×

Varanasi news: ग्राम सभा नैपुरा में तेरहवीं भोज का सामुहिक बहिष्कार

Varanasi news: ग्राम सभा नैपुरा में तेरहवीं भोज का सामुहिक बहिष्कार


वाराणसीl नैपुरा गांव में  प्रधान सोमनाथ यादव कल्लू  के नेतृत्व में तेरहवीं भोज का सामुहिक बहिष्कार किया गया। प्रधान  के बड़ी माता जी का देहांत हो गयाl इसके बाद गांव के सम्मानित लोगों के एकजुट कर के प्रधान  ने बताया कि तेरहवीं का भोज वर्तमान समय में मृतक परिवार पर अनावश्यक आर्थिक बोझ बनता हैl जिससे लोग क़र्ज़ में डुब जातें हैंl

ऐसे में हम लोगों कि जिम्मेदारी बनती है इस कुप्रथा का विरोध करें।


गांव के मुन्ना लाल यादव ने बताया कि हमें सदियों से चली आ रही इस कुप्रथा को बंद कर देना चाहिए इससे गरीबों का भला होगा अचानक किसी के घर में मृत्यु शोक पड़ जाएं उसके बाद उसपर आर्थिक बोझ डालना पाप है इसलिए हम लोग संकल्प लेते हैं कि तेरहवीं का भोज न कभी खाएंगे और ना ही आयोजित करेंगे।


इस अवसर पर ग्रामीण जन सेवा समिति सीर गोवर्धनपुर के अध्यक्ष गिरिराज यादव ने बताया कि तेरहवीं भोज का जिक्र किसी शास्त्र में नहीं है यह एक कुप्रथा है जो वर्तमान में कैंसर की तरह बोल गया है हम लोग तेरहवीं भोज बंद कराने के लिए पिछले कई वर्षों से जागरूकता अभियान चला रहे हैं। 

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

 किसी भी मृतक परिवार जिसके प्रिय सदस्य का अचानक निधन हो गया हो उसको आर्थिक रूप से बोझ देना बिल्कुल सही नहीं है इसलिए सामाजिक रूप से एकत्रित होकर हम लोगों को संकलित होना चाहिए कि तेरहवीं का भोज नहीं खाएंगे और लोगों को इसके लिए जागरूक भी करेंगे।


 इस अवसर पर ब्रजेश यादव, शशि करन यादव,बबलु यादव, सुरेश मौर्या,सुरज यादव, रामदुलार यादव, श्याम जी यादव, नत्थू यादव,राम जी यादव, राजनाथ यादव आदि ग्रामीण उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें-

प्राचीन नाटक का हुआ मंचन

प्राचीन नाटक का हुआ मंचन  वाराणसीl आदित्य नगर में होली के अवसर पर आयोजित होने वाले प्राचीन नाटक कला का मंचन आयोजित गुरुवार को किया गयाl रामायण काल में श्री राम कथा पर आधारित रामराज्य और अंधेरी नगरी चौपट राजा जैसी स्थिति उत्पन्न होने पर असत्य पर सत्य की विजय आधारित मंचन किया गयाlआदित्य नगर के ग्रामीणों के सहयोग से 1934 से नाटक मंचन का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा हैl

वाराणसीl आदित्य नगर में होली के अवसर पर आयोजित होने वाले प्राचीन नाटक कला का मंचन आयोजित गुरुवार को किया गयाl रामायण काल में श्री राम कथा पर आधारित रामराज्य और अंधेरी नगरी चौपट राजा जैसी स्थिति उत्पन्न होने पर असत्य पर सत्य की विजय आधारित मंचन किया गया। 

आदित्य नगर के ग्रामीणों के सहयोग से 1934 से नाटक मंचन का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा हैl

Share this story