जब Raju Srivastav ने कहा था मुख्तार को बांदा क्यों ले जा रहे हो? काशी लाओ मोक्ष मिलेगा!
जब Raju Srivastav ने कहा था मुख्तार को बांदा क्यों ले जा रहे हो? काशी लाओ मोक्ष मिलेगा!

यूपी फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष और मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का दिल्ली स्थित एम्स में निधन हो गया है। वह बीते 42 दिन से एम्स में भर्ती थे। राजू श्रीवास्तव के निधन से उनके परिजनों और प्रशंसकों में शोक की लहर दौड़ गई है।

राजू श्रीवास्तव का काशी से भी अटूट नाता था। पिछले साल अप्रैल और दिसंबर में वह दो बार काशी आए थे। उस दौरान उन्होंने अपने चिर-परिचित अंदाज में सपा, कांग्रेस और बसपा पर निशाना साधा था।

बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी के लिए उन्होंने कहा था कि इधर, राजू श्रीवास्तव जब एम्स में भर्ती हुए तो उनके जल्द स्वस्थ होने के लिए काशी में हवन-पूजन भी किया गया था। पढ़िए, राजू श्रीवास्तव और काशी से जुड़ी उनकी यादें...।

अरे भाई पंजा नहीं कमल दिखाओ

कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव 27 दिसंबर 2021 को काशी फिल्म फेस्टिवल के उद्घाटन में आए थे। उनका अभिवादन कर रहे लोग हाथ का पंजा दिखा रहे थे। तब माहौल चुनावी देखते हुए राजू ने कहा था कि अरे भाई पंजा नहीं कमल दिखाओ। आपका यह अभिवादन कांग्रेस को फायदा पहुंचा सकता है।

उन्होंने आगे कहा था कि एक ऐसा ही किस्सा है कि एक रात बहन मायावती एक गरीब बुढ़िया के घर पहुंच कर दरवाजा खटखटाती हैं। उनका पीए कहता है कि अरे आज बहनजी आपके घर में सोएंगी। इतने में बुढ़िया कहती है कि जगह नहीं है। एक ही खाट है जिस पर राहुल गांधी पहले से सोए हुए हैं। पीए कहता है कि अरे चटाई तो होगी घर में उसी पर रात काट लेंगी।

इस पर बुढ़िया झल्लाते हुए कहती है कि भईया उस पर शिवपाल पहले से सोए हैं। आपके लिए हमारे घर में जगह नहीं है। मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव पर व्यंग्य करते हुए उन्होंने कहा था कि मुलायम अपने भाई शिवपाल से बातचीत में कह रहे थे कि भाई मुझे अब पता चला कि अखिलेश अच्छा लड़का है।

अपराधी कोई हो सजा जरूर मिलनी चाहिए

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव 5 अप्रैल 2021 को वाराणसी आए थे थे। उस दौरान उन्होंने माफिया मुख्तार अंसारी को यूपी लाने के सवाल पर कहा था कि मुख्तार को बांदा क्यों ले जा रहे हो...? काशी लाना चाहिए, ताकि मोक्ष प्राप्त हो जाए।

उन्होंने यह भी कहा था कि अपराधी कोई भी हो उसे सजा जरूर मिलनी चाहिए। उस दौरान उन्होंने नोएडा में फिल्म सिटी के बारे में भी जानकारी दी थी। बताया था कि नोएडा की फिल्म सिटी 1200 एकड़ जमीन में बनेगी। इसके साथ ही उन्होंने बताया था कि भोजपुरी सिनेमा के लिए पूर्वांचल में फिल्म सिटी के निर्माण की योजना है।

राजू श्रीवास्तव ने तब बाबा विश्वनाथ का दर्शन-पूजन भी किया था और विश्वनाथ कॉरिडोर के निर्माण कार्य को अद्भुत बताया था। 

श्रीदेवी को याद कर हो गए थे भावुक

1 मार्च 2018 को हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव वाराणसी के अशोका इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एंड मैनेजमेंट के युवा महोत्सव ‘अभ्युदय’ में शामिल होने आए थे। उस दौरान वह दिवंगत फिल्म अभिनेत्री श्रीदेवी को याद कर भावुक हो गए थे।

