×
काशी में 7 दिनों की रोमांचक जलयात्रा प्रारम्भ: नेवल NCC के 60 कैडेट्स व 25 स्टाफ गंगा में तय करेंगे 153 किमी की दूरी
काशी में 7 दिनों की रोमांचक जलयात्रा प्रारम्भ: नेवल NCC के 60 कैडेट्स व 25 स्टाफ गंगा में तय करेंगे 153 किमी की दूरी

गंगा में नौसेना की रोमांच भरी जलयात्रा शुरू हो गई है। दिन भर जल यात्रा और शाम को जिस गांव में कैंप लगेगा, वहीं पर सांस्कृतिक कार्यक्रम और जलपान, भोजन आदि की व्यवस्था की जा रही है। गांव वालों में साफ-सफाई को लेकर जागरूक भी किया जा रहा है। इस दल में छात्र, छात्राओं के साथ ही सीनियर अधिकारी भी हैं। 

वाराणसी-मीरजापुर के बीच नौसेना की आज से सेलिंग यानी कि नौका यात्रा की शुरुआत हो गई है। यह यात्रा पानी में ही 7 दिनों तक चलेगी। 7यूपी नौसेना एनसीसी नौका अभियान दल ने 'मेनू -2022' की शुरुआत मीरजापुर के हरगढ गांव घाट से की।

गंगा किनारे जिस गांव में हो रहा ठहराव, वहीं पर लग रहे कैंप और चल रही ट्रेनिंग क्लासेज।

इस जलयात्रा में NCC के 60 कैडेट्स, 25 स्टाफ, 3 डीके व्हीलर नौकाएं, एक जैमिनी और एक डिफेंस बोट हिस्सा ले रहे हैं। NCC कैडेट्स समेत यह पूरा दल 22 नवंबर को वाराणसी के संत रविदास पर पहुंचेगा।

यहां पहुंचने से पहले यह पूरा दल 153 किलोमीटर की यात्रा पूरा करेगा। वहीं अभियान दल हर शाम को गंगा किनारे बसे गांवों में ही कैंप लगाकर ठहरेगा। जिन-जिन स्थानों पर ठहराव होना है उन्हें चिन्हित कर लिया गया है।

नौसेना NCC में शामिल छात्राएं गांवों में लोगों को साफ-सफाई के लिए जागरूक कर रहीं हैं।

इन गांवों में ठहरेगी नौसेना

आज का ठहराव डांगहर में, कल का निफ्रा में बनाया गया है। 18 नवंबर को विशुंधरपुर में, 19 नवंबर को भौराही, 20 नवंबर को चुनार और 21 नवंबर को गंगपुर गांव में लंगर लगाकर बोट को किनारे लगाया जाएगा।

यहीं पर शाम को कैंप लगाकर नौसेना दलों का दावत होगा। इस तरह से रोमांच से भरी 7 दिनों की यह जल यात्रा 22 नवंबर की शाम काशी पहुंचेगी। BHU के नौसेना दल की ओर से उनका स्वागत किया जाएगा।

Share this story