रेप के मुकदमे में इटावा का मौलाना जरजिस दोषी
रेप के मुकदमे में इटावा का मौलाना जरजिस दोषी

रेप और ब्लैकमेल के सात साल पुराने मामले में इटावा के चर्चित मौलाना जरजिस को वाराणसी की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने दोषी पाया है। अदालत कल आरोपी मौलाना को सजा सुनाएगी।

मौलाना जरजिस के खिलाफ यह मुकदमा 17 जनवरी 2016 को वाराणसी के जैतपुरा थाने में दर्ज किया गया था।

तकरीर करने आता था वाराणसी

मुकदमा दर्ज कराने वाली पीड़िता के अनुसार, मौलाना जरजिस वाराणसी में तकरीर करने के लिए आता था।

उस दौरान वह वाराणसी के होटलों में रुकता था। तकरीर के दौरान ही वर्ष 2013 में उसका परिचय मौलाना जरजिस से हुआ था। उसी दौरान वह उसे होटल में बुलाया था।

होटल में मौलाना जरजिस ने उसके साथ रेप किया था और उसका अश्लील वीडियो बना लिया था। इसके बाद निकाह का झांसा देकर मौलाना जरजिस ने उसके साथ अलग-अलग होटलों में कई बार दुष्कर्म और कुकर्म किया था।

 

19 नवंबर 2015 को मौलाना जरजिस उसके घर आकर दुष्कर्म किया और विरोध करने पर समाज में बदनाम करने के साथ ही जान से मारने की धमकी दिया।

काफी मिन्नतों के बाद भी मौलाना जरजिस ने उसके साथ निकाह नहीं किया तो वह वाराणसी के एसएसपी के यहां प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की गुहार लगाई थी।

एसएसपी के निर्देश पर जैतपुरा थाने में मौलाना जरजिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था। 


अधिवक्ता अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि पीड़िता व 4 गवाहों के बयान और साक्ष्य के आधार पर फास्ट ट्रैक कोर्ट ने मौलाना जरजिस को रेप सहित अन्य आरोपों में दर्ज मुकदमे में दोषी करार दिया है।

दोषी करार दिए जाते ही आरोपी मौलाना जरजिस को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया। मौलाना को कल अदालत सजा सुनाएगी।

वाराणसी में महिला की मौत के बाद जागा प्रशासन, गिराई जा रही छह मंजिला इमारत, देखे विडियो...

वाराणसी पुलिस कमिश्नर ने लिया क्राइम मीटिंग, थानेदारों को चेतावनी, शिकायत आई तो सीधा होगी कार्यवाही

वाराणसी पुलिस कमिश्नर ने लिया क्राइम मीटिंग, थानेदारों को चेतावनी शिकायत आई तो सीधा होगी कार्यवाही

वाराणसी। बड़े चिन्हित माफियाओं को सजा दिलाने के लिए पुलिस अधिकारी और अभियोजन अधिकारी आपस में टीम भावना के साथ कार्य करें ।

चिन्हित बदमाशों की अपराधों की लिस्ट तैयार रखें, न्यायलय में प्रभावी पैरवी करते हुए शीघ्र सजा दिलाई जाए।

महिलाओं के साथ हुए अपराधों के विवेचनाओं का शीघ्र निस्तारण सुनिश्चित करें । लंबे समय से एक ही जगह नियुक्त कर्मचारियों की सूची तैयार कर उनको अन्यत्र ट्रांसफर करें ।

वाराणसी पुलिस कमिश्नर ने लिया क्राइम मीटिंग, थानेदारों को चेतावनी शिकायत आई तो सीधा होगी कार्यवाही

कॉमन मैन की समस्याओं को थाना प्रभारी प्राथमिकता पर थाना स्तर पर ही निस्तारण करना सुनिश्चित करें । जनप्रतिनियों के साथ थाना प्रभारियों के द्वारा सम्मान पूर्वक एवं मर्यादित आचरण होना चाहिए।

अवैध गांजा एवं अन्य मादक पदार्थों की बिक्री की गोपनीय सूचना डेवलप कर कार्यवाही करें । 