उन्होंने बताया था कि खुदा गवाह फिल्म की रिलीज के बाद एक प्रोग्राम के सिलसिले में मैं श्रीदेवी के साथ विदेश टूर पर गया था। वहां अमिताभ बच्चन साहब नहीं थे। श्रीदेवी के साथ मुझे ‘तू मुझे कबूल’ पर डांस प्रोग्राम देना था। वो मेरा शुरुआती दौर था और श्रीदेवी सुपरस्टार थी। इसके बावजूद मैं जो गलतियां करता था वह पूरे धैर्य के साथ सही कराती थीं। वो हमेशा याद रहेंगी। 

जब Raju Srivastav ने कहा था मुख्तार को बांदा क्यों ले जा रहे हो? काशी लाओ मोक्ष मिलेगा!

बीएचयू में युवा महोत्सव स्पंदन में हुए थे शामिल

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव 27 मार्च 2017 को बीएचयू के युवा महोत्सव स्पंदन में शामिल होने आए थे। हर-हर महादेव के उद्घोष के बाद राजू ने शुरुआत एंटी रोमियो स्क्वॉड से की थी। उन्होंने कहा था कि आजकल एक समस्या हो गई है।

अब कपल फिल्म देखने जाते हैं तो तीन टिकट लेते हैं क्योंकि उनके बीच एक एंटी रोमियो स्कवॉड वाला भी बैठता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि यूपी में योगी सरकार आई, आना भी चाहिए था लेकिन, मैं राहुल गांधी की बहुत इज्जत करता हूं।

उन्हीं की वजह से भाजपा की सरकार बनी। लेकिन, उनमें जरा भी घमंड नहीं आया।

आजाद पार्क में झाड़ू लगाए थे राजू


राजू श्रीवास्तव 6 मार्च 2016 को लहुराबीर स्थित आजाद पार्क में झाड़ू लगाए थे। वह पीएम नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान से जुड़े थे। उस दौरान पत्रकारों से उन्होंने जेएनयू के तत्कालीन स्टूडेंट यूनियन अध्यक्ष कन्हैया पर टिप्पणी की थी। कहा था कि उसने तो अपनी गलती स्वीकार कर ली है।

फिर भी उसके जैसे लोगों के साथ देश बिल्कुल नहीं है। जल्द ही उसे सद्बुद्धि मिलेगी। उसे माफ कर देना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने चुटीले अंदाज में कहा था कि जेएनयू प्रकरण पर टिप्पणी करते समय शत्रुघ्न सिन्हा ने कुछ ज्यादा ही चढ़ा ली थी।

Raju Srivastava Death: नहीं रहे मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव! महीनों से थे एम्स में भर्ती...

raju srivastav deathnews

Raju Srivastava Death:  कॉमेडी के दुनिया के सबसे फेमस और इंडिया के बेस्ट कॉमेडियन में से एक राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastava) अब इस दुनिया में नहीं रहे। 

उन्होंने बुधवार को दिल्ली के एम्स में आखिरी सांस ली। 10 अगस्त को जिम में वर्कआउट करने के दौरान राजू श्रीवास्तव को हार्ट अटैक आया था जिसके बाद उन्हें तुरंत दिल्ली के एम्स (AIIMS)  हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया।

 जिंदगी और मौत के बीच 40 दिनों की लंबी लड़ाई लड़ने के बाद आज कॉमेडियन का निधन हो गया। 

  Gold Price Today: सोने चांदी की कीमत में उछाल, जानिए क्या है आज सोने-चांदी का भाव!

