सीएम योगी के निर्देश के बाद भी चंदौली में हो रही लगातार कटौती
सीएम योगी के निर्देश के बाद भी चंदौली में हो रही लगातार कटौती 

 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद भी बिजली कटौती थमने का नाम नहीं ले रही। इससे उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दुर्गा पूजा पंडाल की बिजली शाम को गुल होने से श्रद्धालु व व्यवस्थापक परेशान हो गए। त्योहार को देखते हुए शासन ने शाम छह से सुबह सात बजे तक निर्बाध रूप से आपूर्ति किए जाने का निर्देश दिया है। लेकिन, महकमा बिजली आपूर्ति सुनिश्चित कराने में फेल साबित हो रहा। सीएम के सख्त निर्देश की अवहेलना पर सवाल उठने लगा है। शहाबगंज विद्युत उपकेंद्र से मंगलवार की रात में तीन घंटे बिजली आपूर्ति ठप रही। त्योहारी सीजन में कटौती से उपभोक्ताओं में आक्रोश है। विद्युत उत्पादन इकाइयों में कोयला संकट का असर आपूर्ति व्यवस्था पर दिखने लगा है। ग्रामीण क्षेत्रों में आपूर्ति व्यवस्था हद दर्जे तक प्रभावित हुई है। इससे उपभोक्ताओं में हाहाकार मचा हुआ है।

वैसे तो ग्रामीण क्षेत्रों में 18 से 20 घंटे आपूर्ति का रोस्टर लागू है। लेकिन, 10 घंटे भी बिजली आपूर्ति मुश्किल हो गई है। बदतर विद्युत आपूर्ति व्यवस्था का प्रतिकूल असर अब आम जनजीवन पर पड़ने लगा है। दिन-रात हो रही व्यापक कटौती के चलते उपभोक्ताओं को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। न सिर्फ उनके समक्ष पेयजल का संकट खड़ा हो रहा है बल्कि छोटे-उद्योग धंधे भी प्रभावित हो रहे हैं। शहरी क्षेत्र के उपभोक्ताओं को तो फिर भी समुचित बिजली मिल जा रही है।

लेकिन, ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं को रोस्टर के अनुसार बिजली नहीं मिल पा रही है। गांवों में बमुश्किल 10 घंटे ही बिजली आपूर्ति हो रही है। शहाबगंज विद्युत उपकेंद्र से जुड़े करीब 60 गांवों में रात्रि में तीन घंटे बिजली गुल रही। आपूर्ति के दौरान बार-बार ट्रिपिंग होती रहती है। इससेे उपभोक्ताओं को पूरी रात परेशान होना पड़ा। उपभोक्ता अरविंद मिश्र, रत्नेश यादव, देवेंद्र नारायण सिंह, इबरार अली ने जिला प्रशासन से रात्रि में कटौती बंद कराने की मांग की है।

एके सिंह, अधिशासी अभियंता  : कोयले की आंशिक कमी के चलते आपूर्ति व्यवस्था प्रभावित हुई है। उत्पादन फिर से सुचारु करने के सभी जरूरी प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द ही आपूर्ति व्यवस्था सामान्य कर ली जाएगी। उपभोक्ताओं को संयम बरतने की जरूरत है।

Share this story