×

Varanasi News: बलात्कार व पाक्सो अधिनियम में प्रभावी पैरवी से हुई 20 साल की सजा

fgsd

Varanasi News: बलात्कार व पाक्सो अधिनियम में प्रभावी पैरवी से हुई 20 साल की सजा
               
पुलिस आयुक्त कमिश्नरेट वाराणसी के कुशल नेतृत्व में अपर पुलिस उपायुक्त महिला अपराध के प्रभावी पर्यवेक्षण में अभियोजन निदेशक विवेचक व पैरोकार थाना जंसा कमिश्नरेट वाराणसी के संयुक्त प्रयास से थाना जंसा पर पंजीकृत मु0अ0सं0-30/2020 धारा 363, 377, 376 भादंसं व 5एम/6 पाक्सो एक्ट बनाम अभियुक्त अशुतोष मिश्रा उर्फ राहुल पुत्र सुरेन्द्र मिश्रा नि0-बसवरिया थाना जंसा वाराणसी में मा0 विशेष न्यायालय पाक्सो द्वितीय जनपद वाराणसी द्वारा अभियुक्त को दण्डित किया गया ।

दिनांक 28.01.2020 को वादी द्वारा सूचना दिया गया कि अभियुक्त उपरोक्त द्वारा उसकी पुत्री उम्र 10 वर्ष को बहला-फुसलाकर सरसो के खेत में ले जाकर बलात्कार कारित किया गया तत्पश्चात थाना जंसा पर मु0अ0सं0-30/2020 धारा 376 भादंस व 5एम/6 पाक्सो एक्ट पंजीकृत हुआ । दौरान विवेचना साक्ष्यो के आधार पर धारा 363, 377 भादंसं की बढोत्तरी हुई ।

बाद समाप्त विवेचना मा0 न्यायालय द्वारा संज्ञान में लेते हुए दिन प्रतिदिन सुनवाई करते हुए गवाहानों का न्यायालय में गवाही कराते हुए उ0प्र0 शासन की मंशा के अनुरूप "मिशन शक्ति अभियान" एवं आपरेशन कन्विक्शन के तहत उपरोक्त अपराधी का ट्रायल समाप्त कर मा0 विशेष न्यायालय पाक्सो द्वितीय जनपद वाराणसी।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

द्वारा अभियुक्त  अशुतोष मिश्रा उर्फ राहुल पुत्र सुरेन्द्र मिश्रा नि0-बसवरिया थाना जंसा वाराणसी को धारा 363 भादंसं के अन्तर्गत 05 वर्ष का सश्रम कारावास व 3000/-रूपये का अर्थदण्ड व धारा 377 भादंसं के अन्तर्गत 07 वर्ष का सश्रम कारावास व 5000/-रूपये के अर्थदण्ड व धारा 6 पाक्सो एक्ट के अन्तर्गत 20 वर्ष का सश्रम कारावास व 10,000/- रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया गया तथा अर्थदण्ड न दिये जाने के सन्दर्भ में 02 माह अतिरिक्त कारावास के दण्ड से दण्डित होगा ।

जिसकी प्रभावी पैरवी अपर पुलिस उपायुक्त,महिला अपराध,कमिश्नरेट वाराणसी द्वारा की जा रही थी, साथ ही मामले की पैरवी विशेष लोक अभियोजक संतोष कुमार सिंह उ0नि0 राम आशीष मुन्नाराम म0आ0 अंशु पाण्डेय द्वारा की गयी ।

इस प्रकार उपरोक्त अधिकारी/कर्मचारीगण द्वारा मा0 न्यायालय में महिला सशक्ति अभियान के अन्तर्गत विशेष पैरवी करके मामले की पीड़िता को न्याय दिलाया गया ।

Share this story