सावन में श्रद्धालुओं का विशेष ख्याल रखें- मुख्यमंत्री
सावन की व्यवस्था को बताया बेहतर, और भी सुविधाओं को बढ़ाने का दिया निर्देश 

सावन की व्यवस्था को बताया बेहतर, और भी सुविधाओं को बढ़ाने का दिया निर्देश 

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार की शाम श्री काशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचे उन्होंने दर्शन पूजन कर श्रद्धालुओं की सुविधाओं का जायजा लिया। व्यवस्था देखने पर संतोष जताते हुए आगे और अच्छी व्यवस्था करने का निर्देश दिया।


 मुख्यमंत्री लगभग 8:15 बजे मंदिर के मुख्य प्रवेश द्वार होते हुए मंदिर परिसर तक पहुंचे जहां उन्होंने गर्भगृह में जाकर षोडशोपचार पूजन किया। सावन माह  में आए मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों के लिए मंगल कामना करते हुए बाबा विश्वनाथ से आशीर्वाद प्राप्त किया। मुख्यमंत्री ने परिसर में उपस्थित श्रद्धालुओं द्वारा जयकार लगाकर किये गए अभिवादन को स्वीकार किया।

दर्शन पूजन के पश्चात मुख्यमंत्री श्री काशी विश्वनाथ धाम में श्रद्धालुओं के लिए की गई व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। उन्होंने टेंट, पेयजल, मैटिंग सहित घाट से आने वाले व अन्य प्रवेश द्वारों से आने वाले श्रद्धालुओं की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि मंदिर प्रशासन द्वारा काफी अच्छी व्यवस्था की गई है। इससे आम जनमानस में संतोष है और भी बेहतर सुविधा कैसे दे सकते हैं इस पर विचार करने की आवश्यकता है।

मुख्यमंत्री गंगा घाट तक जाकर गंगा के बढ़ाव का भी जायजा लिया। घाट किनारे बने कैफे बिल्डिंग का भी उन्होंने निरीक्षण किया, उन्होंने कहा कि इतने बड़े परिसर में साफ-सफाई सुरक्षा व्यवस्थाओं को ध्यान रखा जाए। मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने बताया कि 1 अगस्त से नई सफाई कंपनी ने कार्यभार संभाल लिया है वही अगले सप्ताह में सिक्योरिटी की टीम भी मंदिर परिसर में अपना कार्य करना शुरू कर देगी। इसके अलावा भवनों के उपयोग के लिए आर्डर जारी किए जा चुके हैं।

सावन में श्रद्धालुओं का विशेष ख्याल रखें- मुख्यमंत्री

मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि सावन में सामान्य दिन में जहां 2 से ढाई लाख लोग दर्शन कर रहे हैं वही सावन के सोमवार को 6 से 7लाख लोग दर्शन कर रहे हैं। इनके लिए टीम लगाकर व्यवस्थाएं की जा रही हैं।

पेयजल के लिए हर 10 मीटर पर काउंटर लगाया जाता है ताकि किसी भी श्रद्धालुओं को असुविधा का सामना न करना पड़े। इस निरीक्षण के दौरान अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी निखिलेश कुमार मिश्रा, विशेष कार्य अधिकारी उमेश कुमार सिंह सहित बड़ी संख्या में अधिकारी उपस्थित रहे।

Share this story