योगी सरकार 2.0 ने रोजगार और अवस्थापना सुविधाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है- पर्यटन मंत्री, जयवीर सिंह
योगी सरकार 2.0 ने रोजगार और अवस्थापना सुविधाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है- पर्यटन मंत्री, जयवीर सिंह

योगी सरकार 2.0 ने 6.15 लाख करोड़ रुपए से अधिक के विशाल एवं सर्व समावेशी बजट में कानून-व्यवस्था, खेती-किसानी, महिला एवं बाल कल्याण, युवा, चिकित्सा व स्वास्थ्य, शिक्षा, सामाजिक सुरक्षा, रोजगार और अवस्थापना सुविधाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है- पर्यटन मंत्री, जयवीर सिंह

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति तथा वाराणसी मंडल के प्रभारी मंत्री जयवीर सिंह ने उत्तर प्रदेश सरकार की 100 दिन उपलब्धियों की जानकारी देते हुए बताया कि योगी सरकार 2.0 ने 6.15 लाख करोड़ रुपए से अधिक के विशाल एवं सर्व समावेशी बजट में कानून व्यवस्था, खेती किसानी, महिला एवं बाल कल्याण, युवा, चिकित्सा व स्वास्थ्य, शिक्षा, सामाजिक सुरक्षा, रोजगार और अवस्थापना सुविधाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। 100 दिनों के अल्प समय में ही लोक कल्याण संकल्प पत्र के 130 बिंदुओं में से 97 बिंदुओं पर क्रियान्वयन कर एक बड़ा मील का पत्थर स्थापित किया है।

मंत्री जयवीर सिंह ने कानून व्यवस्था एवं मातृ शक्ति का सम्मान का उल्लेख करते हुए बताया कि योगी सरकार की अपराध एवं अपराधियों के विरूद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति हैं। धार्मिक स्थलों से 74385 लाउड स्पीकर हटाए गए, इसके अतिरिक्त 50,000 से अधिक लाउड स्पीकरो की ध्वनि कम कराई गई। 10,000 से अधिक पुलिसकर्मियों की भर्ती, प्रत्येक थाने में साइबर हेल्प डेस्क की स्थापना, सभी तहसील मुख्यालयों पर स्टाफ सहित फायर टेंडर स्थापित कराए गए। 11 थानों की स्थापना किया गया। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत एक लाख नवीन बालिकाओं को धनराशि अंतरण किया गया।

जनप्रतिनिधियों तथा अधिकारियों ने 6591 आंगनवाड़ी केंद्र गोद लिए। शिक्षा एवं स्वास्थ्य व्यवस्था के अंतर्गत 16 करोड़ से अधिक लोगों को कोरोना टीके की दोनों डोज लगवाया गया। संपूर्ण टीकाकरण 34 करोड़ के पार हुआ। विशेष संचारी रोग नियंत्रण/दस्तक अभियान के तहत एईएस-जेई वायरस के खिलाफ सघन अभियान चलाया गया। राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को कैशलेस चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराया गया। एक जिला-एक मेडिकल कॉलेज की नीति के तहत पर जिले में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना का कार्य गतिमान है। अब तक 59 मेडिकल कॉलेज संचालित हैं। 22 मेडिकल कॉलेजों की स्वीकृति/निर्माण प्रक्रियाधीन है।

मंत्री जयवीर सिंह ने संस्कृति एवं पर्यटन पति के प्रगति की जानकारी देते हुए बताया कि 172 पर्यटन विकास परियोजनाएं पूर्ण हुई। इको एंड रूरल टूरिज्म बोर्ड का गठन किया गया। जिला पर्यटन एवं संस्कृति परिषद गठित हुई। वाराणसी, कुशीनगर श्रावस्ती एवं संकिसा में बुद्धिस्ट कांक्लेव का आयोजन किया गया। वर्ष 2025 में आयोजित होने वाले कुंभ के भव्य आयोजन हेतु वित्तीय वर्ष 2022-23 में 100 करोड़ रुपए की व्यवस्था सुनिश्चित किया गया है।

ग्लोबल इनसाइक्लोपीडिया ऑफ रामायण के अंतर्गत 10 ग्रन्थों का प्रकाशन, गौतम बुद्ध चरित ग्रंथ का प्रकाशन तथा उत्तर प्रदेश के जैन तीर्थकरो पर पुस्तिकाओं का प्रकाशन किया गया। उन्होंने बताया कि तृतीय ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 80 हजार 244 करोड़ की 1406 परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया। 06 लाख व्यक्तियों को रोजगार मिलेगा। 296 किलोमीटर लंबी बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का कार्य पूर्ण हुआ, जबकि गंगा एक्सप्रेस-वे का कार्य प्रगति पर है। इज ऑफ डूइंग बिजनेस के अंतर्गत 189 मदों एवं ईज आफ लिविंग के 21 मदों की कार्य पूर्ण हुई।

ईज आफ डूइंग बिजनेस में प्रदेश को अचीवर्स स्टेट का स्थान प्राप्त हुआ। उन्होंने बताया कि बाढ़ से बचाव हेतु 591 करोड़ की 62 परियोजनाएं पूर्ण हुई। 64 बस स्टेशनों का सौंदर्यीकरण कराया गया। 63 नई बसें बेड़े में शामिल की गई। नमामि गंगे कार्यक्रम के अंतर्गत 25 परियोजनाएं पूर्ण की गई। 574 ग्रामो में पाइप पेयजल परियोजनाएं पूर्ण किया गया, इससे 3.76 लाख घरों में कनेक्शन दिए गए। 84 सेतु का निर्माण कार्य पूर्ण किया गया। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के सभी लाभार्थियों को होली व दीपावली पर दो निशुल्क एलपीजी सिलेंडर देने के लिए 3302 करोड़ रुपये का बजट का प्रावधान किया गया।

पीएम किसान सम्मान निधि से 2.59 करोड़ किसानों को 47 हजार 397 करोड़ की धनराशि हस्तांतरित की गई। प्रदेश के गन्ना किसानों को 19 मार्च 2017 से अब तक 176638 करोड़ रुपये का रिकॉर्ड भुगतान किया गया। पिछले 100 दिनों में 12,537 करोड रुपए के गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया। 08 लाख कृषकों को 4635 करोड़ रुपए का फसली ऋण वितरित किया गया। आगामी 3 अगस्त को मंत्री जयवीर सिंह वाराणसी दौरे के दौरान वाराणसी में विगत 100 दिनों में हुए उपलब्धियों की विस्तृत जानकारी पत्र प्रतिनिधियों को देंगे।

Share this story