बता दें कि हॉस्पिटल में एडमिट करवाने के बाद से ही राजू श्रीवास्तव की हालत नाजुक बनी हई थी। 

कॉमेडियन को पहले आईसीयू में एडमिट करवाया गया था, लेकिन तबीयत में कोई सुधार ना होने के बाद उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट कर दिया गया। 

भरपूर कोशिश के बाद भी डॉक्टर्स राजू श्रीवास्तव को बचा नहीं पाए और सबको हंसाने वाले कॉमेडियन सबको रुलाकर हमेशा के लिए इस दुनिया से चले गए।

10 अगस्त से वेंटिलेटर पर थे

कॉमेडियन को 10 अगस्त को सुबह हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उन्हें दिल्ली के AIIMS में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने उनके सिर का सीटी स्कैन कराया तो दिमाग के एक हिस्से में सूजन मिली थी।

15 दिन बाद जानकारी मिली कि उन्होंने अपना एक पैर मोड़ा था, लेकिन उन्हें होश नहीं आया और उनका ब्रेन भी रिस्पॉन्स नहीं कर रहा था।

 School Holiday in October 2022: अक्टूबर में छुट्टी ही छुट्टी, खबर देख बनाएं टूर की प्लानिंग  

AIIMS में राजू की एंजियोप्लास्टी की गई थी, जिसमें हार्ट के एक बड़े हिस्से में 100% ब्लॉकेज मिला था। राजू के परिवार में उनकी पत्नी शिखा, बेटी अंतरा, बेटा आयुष्मान, बडे़ भाई सीपी श्रीवास्तव, छोटे भाई दीपू श्रीवास्तव, भतीजे मयंक और मृदुल हैं।

राजू ने 2014 में BJP जॉइन की थी। वे काम के सिलसिले में दिल्ली पार्टी के कुछ बड़े नेताओं से मिलने के लिए दिल्ली पहुंचे थे। वह दिल्ली के साउथ एक्स के कल्ट जिम में 10 अगस्त की सुबह वर्क आउट कर रहे थे। इस दौरान ट्रेडमिल पर रनिंग करते समय उन्हें चेस्ट में पेन हुआ और वे नीचे गिर गए थे।

इसके बाद उन्हें फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया। राजू हमेशा अपनी फिटनेस पर ध्यान रखते थे और वह फिट और फाइन थे। 31 जुलाई तक वो लगातार शोज कर रहे थे, उनके आगे कई शहरों में शोज भी लाइन अप थे।

मदिरा प्रेमियों के लिए बुरी खबर! ये खबर तोड़ देगा शराब प्रेमियों का दिल

कानपुर से तय किया था मुंबई का सफर

राजू श्रीवास्तव का असली नाम सत्य प्रकाश श्रीवास्तव है। उनका जन्म 25 दिसंबर 1963 को कानपुर के नयापुरवा में हुआ था। उन्होंने 1993 में हास्य की दुनिया में कदम रखा। 1980 में वे कानपुर से मुंबई के लिए भागे थे।

अपने घर की दीवार फांदकर पड़ोसी के घर में कूदे और वहां से सीधे मुंबई भाग गए। उनके पड़ोसियों ने बताया कि चिल्लाते हुए गए थे कि अब नाम कमाकर ही लौटूंगा।

राजू के पीआरओ गर्वित नारंग ने बताया," "राजू श्रीवास्तव दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मुलाकात करने के लिए आए थे। उनकी मुलाकात का समय तय था। वो होटल में रुके थे। कमरे में कुछ देर रुकने के बाद बुधवार सुबह वे जिम करने चले गए। वहीं पर हार्ट अटैक आया।

उसी दिन शाम को डॉक्टरों ने उनकी एंजियोप्लास्टी की, लेकिन उनका ब्रेन रिस्पांस नहीं कर रहा था। पल्स भी 60-65 के बीच था।"

राजू का हाल जानने के लिए कानपुर से पूर्व विधायक सतीश निगम भी एम्स पहुंचे थे। उन्नाव सदर से विधायक पंकज गुप्ता ने फोन पर उनका हालचाल लिया। PMO और मुख्यमंत्री ऑफिस से लगातार उनका अपडेट लिया जा रहा था।

