दूसरी डोज के प्रमाणपत्र के बिना नहीं मिलेगा राशन, विद्यार्थियों के लिए भी अलर्ट: वाराणसी डीएम
dm varanasi

कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज होने के साथ ही वाराणसी जिला प्रशासन ने टीकाकरण अभियान में शामिल नहीं हो रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की योजना तैयार कर ली है। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कोरोना टीके की दोनों डोज नहीं लेने वाले लोगों को सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान से मिलने वाले राशन पर रोक लगाने की चेतावनी जारी की है। 
साथ ही विद्यालयों और 10वीं के छात्रों को लिए कोरोना टीका के लिए अलर्ट किया गया है।

जिलाधिकारी ने बताया कि वाराणसी में पहला कोविड का टीका लगवा चुके लोगों में से टीके की दूसरी डोज की तिथि लगभग तीन लाख 50 हजार लोगों की ड्यू हो गई है। इनको शामिल करते हुए लगभग 10 लाख लोगों ने दूसरा टीका नहीं लगवाया है। कोविड की तीसरी लहर तेजी से फैल रही है फिर भी ऐसे लोग टीके के प्रति गंभीर नहीं है।
 

राशन के कोटेदारों को निर्देश

ऐसे में यह फीडबैक आया है कि शायद कुछ लोग वाराणसी से बाहर चले गए हों। ऐसे लोगों को राशन जारी करना जनहित में ठीक नहीं है। ऐसे में सभी राशन के कोटेदारों को निर्देश जारी करने पर विचार किया जा रहा है कि सभी कार्ड होल्डर परिवार के सदस्यों के दोनों टीकों के सर्टिफिकेट लेना शुरू करें और जो लोग दोनों टीकों के प्रमाणपत्र न दिखा पाएं उनका राशन न बाटें।

उन्होंने विद्यालय और छात्रों को भी चेतावनी दी है कि जो विद्यालय अपने विद्यार्थियों को 100 फीसदी टीका लगवाने में 16 जनवरी शाम तक असमर्थ रहेंगे, उनको और उनके बच्चों को बोर्ड परीक्षा से डीबार किया जाएगा। कुछ बच्चे जिनके स्कूल में नाम तो दर्ज हैं पर स्कूल के बुलाने पर स्कूल नहीं जाते उनके नाम काटने पर भी विचार किया जा रहा है। इसमें लापरवाही पर प्रधानाचार्य और कक्षा अध्यापकों पर भी विभागीय कार्यवाही और जनवरी का वेतन रोकने की तैयारी की जा रही है।

वाराणसी में करीब 49 लाख लोगों को लगा टीका

वाराणसी जिले में शहरी, ग्रामीण इलाकों में बने केंद्रों, स्कूलों में शुक्रवार को 22,902 लोगों ने टीका लगवाया। इसमें 15 से 18 साल तक के 12,927 किशोरों और 723 फ्रंट लाइन वर्कर्स का भी टीकाकरण हुआ। सीएमओ डॉ. संदीप चौधरी ने बताया कि शुक्रवार को कुल 22,902 टीकाकरण में सबसे ज्यादा 19,376 लोगों ने पहली डोज और 2803 लोगों ने दूसरी डोज लगवाई।

सीएमओ ने बताया कि अब तक जिले में कुल 48,63,685 कोरोना डोज लगाई जा चुकी हैं। इसमें से 29,20,214 (98.5 प्रतिशत) को पहली डोज और  18,06,511 (60.9प्रतिशत) को दूसरी डोज लग चुकी है। इसमे 5,961 प्रीकॉशनरी डोज लगाई जा चुकी हैं। इसके साथ ही अब तक 1,30,999 (50 प्रतिशत) किशोरों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है।

Share this story