आपके सोने का तरीका बताता है, आपके व्यक्तित्व के बारे में, जाने कैसे ?
आपके सोने का तरीका बताता है, आपके व्यक्तित्व के बारे में, जाने कैसे ?

सामुद्रिक शास्त्र की मदद से जिस तरह किसी व्यक्ति की नाक, कान, मुंह, अंगुलियों आदि को देखकर उसके व्यक्तित्व के बारे में जाना जा सकता है, कुछ वैसे ही सोने का तरीका भी आपके बारे में सब कुछ बयां कर देता है. दिन भर की आपाधापी के बाद हर आदमी बिस्तर पर जाते ही एक सुकून भरी नींद लेने की कोशिश करता है, फिर चाहे उसे मलमल का गद्दा मिले या फिर टूटी खाट. जैसे-तैसे, आड़े-तिरछे हर आदमी अपनी अपनी दिन भर की थकान को दूर करने के लिए रात को सोता है, लेकिन क्या आपको पता है कि आपके सोने का तरीका भी आपके व्यक्तित्व से जुड़े राज को खोलने का काम करता है. आइए जानते हैं क्या कहता है आपके सोने का तरीका.


 शरीर को इकट्ठा करके सोने वाले लोगों का व्यवहार

बिस्तर पर सोते समय जो व्यक्ति अपने पांवों को कसकर सोता है या फिर कहें कि अपने शरीर को इकट्ठा करके सोता है, उसका जीवन काफी अस्त-व्यस्त होता है. उसका काम-काज का प्रबंधन अच्छा नहीं होता है और उसे अक्सर अपने जीवन में संघर्षों का सामना करना पड़ता है. मान्यता है कि जो व्यक्ति बिस्तर पर अपना शरीर समेटकर सोता है, वह अक्सर डरपोक किस्म का होता है. वह अक्सर खुद को असुरक्षित पाता है और लोगों को शंका की नजर से देखता है.


चित्त होकर लेटने वाले लोगों का व्यवहार

कई लोगों की एकदम चित्त होकर सोने की आदत होती है. मान्यता है कि चित्त होकर सोने वाले लोगों में आत्मविश्वास और साहस खूब होता है. अमूमन ऐसे लोग स्वाभिमानी भी होते हैं. चित्त होकर लेटने वाले लोगों अक्सर लोगों को आसानी से अपनी ओर आकर्षित कर लेते हैं.

पेट के बल सोने वाले लोगों का व्यवहार

मान्यता है कि जो लोग बिस्तर पर पेट के बल सोते हैं, वे अक्सर खुद को असुरक्षित पाते हैं और उन्हें हर समय अनजान खतरे की चिंता लगी रहती है.

शरीर को पूरा ढककर सोने वाले लोगों का व्यवहार

बहुत से लोगों को गरमी हो या सरदी अपना पूरा शरीर ढककर सोने की आदत होती है. मान्यता है कि ऐसा व्यक्ति चुनौतियों से घबराकर पलायन करने वाला या फिर कहें समझौतावादी होता है. ऐसे लोग अक्सर चीजों को शार्टकट तरीके से पाने की कोशिश करते हैं.


पैर पर पैर रखकर सोने वाले लोगों का व्यवहार

मान्यता है कि जो लोग बिस्तर पर पैर पर पैर रखकर साते हैं, वे काफी संतोषी होते हैं. इन्हें जीवन में बहुत ज्यादा पाने की ख्वाहिश नहीं होती है. ऐसे लोग बहुत त्यागी किस्म के होते हैं और अपने से ज्यादा दूसरों के सुखों की चिंता करते हैं.

करवट लेकर सोने वाले लोगों का व्यवहार

मान्यता है कि जो लोग करवट लेकर सोते हैं, वे अक्सर समझौतावादी होते हैं. ऐसे लोग दूसरों की हां में हां मिलाकर येन-केन-प्रकारेण अपना काम निकलवा लेते हैं. अमूमन ऐसे लोग वाद-विवाद से खुद को दूर रखते हैं. वहीं इन्हें अपने काम-काज के तरीके किसी की दखीलंदाजी रास नहीं आती है.

Share this story