राजू श्रीवास्तव ने कुल 16 फिल्मों और 14 टीवी शो में काम किया था।

अमिताभ बच्चन यानी बिग बी ने राजू श्रीवास्तव को खास ऑडियो संदेश भेजा था। इसमें अमिताभ कह रहे हैं- राजू उठो, बस बहुत हुआ, अभी बहुत काम करना है। अब उठ जाओ... हम सबको हंसना सिखाते रहा।" राजू को ये रिकॉर्डिंग सुनाई गई थी।

राजू के भाई और कॉमेडियन दीपू श्रीवास्तव ने बताया, "भइया की रिकवरी स्लो थी। इसलिए भइया को परिवार के रिकॉर्डेड ऑडियो मैसेज सुनाए गए। उनको गजोधर और संकठा के किस्से भी, उनकी ही आवाज में सुनाए गए थे।

राजू श्रीवास्तव लाफ्टर चैलेंज  शो के जरिए काफी मशहूर हुए थे।

राजू श्रीवास्तव 10 साल में तीन बार एंजियोप्लास्टी करा चुके हैं। उन्होंने पहली बार 10 साल पहले मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी हॉस्पिटल में और 7 साल पहले मुंबई के लीलावती हॉस्पिटल में एंजियोप्लास्टी कराई थी। इसके बाद बुधवार को तीसरी बार डॉक्टरों ने राजू श्रीवास्तव की एंजियोप्लास्टी की।

राजू श्रीवास्तव का जन्म कानपुर की एक मिडिल क्लास फैमिली में हुआ था। बचपन में इन्हें सत्य प्रकाश नाम मिला था, जो आगे जाकर राजू श्रीवास्तव बन गए।

इनके पिता रमेश चंद्र श्रीवास्तव एक सरकारी कर्मचारी थे और शौकिया तौर पर कविताएं लिखा करते थे। छुट्टियों में पिता कवि सम्मेलन का हिस्सा बना करते थे, जिन्हें बलाई काका नाम से पहचाना जाता था।

पिता से राजू को भी लोगों का मनोरंजन करने का गुर विरासत में मिला। बचपन से ही राजू घर आए मेहमानों के सामने मिमिक्री करते और स्कूल में टीचर की भी नकल उतारकर लोगों को खूब हंसाते।

कई टीचर उन्हें बद्तमीज कहते हुए सजा देते थे, लेकिन एक टीचर ऐसे भी थे जो इन्हें बढ़ावा दिया और कॉमेडी में करियर बनाने की सलाह दी।

लोगों ने राजू को लोकल क्रिकेट मैच में कमेंट्री करने की सलाह दी। इससे ये अपने हुनर को कॉन्फिडेंट के साथ लोगों के सामने पेश करने लगे। ये बचपन से ही कॉमेडियन बनना चाहते थे, लेकिन असल में इनकी प्रेरणा अमिताभ बच्चन थे।

बिग बी की फिल्म दीवार देखने के बाद राजू ने एक्टर बनने का फैसला किया

राजू बचपन से ही एक्टिंग और कॉमेडी में हाथ आजमाना चाहते थे, जिसके लिए वो 1982 में लखनऊ छोड़कर सपनों के शहर मुंबई चले आए। यहां ना रहने को घर था ना खाने के पैसे। घर से भेजे गए पैसे जब कम पड़ने लगे तो राजू ऑटो ड्राइवर बन गए। राजू अपनी सवारी को भी हंसाते थे। मुंबई में राजू को करीब 4-5 सालों तक संघर्ष करना पड़ा था।

एक दिन एक सवारी ने राजू के स्टाइल से इंप्रेस होकर उन्हें स्टेज परफॉर्मेंस देने को कहा। राजू मान गए और परफॉर्मेंस दी, जिसके लिए सिर्फ 50 रुपए मिले थे। इसके बाद राजू लगातार स्टेज शो करने लगे।

स्टेज शो करते हुए राजू श्रीवास्तव अमिताभ बच्चन की भी नकल उतारा करते थे। यहीं से लोगों ने उनके लुक की तुलना अमिताभ बच्चन से करना शुरू कर दी।

स्टेज शो करते हुए इंडस्ट्री के लोगों से जान-पहचान बढ़ी तो इन्हें फिल्मों में छोटे-मोटे रोल भी मिलने लगे। राजू पहली बार 1988 की फिल्म तेजाब में नजर आए। आगे उन्होंने करीब 19 फिल्मों में काम किया।

