विवादों से घिरी BHU में PG के बाद सीधे PhD में एडमिशन देने की योजना
विवादों से घिरी BHU में PG के बाद सीधे PhD में एडमिशन देने की योजना

वाराणसी। BHU में PG के बाद सीधे PhD में एडमिशन देने की योजना एनी बेसेंट फेलोशिप अब विवादों में आ गई है। छात्रों का कहना है कि इसमें SC/ST के लिए आरक्षण का प्रावधान नहीं किया गया है। यह फेलोशिप सामाजिक न्याय के खिलाफ है। आज छात्रों ने विश्वविद्यालय के सेंट्रल ऑफिस का घेराव और विरोध-प्रदर्शन किया।

छात्रों ने कहा कि यहां संविधान और यूजीसी के गाइडलाइंस का उल्लंघन किया जा रहा है। UGC एक्ट 1956 के तहत यह निर्देश है कि देश के सभी सरकारी अनुदान प्राप्त करने वाले विश्वविद्यालयों, संस्थाओं और कॉलेजों में बिना रोक-टोक के आरक्षण की नीति को लागू किया जाए। छात्रों ने बताया, "केंद्रीय शिक्षा संस्था (प्रवेश में आरक्षण) अधिनियम 2006 के तहत भी केंद्र सरकार द्वारा स्थापित सभी केंद्रीय शिक्षण संस्थानों में सभी प्रकार के दाखिले में आरक्षण लागू करने का निर्देश है।''

Share this story