×

Varanasi News: पूर्वोत्तर रेलवे ने कर्मचारियों को किया ड्रेस वितरण

varanasi news, varanasi hindi news, varanasi today news, varanasis amachar, varanasi today news in hindi ,varanasi today hindi news, varanasi latest news Varanasi latest news, hindi news, breaking news in hindi, varanasi crime news, varanasi police news, varanasi dm news, varanasi jiladhikari news, banaras police, varanasi dm, varanasi commissioner news, varanasi ganja taskar, ganja taskar in varanasi, varanasi ganja shop

वाराणसी। पूर्वोत्तर रेलवे यात्री प्रधान रेलवे है, जो अपने उपभोक्ताओं की उन्नत यात्रा सुविधा उपलब्ध कराने के लिये सतत प्रयत्नशील है। यात्रा के दौरान यात्रियों को सुविधाजनक एवं आरामदायक यात्रा अनुभव कराने के लिये प्रभावी कदम उठाये जा रहे हैं। 


इसी क्रम में वाराणसी मण्डल के बनारस, छपरा एवं मऊ स्टेशनों के कोचिंग डिपो के सभी रेकों में 15 मई, 2023 के अनुबन्ध के अनुसार नया ऑन बोर्ड लिनेन वितरण (ओ.बी.एल.डी.) शुरू कर दिया गया है।

इससे पूर्व यात्रियों को ऑन बोर्ड लिनेन वितरण स्टाफ एवं अन्य सेवायें जैसे- ऑन बोर्ड हाउसकीपिंग सर्विस (ओ.बी.एच.एस.), वातानुकूलन (ए.सी.) मैकेनिक कर्मियों के बीच पहचान करने में समस्या हो रही थी तथा इस सम्बन्ध में ‘रेल मदद‘ पोर्टल के माध्यम से शिकायत एवं सुझाव प्राप्त हो रहे थे।

तद्नुरूप रेलवे प्रशासन द्वारा एक नई पहल शुरू की गई है, जिसके अन्तर्गत कर्मचारियों के ड्रेस कोड में परिवर्तन किया गया है। 

-  नये ड्रेस कोड के अनुसार ऑन बोर्ड लिनेन वितरण (ओ.बी.एल.डी.) कर्मियों को नीले रंग का ड्रेस तथा उच्च दृश्यता वाली नारंगी जैकेट प्रदान किया जायेगा। जैकेट पर बेडरोल एवं ए.सी. लेबल अंकित होगा।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">


-   इस नई व्यवस्था में आगमन एवं प्रस्थान दोनों स्टेशनों पर ऑन बोर्ड लिनेन वितरण (ओ.बी.एल.डी.) कर्मचारियों की ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (जी.पी.एस.) कैमरा द्वारा उपस्थिति दर्ज की जा रही है।


-   इस नई व्यवस्था से ट्रेन में यात्री सुविधाओं में उल्लेखनीय सुधार होगा, जिसका सीधा लाभ यात्रियों को मिलेगा। 


-    वाराणसी मण्डल में इस नई व्यवस्था को लागू कर दिया गया है। इस सुविधा पर मिले फीडबैक के आधार पर आगे अन्य कोचिंग डिपो में भी इस प्रकार की व्यवस्था लागू की जा सकती है। 
 

Share this story