वराणासी में गंगा प्रहरी नागेंद्र ने गंगा महोत्सव के बाद निर्माल्य का निस्तारण किया।
वाराणसी

वाराणसी। राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन अंतर्गत भारतीय वन्यजीव संस्थान के द्वारा देव दीपावली गंगा महोत्सव श्री गौरीशंकर महादेव गंगा घाट ढाका में मनाने के बाद घाट बहुत गन्दगी दिखाई देना लगा जिसे आज गंगा प्रहरी नागेंद्र कुमार निषाद  फिल्ड असिस्टेंट ने अपने टीम के साथ पुरे गंगा घाट की वृहद स्वच्छता सफाई अभियान चलाया जिसमें निरन्तर गंगा घाट को प्लास्टिक मुक्त कचरा स्वच्छ किया जा रहा है और गंगा किनारे खुले में शौच मुक्त हेतु जन आंदोलन भी किया जा रहा है।जिसमें गंगा प्रहरी ने यह बताया कि लगातार मछुआरों को राष्ट्रीय जलीय जीव डांल्फिन जल प्रहरी कछुआ व मगरमच्छ को संरक्षण करने के लिए जागरूक किया जा रहा है तथा यह बताया कि गंगा मात्र एक नदी नहीं। 

गंगा प्रहरी नागेंद्र ने गंगा महोत्सव के बाद निर्माल्य का निस्तारण किया।


प्राचीन सभ्यताओं और संस्कृतियों की संवाहक, भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़, हम सनातनियों के लिए जीवन रेखा, अमूल्य धरोहर हैं। इनका अस्तित्व संकट में होना मतलब हमारा अस्तित्व संकट में होने के बराबर है।इस निमित्त माँ गंगा की निर्मलता के लिए हम सभी को मिलकर प्रयासरत होना होगा।और ना जाने क्यों लोग एेसा  करते हैं गंगा को मां नहीं कूड़ेदान समझते हैं। हम लोग को यह समझना होगा। तथा घाट पर आने वाले दर्शनार्थियों को किसी भी प्रकार का कोई परेशानी ना हो तथा इस अवसर पर गंगा प्रहरी विवेक, अंशु, रिंकी,आशू, अन्य ग्रामीण व गंगा प्रहरी मौजूद थे।

Share this story