यूपी में प्राइवेट स्कूलों को लेकर सीएम योगी का सख्त निर्देश
यूपी में प्राइवेट स्कूलों को लेकर सीएम योगी का सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बालिकाओं की शिक्षा पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। इसके लिए उन्हें प्रोत्साहित करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि निजी स्कूलों में दो बहनें एक साथ पढ़ रही हों तो एक की फीस माफ हो। अगर निजी स्कूल ऐसा नहीं करते हैं तो संबंधित विभाग एक छात्रा की फीस का प्रबंध करे। इसके लिए जिला स्तर पर नोडल अफसर बनाए जाएं। गांधी जयंती के अवसर पर लोकभवन में आयोजित छात्रवृत्ति वितरण कार्यक्रम में उन्होंने प्रदेश के एक लाख 51 हजार छात्रों के अकाउंट में छात्रवृत्ति भेजी। इस दौरान उन्होंने 30 नवंबर तक सभी पात्र छात्रों को मिशन मोड में छात्रवृत्ति वितरण का काम पूरा करने का निर्देश दिया।

सीएम योगी ने कहा कि हम सब आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। यह हम सबके लिए आत्म अवलोकन का अवसर है कि हम सबने इस देश के विकास के लिए अपना कैसा और कितना योगदान किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 अक्तूबर 2014 को स्वच्छता अभियान शुरू किया। यह अब एक मिशन बन गया। मैंने खुद देखा है कि यूपी के 38 जिलों में दिमागी बुखार से हर साल सैकडों मासूम दम तोड़ रहे थे। लेकिन प्रधानमंत्री के स्वच्छता अभियान की वजह से उनकी प्रेरणा से 38 जिलों में दिमागी आ 97% नियंत्रित हो चुका है।

मुख्यमंत्री ने ये बातें आज (शनिवार)के दिन को लोकभवन में आयोजित छात्रवृत्ति वितरण कार्यक्रम में कहीं। इस दौरान उन्होंने गांधी जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। इस दौरान योगी ने कहा कि आज हम सबके लिए आजादी के आन्दोलन के दो महान योद्धाओं की जयंती मनाने का दिन है। मैं गांधी जी और लाल बहादुर शास्त्री को नमन करता हूं। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने सत्य और अहिंसा के बल पर देश को आजाद करवाया।

Share this story