हुक्का बार, स्पा एवं मसाज पार्लर की आड़ में गलत काम की जानकारी मिलने पर विधिक कार्यवाही करें ।

वाराणसी पुलिस कमिश्नर ने लिया क्राइम मीटिंग, थानेदारों को चेतावनी शिकायत आई तो सीधा होगी कार्यवाही

फरार गैंगस्टर की संपत्ति जब्तीकरण की कार्यवाही नियमानुसार करें । हरियाणा एवं पंजाब से हो रही शराब तस्करी के अपराधियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही की जाए ।

अवैध टैक्सी स्टैंड और रोड माफिया पर प्रभावी कार्यवाही की जाए । आगामी त्योहारों एवं पर्वों को सकुशल संपन्न कराने एवं आसन्न चुनौतियों से निपटने हेतु की गई तैयारियों की समीक्षा ।

वाराणसी पुलिस कमिश्नर ने लिया क्राइम मीटिंग, थानेदारों को चेतावनी शिकायत आई तो सीधा होगी कार्यवाही

बैठक में Addl CP, दोनों डीसीपी सहित सभी वरिष्ठ अधिकारियों ने प्रतिभाग किया ।

 School Holiday in October 2022: अक्टूबर में छुट्टी ही छुट्टी, खबर देख बनाएं टूर की प्लानिंग  

वाराणसी में महिला की मौत के बाद जागा प्रशासन, गिराई जा रही छह मंजिला इमारत, देखे विडियो...

वाराणसी में महिला की मौत के बाद जागा प्रशासन, गिराई जा रही छह मंजिला इमारत

वाराणसी। ग्रेटर नोएडा के ट्वीन टावर की तर्ज पर काशी में भी छह मंजिला इमारत आज धराशाई की जा रही है। गोदौलिया-मैदागीन मार्ग पर बासफाटक स्थित कन्हैया चित्र मंदिर के समीप मानक की अनदेखी करते हुए छह मंजिला इमारत खड़ी कर दी गई थी। 

पिछले दिनों बिल्डिंग की ईंट गिरने से महिला की मौत के बाद प्रशासनिक अमला जागा। जांच-पड़ताल में इमारत अवैध पाई गई। प्रशासन अब इसे ध्वस्त करा रहा है। 

वाराणसी में महिला की मौत के बाद जागा प्रशासन, गिराई जा रही छह मंजिला इमारत

मौके पर वीडीए के जोनल अधिकारी परमानंद यादव, एसीपी दशाश्वमेध अवधेश कुमार पांडेय के नेतृत्व में भारी फोर्स तैनात की गई है। इस दौरान आसपास की सारी दुकानें बंद रहीं। वहीं मार्ग पर आवागमन भी रोक दिया गया था। 

कन्हैया चित्र मंदिर के पास छह मंजिला इमारत निर्माणाधीन है। पिछले दिनों इमारत की ईंट गिरकर पीडीडीयू नगर निवासी एक महिला के सिर पर लगी थी। इससे महिला की मौत हो गई थी। इसके बाद इस बिल्डिंग को लेकर मुद्दा गरमाया। 

वाराणसी विकास प्राधिकरण ने इसकी जांच कराई तो इमारत मानक के विपरीत निर्मित पाई गई। इस पर इसे ध्वस्त करने का निर्णय लिया गया। इसको लेकर वाराणसी प्रशासन ने पहले ही आसपास के लोगों व दुकानदारों को सूचित कर दिया था। 

बुधवार को वीडीए के जोनल अधिकारी व एसीपी दशाश्वमेध दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। मजदूरों को लगाकर इमारत को गिराने का काम किया जा रहा है। इस दौरान मार्ग पर दोनों तरफ से बैरिकेडिंग कर आवागमन रोक दिया गया है।

 बिल्डिंग व आसपास के घरों को हरे रंग के मैट के ढंका गया है। ताकि धूल का गुबार दूसरों के लिए परेशानी का सबब न बन सके। मौके पर तमाशबीनों की भीड़ जुटी है।

Share this story