मिर्जापुर: हत्यारोपितों पर कार्रवाई के लिए शव रखकर लगाया जाम
मिर्जापुर: हत्यारोपितों पर कार्रवाई के लिए शव रखकर लगाया जाम

मिर्जापुर। राजगीर मिस्त्री के हत्यारोपितों पर कार्रवाई व मुआवजा की मांग को लेकर परिजनों ने सोमवार को शव के पोस्टमार्टम के बाद सिविल लाइन तिराहे पर शव रखकर चक्काजाम कर दिया। सूचना पर पहुंचे सीओ सिटी प्रभात राय ने परिजनों को समझा बुझाकर जाम हटवाया। परिजन शव लेकर अंतिम संस्कार के लिए चले गए।


रविवार की शाम शहर कोतवाली क्षेत्र के फतहां मोहल्ला निवासी राजगीर मिस्त्री 35 वर्षीय महेश विश्वकर्मा पुत्र झुल्लर अपने साथी पक्का पोखरा मोहल्ला निवासी 40 वर्षीय सुरेश सोनकर के साथ पक्का पोखरा मोहल्ले में देशी शराब की दुकान से कुछ दूरी पर शराब पी रहे थे। शराब पीने के दौरान दोनों के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी के बाद मारपीट हो गई थी।

मारपीट के दौरान सुरेश ने महेश पर ट्यूबलाइट से प्रहार कर दिया था। इसके बाद ट्यूबलाइट का टूटा हिस्सा महेश के गले में घोंप दिया था। अस्पताल में उपचार के दौरान महेश की मौत हो गई थी। जबकि सुरेश गंभीर रुप से जख्मी हो गया था। सुरेश को वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया था।


सोमवार को पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया। पोस्टमार्टम के बाद शव उनके परिजनों को सौंप दिया था। परिजन शव लेकर सिविल लाइन तिराहे पर पहुंचे और बीच सड़क पर शव रखकर चक्काजाम कर दिया। हत्यारोपितों के खिलाफ कार्रवाई व मुआवजा की मांग करने लगे। स्थानीय पुलिस ने चक्काजाम कर रहे लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन परिजन नहीं माने।

सूचना पर सीओ सिटी ने पहुंचकर परिजनों को समझा बुझाकर जाम समाप्त कराया। कुछ देर बाद महिलाओं ने एसपी कार्यालय सामने भी चक्काजाम कर दिया। पुलिस ने महिलाओं को समझा बुझाकर हटाया। आश्वासन दिया कि आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। तब जाकर परिजन शव लेकर अंतिम संस्कार के लिए चले गए।

Share this story