ममता और मानवता हुई शर्मसार: नवजात बच्ची को ट्रेन में छोड़ा, सौंपी गई वाराणसी के काशी अनाथालय को
ममता और मानवता हुई शर्मसार: नवजात बच्ची को ट्रेन में छोड़ा, सौंपी गई वाराणसी के काशी अनाथालय को

वाराणसी में गुरुवार को ममता और मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई। यहां एक नवजात बच्ची ट्रेन की सीट के नीचे बिलखती हुई मिली। चाइल्ड लाइन की मदद से बच्ची को काशी अनाथालय को सौंप दिया गया है। डॉक्टरों के अनुसार, बच्ची पूरी तरह से स्वस्थ है।

केवड़ियां (गुजरात) से चलकर वाराणसी आने वाली ट्रेन वाराणसी के कैंट स्टेशन पर आई। ट्रेन से यात्री उतर गए तो उसे सफाई के लिए वाशिंग लाईन भेज दिया गया।

ट्रेन के अंदर साफ-सफाई के दौरान एक कर्मचारी को एस-6 बोगी की बर्थ संख्या-28 के नीचे से बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी। उसने बर्थ के नीचे देखा तो एक कपड़े में नवजात बच्ची लिपटी हुई पड़ी थी।

ममता और मानवता हुई शर्मसार: नवजात बच्ची को ट्रेन में छोड़ा, सौंपी गई वाराणसी के काशी अनाथालय को

आनन-फानन उसने अधिकारियों को सूचना दी कि ट्रेन की बर्थ में लावारिस नवजात बच्ची मिली है। रेलवे के अफसरों ने चाइल्ड लाइन से संपर्क किया तो बच्ची को मंडलीय अस्पताल ले जाया गया।

मंडलीय अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि बच्ची पूरी तरह से स्वस्थ है। डॉक्टरों के अनुसार, बच्ची का जन्म तीन से चार दिन पहले हुआ है। इसके बाद बच्ची के संबंध में लिखापढ़ी कर उसे काशी अनाथालय को सौंप दिया गया।

Share this story