वाराणसी में एसीपी ने फोर्स के साथ किया पिशाचमोचन क्षेत्र का निरीक्षण
वाराणसी में एसीपी ने फोर्स के साथ किया पिशाचमोचन क्षेत्र का निरीक्षण

वाराणसी। पिशाचमोचन कुंड (पोखरा) पर पितृपक्ष के दौरान पिंडदान आदि करने आनेवालों की भारी भीड़ की सम्भावनाओं के मद्देनजर शनिवार को एसीपी वरुणा जोन आरती सिंह फोर्स के साथ निरीक्षण किया।

इस दौरान उन्होंने निर्देश दिया कि पिशाचमोचन आनेवाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा में कोई चूक न हो। संदिग्धों पर कड़ी नजर रखी जाय।

गौरतलब है कि पितृपक्ष 11 सितम्बर से शुरू हो रहा है। ऐसे में यहां देश के विभिन्न कोनों से हजारों लोग पितरों को पिंडदान और उनकी आत्मा की शांति के लिए कर्मकांड कराने आते हैं। कोरोना काल में दो वर्ष तक यहां लोगों का आना-जाना बहुत कम हो गया था।

वाराणसी में एसीपी ने फोर्स के साथ किया पिशाचमोचन क्षेत्र का निरीक्षण

पिशाचमोचन के पंडा मुन्ना महाराज का भी मानना है कि इस बार ज्यादा भीड़ होगी। प्रशासन की ओर से पिंडदान आदि करने आनेवालों के लिए यहां टेंट आदि की व्यवस्था कर दी गई है। इसके साथ ही वहां चेतगंज और सिगरा थानों की पुलिस की तैनाती की गई है।

एसीपी ने पुलिसकर्मियों को अवांछनीय तत्वों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिये हैं। इस कुंड पर कई तरह के पिंडदान होते हैं।

वाराणसी में एसीपी ने फोर्स के साथ किया पिशाचमोचन क्षेत्र का निरीक्षण

नारायण बलि, अकाल मौत, प्रेत योनि, त्रिपिंडि, गया श्राद्ध, वार्षिक व तिथि श्राद्ध होता है। जो भी व्यक्ति पिंडदान के लिए गया जाएगा वह यहां त्रिपिंडि श्राद्ध करके ही जाएंगे।

Share this story