यूपी में सरकार के लाख प्रयासों के बाद भी शिक्षा का स्तर सुधरने का नही ले रहा नाम
यूपी में सरकार के लाख प्रयासों के बाद भी शिक्षा का स्तर सुधरने का नही ले रहा नाम

महराजगंज रायबरेली। सरकार के लाख प्रयासों के बाद भी प्रदेश में शिक्षा का स्तर सुधरने का नाम नही ले रहा है। अब इसे शासन की मंसा कहें या लापरवाही कि अब भी क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालयों की हालत बद से बदतर बनी हुई है। आज भी एक कमरे में विद्यालय संचालित हो रहे हैं ऐसे में शिक्षा व्यवस्था और शिक्षा की गुणवत्ता क्या होगी और तैनात शिक्षक कैसे अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं।

जी हां बात हो रही है विकास खण्ड क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय कोरचक की जो कि आज भी मात्र एक कक्ष में संचालित हो रहा है। एक ही कक्ष में कक्षा 1 से लेकर कक्षा 5 तक की कक्षाएं संचालित करने के साथ साथ मैदान में खाना बनने का सिलसिला कई वर्षाें से चल रहा है जिस पर विभाग के अधिकारियों की इनायत नही हो रही है हालाकि कई बार विभागीय लिखापढ़ी व पत्रों के माध्यम से समस्या को समाप्त करने का प्रयास किया गया परन्तु जिले के अधिकारियों की लापरवाही कहें या फिर शासन की मंशा आज तक विद्यालय को एक कक्ष के अलावां न ही कोई कक्ष दिये जा सके और न ही बाउण्ड्रीवाल न ही रसोई घर। विद्यालय में मात्र दो शिक्षकों की तैनाती है जो कि जैसे तैसे एक ही कमरे में पांच कक्षाओं के संचालन के साथ साथ अन्य व्यवस्थाएं चलाने का भरसक प्रयास कर रहे हैं।

विद्यालय में मौजूद अध्यापिका रीना गौतम ने बताया कि उच्चाधिकारियों को कई बार पत्र भेजा गया है परन्तु अभी तक कोई कार्यवाही नही हो सकी है उन्होने बताया कि अब जो भी व्यवस्था है उसी के अनुरूप कार्य करने का प्रयास किया जा रहा है। मामले में खण्ड शिक्षा अधिकारी डा0 सुरेश कुमार ने बताया कि 2011 में भवन के लिए धनराशि जारी की गयी थी परन्तु 2014-15 में खाते में पैसा आया तबतक बजट के हिसाब से मटेरियल आदि का खर्चा अधिक हो जाने से शिक्षक ने भवन नही बनवाया और पैसा वापस चला गया। एक बार फिर से प्रयास जारी है उच्चाधिकारियों से लगातार सम्पर्क किया जा रहा है जल्द ही विद्यालय के लिए भवन उपलब्ध कराया जायेगा।

Share this story