर्फ गिना रहा है बल्कि एक दूसरे पर छींटाकसी कर रहा है लेकिन राजनीतिक पार्टियों यह मूल रही है कि वह अपने इस खेल के कारण समाज में हिंसा और कट्टरता को बढ़ावा दे रही हैं।

जिसके कारण आपसी प्रेम, भाईचारा पर प्रश्नचिन्ह लगा रहा है और हिंदू, मुस्लिम, सिख, इसाई हम सब हैं भाई- भाई का नारा बेमानी साबित हो रहा है जो की बंधुता के लिए एक बहुत बड़ा खतरा उत्पन्न कर रही है।

भारत में लोकतंत्र है जिसमें जनता का जनता के लिए जनता के द्वारा शासन है लेकिन इस तरीके की तरह की छींटाकसी से बंधुत्व को खतरा और समाज में हिंसा को बढ़ावा देगी लेकिन ट्रांसजेंडर समुदाय इस प्रकार की राजनीति के खिलाफ है।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

ट्रांसजेंडर समुदाय से संबोधित करते हुए नितिन ने बताया की हमारे समुदाय का अपना कोई धर्म विशेष नहीं है ना ही हम लोग किसी धर्म विशेष को बढ़ावा देता है बल्कि मानव होने के नाते, समुदाय का सदस्य होने के नाते हम सब एक समान है और आपस में उसी मानवता के कारण ही एक दूसरे को प्रेम करते हैं, मान- सन्मान देते हैं और बराबरी देते हैं।

हम समाज में भी इसी बराबरी की कल्पना करते हैं और चाहते हैं कि समाज का प्रत्येक इंसान एक दूसरे को न सिर्फ धर्म के आधार पर, जाति के आधार पर, भाषा के आधार पर, लैंगिक पहचान के आधार पर एक दूसरे को जाने या स्पोर्ट करें अपितु मानव होने के नाते एक-दूसरे को प्रेम और सम्मान दें।

सलमान और नितिन की बात को जोड़ते हुए विजेता ने बताया कि राजनीतिक पार्टियों अपने वोट के लिए चाहे जितना मंदिर-मस्जिद करें, वोट बैंक के लिए चाहे जितना जातिवाद कर ले लेकिन ट्रांसजेंडर समुदाय सिर्फ मानव धर्म को मानता है।

मानव ही उसके लिए सर्वोपरि हैं और यह किसी प्रकार के बंटवारे की राजनीति का स्पोर्ट नहीं करेंगे क्योंकि यह समुदाय जिस प्रकार की समानता अपने समुदाय के सदस्यों के बीच में रखता है वैसे ही समानता पूरे समाज में चाहता है और मान सम्मान अधिकार चाहता है।

Share this story