लाल बहादुर शास्त्री अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं- जिलाधिकारी
dm varanasi
नवनिर्मित एटीसी टावर भवन, रडार टावर आदि का जिलाधिकारी ने मौके पर किया निरीक्षण

 
वाराणसी। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा द्वारा वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री अन्तर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा के सभाकक्ष में एयरोड्रोम कमेटी की अध्यक्षता करते हुए सुरक्षा सम्बन्धी तैयारियों की समीक्षा की गयी।


  एयरपोर्ट पर एपीडी( एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया),इंडियन एयर फोर्स, एनएसजी, सीआईएसएफ, इमिग्रेशन डिपार्टमेंट, आईबी के अधिकारियों तथा सभी एयरवेज के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करते हुए हवाई अड्डे की चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के‌ लिए किये  जा रहे जरूरी उपायों पर चर्चा की।


    एयरपोर्ट पर हाइजैकिंग की परिस्थितियों में न्यूनतम समय में यात्रियों के जीवन को बचाने और उन्हें सुरक्षित मुक्त कराने के जरूरी उपायों पर प्रोजक्टर के द्वारा एयरपोर्ट निदेशक ने जानकारी दी। इसके लिए जिला प्रशासन के द्वारा क्या-क्या आवश्यक सुविधाएं मुहैया करायी जानी चाहिए, बताया। सूचनाओं के त्वरित आदान-प्रदान, हाइजैकर्स से निगोसियेशन के लिए साइकोलाजिस्ट तथा फोर्स के मोर्चेबंदी करने, एयर ट्रैफिक कंट्रोल की भूमिका और वैकल्पिक व्यवस्था के रुप में आस-पास के उपलब्ध हेलीपैड को चिन्हित किये जाने आदि महत्वपूर्ण उपाय सुझाये।


    एयरपोर्ट डायरेक्टर द्वारा हवाईअड्डे के चारों ओर की सुरक्षा तथा एनएच 56 रनवे के करीब होने से परिसर की सुरक्षा पर चिंता जताई। इसके अलावा जंगली जानवरों, पक्षियों से परिसर को सुरक्षित रखने केलिए की गयी तैयारियों की जानकारी दी।


    जिलाधिकारी ने आज हवाई अड्डा के सम्पूर्ण परिसर का स्थलीय निरीक्षण किया और बाउण्ड्री वाल के सभी गेट खुलवा कर सुरक्षात्मक दृष्टि से किये जाने वाले कार्य की सम्भावना तलाशी। इसके अलावा परिसर के चारो ओर पेट्रोलिंग/निगरानी हेतु पक्का मार्ग भी देखा।


    हवाई जहाज के लैंडिंग तथा टेक ऑफ के लिए रनवे बढ़ाने के भेजे गये प्रस्ताव की जानकारी उपलब्ध कराने के अलावा समानान्तर एक और रनवे का प्रस्ताव पर विचार करने पर जोर दिया। परिसर के बाहर आसपास के गावों के ऊंचे पेड़ों को चिन्हित करते हुए उनको वन विभाग द्वारा छटनी करने का निर्देश दिया गया। इसके अलावा आसपास के मकानो की ऊंचाई पर प्रतिबंध लाने के लिए गांव में नोटिस सर्कुलेट कराने साथ ही अधिक ऊंचाई तक बढ़ने वाले पेड़ों को लगाने पर रोक लगाये जाने के लिए हवाई अड्डा,वन विभाग तथा सम्बन्धित तहसील कर्मियों की संयुक्त टीम द्वारा सर्वे कराने का निर्देश दिया।


    बर्ड हिट की घटनाओं को रोकने के लिए हवाई अड्डा परिसर के निकट मांस मछली आदि की दुकानों को ढ़क कर मांस आदि बेचने, उनके अवशेष को खुले में फेकने पर प्रतिबंध लगाने के साथ ही आदेश की अवहेलना करने वाले दुकानदारों को एयरपोर्ट के 5 किलोमीटर की परिधि के बाहर करने के कड़े निर्देश दिए।

Share this story