×

Varanasi News: जमीन दिलाने के नाम 14.4 लाख का धोखाधड़ी करने वाला शातिर गिरफ्तार

Varanasi News: जमीन दिलाने के नाम 14.4 लाख का धोखाधड़ी करने वाला शातिर गिरफ्तार

Varanasi News: जमीन दिलाने के नाम 14.4 लाख का धोखाधड़ी करने वाला शातिर गिरफ्तार

आवेदक ललिता प्रसाद यादव निवासी पहडिया वाराणसी द्वारा DEVESH  REAL ESTATE WORKS के प्रोपराइटर धर्मराज यादव द्वारा वादी मुकदमा को धोखे से विश्वास में लेकर अपनी फर्म DEVESH REAL ESTATE WORKS में पैसा लगाने व जमीन देने के नाम पर कुल 14,40,000/- धोखाधड़ी से अपने खाते में ट्रासफर करा लिया था जिसके बाद बादी द्वारा थाना- लालपुर/पाण्डेयपुर पर मुकदमा पंजीकृत कराया गया था।

उक्त प्रकरण के गंभीरता देखते हुए पुलिस आयुक्त कमिश्ररेट वाराणसी  मुथा अशोक जैन द्वारा समुचित कार्यवाही हेतु विवेचना स्थानांतरित साइबर क्राइम पुलिस थाना वाराणसी को किया गया था व पुलिस उपायुक्त (अपराध) चन्द्रकान्त मीना तथा अपर पुलिस उपायुक्त (अपराध)  टी. सरवणन व सहायक पुलिस आयुक्त (अपराध) गौरव कुमार द्वारा उक्त् मुकदमे मे प्रभावी कार्यवाही तथा निस्तारण हेतु निर्देशित किया गया जिसके उपरान्त प्रभारी निरीक्षक साइबर क्राइम थाना विजय नारायण मिश्र की अगुवाई में निरीक्षक अनीता सिंह व साइबर क्राइम थाना वाराणसी टीम द्वारा 01 नफर अभियुक्त पाण्डेयपुर से कचहरी रोड पर परिवहन शाखा के पास से गिरफ्तार कर नियमानुसार कार्यवाही की जा रही है।

अपराध करने का तरीका

धर्मराज यादव पुत्र स्व. नगाऊ यादव निवासी ग्राम गोइठहा, पोस्ट- सारनाथ, धाना- लालपुर पाण्डेयपुर, वाराणसी, उ.प्र. पिन - 221007 उम्र करीब 44 वर्ष पूछने पर बताया कि मैं जमीन खरीदने बेचने का काम करता हूं, जिसके लिए मैने DEVESH REAL ESTATE WORKS नाम से फर्म रजिस्टर्ड कराया है जो कंकड़, गिट्टी, बालू, पत्थर रेत, औद्दोगिक अपशिष्ट, पत्थरों का पाउडर, सीमेंट, कंक्रीट, टाइल्स, ईट, धातू की छड़े आदि की आपूर्ति के लिए अधिकृत है।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

परन्तु इसी के आड़ में मैं लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि मेरा फर्म केवल जमीन खरीदने बेचने के लिए रजिस्टर्ड है और इसी आड़ में मौका मिलने पर लोगों को बहला फुसलाकर विश्वास में लेकर जमीन देने के नाम अपनी निजी आर्थिक लाभ के लिए घोखाधड़ी कर लेता हूं। इसी तरह इस मुकदमा के वादी ललिता प्रसाद यादव निवासी पहड़िया, वाराणसी जो कि सन् 2004 में हिन्डालको रेनूकुट, जनपद सोनभद्र से जनरल मैनेजर के पद से सेवामुक्त हुये थे।

मुझे जानकारी हुआ कि उनके पास काफी पैसा है तो मैंने उनसे परिचय बनाया और जरिए वाट्सअप व मिलकर विभिन्न स्कीम बताया और अपने देवेश रियल स्टेट फर्म में निवेश के लिए धोखे से राजी कर लिया और कटहलगंज चौराहे पहाडिया, बेला रोड, वाराणसी में एक प्लाट दिखाकर कुल 14,40,000/- अपने खाते में आनलाइन व आर.टी.जी.एस. के माध्यम से डलवा लिया था। वादी मुकदमा के संतुष्टि के लिए मैने कंप्यूटर से माध्यम से हस्ताक्षरशुदा निर्मित प्लाट बुकिंग रशीद भी दिया था सर जो मैने पैसा में अपने फर्म के खाते में लिया था उसको मैने निजी कार्य में खर्च कर दिया।


गिरफ्तार अभियुक्तगण का विवरण

धर्मराज यादव पुत्र स्व. नगाऊ यादव निवासी ग्राम गोइठहा, पोस्ट- सारनाथ, थाना- लालपुर पाण्डेयपुर, वाराणसी, उ.प्र. पिन. - 221007 उम्र करीब 44 वर्ष।

गिरफ्तारी का स्थान- पाण्डेयपुर से कचहरी रोड पर परिवहन शाखा के पास से

आपराधिक इतिहास 

मु.अ.सं.- 0132/2023 धारा 409, 420 भादवि व 66 डी आई.टी. एक्ट, थाना लालपुर पाण्डेयपुर, कमिश्ररेट वाराणसी स्थानांतरित विवेचना साइबर क्राइम पुलिस थाना वाराणसी।

पुलिस टीम का विवरण

01.विजय नारायण मिश्र - प्रभारी निरीक्षक ।

02. अनीता सिंह - विवेचक/निरीक्षक।

03. उ.नि.सतीश सिंह।

04. हे0का0 श्याम लाल गुप्ता।

05. हे0का0 आलोक कुमार सिंह।

06.हे0का0 गोपाल चौहान।

07. ह0का0 गौतम कुमार ।

08.का0मनीष कुमार सिंह ।

09. का0 सूर्यभान सिंह।

10. का0अनिल कुमार मौर्य।

Share this story