×

Republic Day: बरेका में 75वां गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास के साथ मनाया गया

Republic Day: बरेका में 75वां गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास के साथ मनाया गया

Republic Day: बनारस रेल इंजन कारखाना स्टेडियम में आज दिनांक 26 जनवरी, 2024 को 75वां गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास एवं विविध रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति के साथ मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि महाप्रबंधक बासुदेव पांडा द्वारा ध्वजारोहण के साथ परेड द्वारा सलामी एवं राष्ट्रीय धुन की प्रस्तुति के साथ हुआ। तत्पश्चात मुख्य अतिथि द्वारा रेलवे सुरक्षा बल, सेन्ट जॉन्स एम्बुलेन्स ब्रिगेड, नागरिक सुरक्षा दल, भारत स्काउट्स एवं गाइड्स, कब एंड बुलबुल के परेड टुकड़ियों का निरीक्षण किया गया। 


मुख्य अतिथि ने अपने संबोधन में कहा कि आज के दिन, हम अपने पूर्वजों को, कृतज्ञता के साथ याद करते हैं। जिनके प्रयासों से, देश को न केवल बहुमूल्य संप्रभुता मिली, बल्कि, सामाजिक और आर्थिक स्वतंत्रता मिली। पूर्वजों के त्याग से प्रेरित होकर, हमें भी अपनी आने वाली पीढ़ी के बारे में सोचना है तथा, भारत को एक सामाजिक रूप से न्यायसंगत और आर्थिक रूप से मजबूत देश बनाने की दिशा में योगदान देना है। आज भारत दूनिया का पांचवा सबसे बड़ा अर्थव्यवस्था वाला देश बन गया है। हम चांद के बाद अब सूर्य पर भी अपना कदम रखने जा रहे हैं । बंदे भारत ट्रेन भारतीय रेल के लिए सुगम यातायात में क्रांतिकारी पहल है।

Republic Day: बरेका में 75वां गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास के साथ मनाया गया


मुख्य अतिथि ने कहा कि बरेका द्वारा दिसम्बर माह तक 280 WAG-9, 40 WAP-7 और 4 WDG3A (NRC) सहित कुल 324 लोकोमोटिव का रिकार्ड निर्माण हुआ। यह किसी भी वर्ष के, अप्रैल माह से दिसम्बर माह तक का, सर्वाधिक निर्माण है। बरेका द्वारा जून 2023 में, 51 इलेक्ट्रिक लोको का निर्माण किया गया है, जो किसी भी एक महीने में अभी तक का सर्वाधिक लोको उत्पादन है। इस वित्त वर्ष में, हमें 460 लोकोमोटिव के निर्माण का लक्ष्य मिला है। हम अपनी कड़ी मेहनत से, इस लक्ष्य को पार करके, 460 से अधिक लोकोमोटिव बनाएंगे। भारतीय रेल के मौजूदा ढांचे को, बेहतर बनाने के दिशा में, महत्वपूर्ण योगदान देते हुए, बरेका ने, अपनी स्थापना से ही सक्रिय रहते हुए, दिसंबर 2023 में दस हजारवाँ लोकोमोटिव निर्मित किया। यह लोकोमोटिव माननीय प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी द्वारा, दिनांक 18 दिसम्बर 2023 को, लोक सेवा हेतु, राष्ट्र को समर्पित किया गया। 

