यूपी में पीएम मोदी आज करेंगे एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन
यूपी में पीएम मोदी आज करेंगे एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन

 उत्तर प्रदेश। यूपी के लोगों को आज पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का तोहफा मिल रहा है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे।  करीब 341 किलोमीटर लंबा एक्सप्रेस-वे पूर्वी और पश्चिमी यूपी को जोड़ेगा।  एक्सप्रेस-वे लखनऊ के चांद सराय से शुरू होगा और गाजीपुर तक पहुंचेगा।  इसे बनाने में 22 हजार 497 करोड़ रुपये का खर्चा आया है।  ये एक्सप्रेस-वे 9 जिलों लखनऊ, बाराबंकी, अमेठी, अयोध्या, सुल्तानपुर, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ और गाजीपुर से होकर निकलेगा।  प्रधानमंत्री मोदी ने जुलाई 2018 में आजमगढ़ से इसकी आधारशिला रखी थी। 

अभी 6 लेन, बाद में 8 लेन भी हो सकता हैपूर्वांचल एक्सप्रेस-वे लखनऊ के चांद सराय गांव से शुरू होगा जो गाजीपुर में NH-31 पर स्थित हैदरिया गांव पर खत्म होगा।  ये गांव यूपी-बिहार बॉर्डर से 18 किलोमीटर पहले पड़ता है।  ये एक्सप्रेस-वे अभी 6 लेन का बनाया गया है, जिसे भविष्य में 8 लेन भी किया जा सकता है।  दावा है कि इस एक्सप्रेस-वे से गाजीपुर से दिल्ली पहुंचने में 10 घंटे लगेंगे।  यूपी सरकार के मुताबिक, अक्टूबर 2018 में इसका काम शुरू हुआ था और तीन साल में इसे पूरा कर लिया गया। 

यूपी एक्सप्रेसवेज इंडस्ट्रियल डवलपमेंट अथॉरिटी (यूपीडा) के सीईओ अवनीश अवस्थी ने सोमवार को बताया कि उद्घाटन के दौरान प्रधानमंत्री की जनसभा के साथ वायुसेना का बड़ा एयर-शो होगा। उन्होंने बताया कि एक्सप्रेस-वे पर बैटरी चार्जिंग स्टेशन लगाने के लिए निशुल्क जमीन दी जाएगी। हर पुलिस चौकी के पास हेलीपैड बनाए जाएंगे। फिलहाल इस पर टोल टैक्स नहीं वसूला जाएगा।

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे : एक नजर में

  • लंबाई : 340.824 किमी
  • सड़क : 120 मीटर चौड़ी
  • गति : 100 किमी/घंटा, 120 किमी/घंटा की रफ्तार के लिए डिजाइन किया गया है।
  • हवाई पट्टी : सुल्तानपुर में 3.20 किमी लंबा व 34 मीटर चौड़ा एयर स्ट्रिप लड़ाकू विमानों के लिए।
  • 8 स्थानों पर फ्यूल पंप और 4 स्थानों पर सीएनजी स्टेशन।
  • 8 प्रसाधन ब्लॉक और 8 जनसुविधा परिसर।
  • हर 500 मीटर पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग पिट का प्रावधान।
  • 4.5 लाख पौधों का रोपण।

अब दिल्ली से गाजीपुर तक  एक्सप्रेस-वे पर जानें कहां और किस एक्सप्रेस से करेंगे 833 किमी का सफर

वीवीवी


लागत का 90.71 प्रतिशत खर्च


परियोजना की कुल लागत (भूमि समेत) : 22497 करोड़
अब तक खर्च : 20408 करोड़ (90.71 प्रतिशत)



आगे भी बढ़ेगी कनेक्टिविटी

  • पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को अलग लिंक रोड से आजमगढ़-वाराणसी से जोड़ा जाएगा।
  • गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे गोरखपुर जिले को आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से जोड़ेगा।
  • बक्सर-गाजीपुर एलिवेटेड रोड पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे व नेशनल हाइवे से बिहार के आरा और पटना से सीधे जुड़ेगा।

Share this story