कॉमेडियन बनने का सफर

राजू श्रीवास्तव सबसे पहले साल 1994 के शो टी टाइम मनोरंजन में नजर आए थे। इसके बाद उन्होंने द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज के पहले सीजन में पार्टिसिपेट किया। इस शो में राजू ने तीसरा स्थान हासिल किया,

जिससे इन्हें देशभर में पहचान मिल गई। इसके बाद राजू कॉमेडी का महा मुकाबला, कॉमेडी सर्कस, देख भाई देख, लाफ इंडिया लाफ, कॉमेडी नाइट विद कपिल, द कपिल शर्मा शो और गैंग्स ऑफ हसीपुर जैसे शोज का हिस्सा रहे।

विवादों और सुर्खियों से भी घिरे रहे हैं राजू श्रीवास्तव

राजू श्रीवास्तव ने साल 2009 में रियलिटी शो बिग बॉस 3 में हिस्सा लिया था। शो में राजू श्रीवास्तव का कमाल राशिद खान से जोरदार झगड़ा खूब सुर्खियों में था।

दरअसल, जब केआरके का रोहित वर्मा से झगड़ा हुआ तो उन्होंने गुस्से में उन पर बोतल फेंक दी। बोतल जाकर शमिता शेट्टी को लगी, जिससे घर दो पक्षों में बंट गया। राजू श्रीवास्तव ने केआरके को खूब बातें सुनाई तो बात और बढ़ गई।

राजू ने केआरके से कहा था, तुम बता रहे हो करोड़ों कमाते हो, मैं लाखों रुपए डोनेट कर देता हूं, जिसकी बराबरी का तुम सोच भी नहीं सकते।

स्से में केआरके ने राजू को भद्दी गालियां देनी शुरू कर दी। दोनों के बीच जमकर गाली-गलौज हुई और दोनों मारपीट को उतारू हो गए। इस्माइल दरबार ने बीच-बचाव कर दोनों को अलग किया।

बिग बॉस 2009 के दौरान कमाल आर. खान और राजू श्रीवास्तव। इस शो पर दोनों का खूब झगड़ा हुआ था।

साल 2010 में राजू श्रीवास्तव को पाकिस्तान से धमकी भरे कॉल आए थे। धमकी में उन्हें अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कर जोक क्रेक ना करने की चेतावनी दी गई थी।

बिग बॉस 11 में परफॉर्म करने पहुंचे राजू श्रीवास्तव, एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी पर भद्दा कमेंट कर विवादों से घिर गए थे। उन्होंने कहा था, अगर शिल्पा को मां बनने के लिए उतावली थीं, तो उन्हें पता होना चाहिए था कि शक्ति कपूर उनके घर के बाहर ही खड़े थे।

उनके इस बयान से विवाद इतना बढ़ा कि राजू को माफी मांगनी पड़ी। राजू ने माफी में कहा, मेरे डायलॉग को चैनल द्वारा गलत तरीके से दर्शाया गया है। मैंने फिल्म पर डायलॉग मारा था। मैं कलर्स चैनल से नाराज हूं।

समाजवादी पार्टी कि टिकट लौटाकर बटोरी सुर्खियां

भाजपा ज्वाइन करने से पहले साल 2014 में राजू श्रीवास्तव को समाजवादी पार्टी की तरफ से लोकसभा चुनाव का टिकट मिला था, लेकिन उन्होंने कुछ समय बाद ही टिकट लौटा दिया। राजू ने कहा कि उन्हें लोकल पार्टी यूनिट से सपोर्ट नहीं मिला। इसके बाद इसी साल राजू भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए।

भाजपा ज्वाइन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ राजू श्रीवास्तव।

राजू श्रीवास्तव ने 1993 में शिखा से शादी की थी, जिससे उन्हें दो बच्चे अंतरा और आयुष्मान हैं। इनकी एक बहन और 5 भाई हैं।

Share this story