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">


बरेका, भारतीय रेलवे के लिए, लगातार राजस्व अर्जित करने वाली एक अद्वितीय इकाई है। बरेका को वित्तीव वर्ष 2023-24 में, गैर रेलवे ग्राहकों से ₹148 करोड़ के 13 रेल इंजनों के आपूर्ति आदेश प्राप्त् हुए हैं। वर्तमान वित्त वर्ष में, मोजाम्बिक निर्यात के लिए, 3300 अश्व शक्ति के 10 केप गेज लोकोमोटिव का आदेश, मेसर्स राइट्स के माध्यम से प्राप्त हुआ है। इस वित्त वर्ष में, निर्यात के लिए 2 उच्च अश्व शक्ति ब्रॉड गेज लोकोमोटिव, को स्टैन्डर्ड गेज में परिवर्तित किए जाने का आदेश मिला है। साथ ही, इस वित्तीय वर्ष में, अब तक, हमने, गैर रेलवे ग्राहकों को एक करोड़ तिरसठ लाख के, पूर्जों की आपूर्ति की है। जोनल रेलवे की सुगमता के लिए, दिसम्बर 2023 से, कवच सुविधा युक्त लोकोमोटिव, बरेका से भेजा जा रहा है। वर्ष 2023-24 में, सामग्री प्रबंधन विभाग ने, 30.11.2023 तक कुल ₹5746 करोड़ मूल्य के, सामान का आदान-प्रदान किया। यह विगत वर्ष में 30.11.2022 की तुलना में, लगभग एक हजार करोड़ रूपया अधिक है। 

Republic Day: बरेका में 75वां गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास के साथ मनाया गया


बरेका ने, संरक्षा की दिशा में, अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल किया है। यह सभी, अधिकारियों एवं कर्मचारियों में, संरक्षा के प्रति जागरुकता, सतत प्रयास, उचित हाउसकीपिंग एवं बेहतर कार्यप्रणाली का ही परिणाम है कि, बरेका लगातार पाँचवें वर्ष भी दुर्घटना मुक्त रहा है। पिछले वित्त वर्ष 2022-23 की तुलना में, ऊर्जा खपत में, 21% की कमी आई है। कुल ऊर्जा खपत में, सौर ऊर्जा की भागीदारी 22% है। पिछले वित्त वर्ष 2022-23 की तुलना में, सौर ऊर्जा उत्पादन में, 1% की वृद्धि हुई है। रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार, 221 कर्मचारियों को NPS से OPS योजना में लाया गया। 


रेल लाभार्थियों को, बेहतर चिकित्सा सुविधा प्रदान करने हेतु, बरेका चिकित्सालय को, अत्याधुनिक मशीनों से सुसज्जित किया जा रहा है। इसी क्रम में, बरेका चिकित्सालय के सर्जरी विभाग में, आधुनिक लैप्रोस्कोपिक मशीन, माइकोड्रील बर मशीन एवं ओटी टेबल स्थापित किया गया, जिससे मरीजों को और बेहतर चिकित्सालय सुविधा, बरेका चिकित्सालय में ही, उपलब्ध कराई जा सके। भविष्य में आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए, आगे की रणनीति भी अपनायी जा रही है तथा चिकित्सा‍ सुविधा को बेहतर बनाने के लिए, माड्यूलर ओटी एवं डिजास्टर वार्ड का कार्य निर्माणाधीन है।


देश की युवाशक्ति को सक्षम बनाने हेतु, बरेका कटिबद्ध है। इस उद्देश्य से, रेल कौशल विकास योजना के अंतर्गत, 18 से 35 वर्ष के आयु वर्ग के, 10वीं पास युवाओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है। बरेका, इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को, पूरे देश में सफलता पूर्वक संचालित करने के लिए, नोडल एजेंसी नामित है। इस योजना के अंतर्गत, भारतीय रेल के विभिन्न ट्रेनिंग सेंटरों में अभी तक, 27500 से अधिक युवाओं को प्रशिक्षित किया जा चुका है।


हमारे लिए गौरव की बात है कि, बनारस रेल इंजन कारखाना के महानिरीक्षक/रेलवे सुरक्षा बल रणवीर सिंह चौहान को 75वें गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर महामहिम राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रपति पुलिस पदक (President Police Medal) प्रदान किया गया । रेल मंत्रालय द्वारा, मुख्य विद्युत इंजीनियर/लोको को, रेलमंत्री राजभाषा रजत पदक प्रदान किया गया। संसदीय राजभाषा समिति ने भी, बरेका में राजभाषा प्रयोग की सराहना की है। 


खेलकूद के क्षेत्र में भी बरेका परिवार के सदस्यों ने, इस वर्ष अनेक कीर्तिमान रचे। अखिल भारतीय एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में, सुश्री रेखा सिंह ने सिल्वर, एवं दयाशंकर ने ब्रॉन्ज़ मेडल जीत कर, बरेका को गौरवान्वित किया।  जगमीत सिंह, 52वें सीनियर नेशनल मेन हैंडबाल चैम्पियनशिप के सिल्वर मेडल विजेता टीम के सदस्य रहे। साथ ही, फ़्रांस में आयोजित 16वें विश्व रेलवे शूटिंग चैंपियनशिप में,  दीपिका पटेल ने, गोल्ड मेडल जीत कर, बरेका एवं भारतीय रेल का परचम, विश्व पटल पर लहराया। 


बरेका महिला कल्याण संगठन द्वारा, बरेका परिसर में वृहद वृक्षारोपण, बाल निकेतन स्कू्ल को नई टेबल-चेयर, वाटर कूलर, संविदा पर कार्य करने वाले कर्मचारियों के मध्य फूड पैकेट, एवं कंबल का वितरण, केंद्रीय चिकित्सालय को एक नग टी.वी., आर.पी.एफ. को म्यूाजिक सिस्टम, सेवानिवृत्त  हो रहे 30 कर्मचारियों को, उत्कृष्ट कार्य करने के लिए, ट्राली बैग एवं सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया गया।  


बरेका के हर छोटे बड़े आयोजनों में, सुरक्षा के समुचित प्रबन्धन में, बरेका नागरिक सुरक्षा संगठन एवं सेंट जॉन्स एम्बुलेंस ब्रिगेड अतुल्य योगदान देते हैं । दोनों संगठनों के सदस्यों द्वारा, कर्मशाला में कई बार छोटी आग पर काबू पाकर, बड़ी दुर्घटना होने से रोका है। विदित हो कि, इस वर्ष नागरिक सुरक्षा संगठन के 8 सदस्यों को, DGCD (Director General-Civil Defense) अवार्ड के लिए घोषणा किया गया है, जो कि बरेका के लिए गौरव का विषय है। इसी प्रकार, बरेका के सुनील कुमार, जिला संगठन आयुक्त/स्काउट को, 20वीं अखिल भारतीय रेल जंबूरेट में, पूर्वोत्तर रेलवे भारत स्काउट एण्ड गाइड राज्य संगठन का, कॉन्टीजेन्ट लीडर के रूप में, नेतृत्व करने का अवसर प्राप्त हुआ। 


प्राकृतिक संपदा का संरक्षण, भावी पीढ़ी के प्रति हमारा सर्वोपरि कर्तव्य है। बरेका परिवार, पर्यावरण संरक्षण की दिशा में, सदैव सचेत है। बरेका में इस वर्ष, कुल 2465 वृक्षारोपण कर, पर्यावरण संरक्षण की दिशा में, अतुलनीय प्रयास किया गया। बरेका को स्वच्छ रखने में, प्रत्येक कर्मचारी ने अपना योगदान दिया है एवं समय-समय पर, स्वच्छता अभियान चला कर, परिसर को साफ-सुथरा किया।


मुख्य अतिथि महोदय ने 75वें गणतंत्र दिवस समारोह के लिए बरेका परिवार को बधाई देते हुए अपने संबोधन का समापन किया। संबोधन के उपरांत महाप्रबंधक महोदय न शारीरिक रूप से दिव्यांग 3 कर्मचारियों एवं उनके आश्रितों को कर्मचारी हित निधि से सहायता स्वंरूप उपकरण प्रदान किया। रंग-बिरंगी झण्डियों एवं फूल-पत्तियों से सुसज्जित स्टेडियम में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में बरेका सांस्कृतिक संस्था द्वारा आकर्षक परिधानों में देशभक्ति से ओत-प्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। समारोह के अंत में धन्यवाद ज्ञापन जन सम्पर्क अधिकारी राजेश कुमार एवं कार्यक्रम का सुरूचिपूर्ण संचालन वरिष्ठ अनुवादक अमलेश श्रीवास्तव द्वारा किया गया।

Share this story