×

Chanduli News: पुलिस कर्मियों को दिया अग्नि सुरक्षा का डेमो

Chanduli News: पुलिस कर्मियों को दिया अग्नि सुरक्षा का डेमो

Chanduli News: पुलिस कर्मियों को दिया अग्नि सुरक्षा का डेमो

इस प्रशिक्षण से शहरों,कस्बों और गाँव में नियुक्त पुलिस अधिकारी आग में फंसे लोगों को बचाने का करेंगे प्रयास- पुलिस अधीक्षक चन्दौली।

दमकल टीम ने प्रशिक्षण शिविर में महिला व पुरुष पुलिस कर्मियों को अग्नि सुरक्षा व बचाव की दी जानकारी ।

चन्दौली: पुलिस अधिकारियों के कार्यों में अपराध से रक्षा करना और बचाव करना उनका प्राथमिक कर्तव्य और प्रशिक्षण है, कभी-कभी इस गर्मी के मौसम में पुलिस अधिकारी अक्सर गैर-अपराध-संबंधित घटनाओं पर प्रतिक्रिया करते हैं और कभी-कभी, संरचनात्मक आग के दृश्य पर खुद को सबसे पहले पहुंचते हुए पाते हैं।

Chanduli News: पुलिस कर्मियों को दिया अग्नि सुरक्षा का डेमो

जब ऐसा होता है, तो वे ख़ुद को बहुत मुश्किल स्थिति में पाते हैं। बहुत कम या कोई प्रशिक्षण नहीं होने और लगभग हमेशा कोई सुरक्षात्मक उपकरण नहीं होने के कारण, पुलिस अधिकारियों को या तो खड़े रहकर अग्निशमन विभाग की प्रतीक्षा करना पड़ता है

पुलिस के इन परिस्थियो को देखते हुए डॉ0 अनिल कुमार पुलिस अधीक्षक द्वारा जनपद के शहरों,कस्बों और गाँव नियुक्त पुलिस अधिकारी को आग में फंसे लोगों को बचाने के प्रयास में आज दिनांक 18/03/23 को पुलिस लाइन में पुलिस कर्मियों को अग्नि सुरक्षा व बचाव की जानकारी दी गयी ।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

आज दिनांक 18.03.24 को पुलिस अधीक्षक चन्दौली के निर्देशन में दमकल टीम ने प्रशिक्षण शिविर में महिला व पुरुष पुलिस कर्मियों को अग्नि सुरक्षा व बचाव की जानकारी दी। पुलिसकर्मियों को आग लगने के बाद उसे बुझाने व बचने के लिए रेस्क्यू आपरेशन दिखाया गया। वहीं, पुलिस को आपदा प्रबंधन के भी टिप्स दिए गए। 


सोमवार को चन्दौली स्थित पुलिस लाइन में दोपहर करीब 03 बजे शिविर की शुरूआत हुई। शिविर के दौरान फायर फाइटिंग टीम ने आग लगने के कारण, बचाव व सुरक्षा के बिंदुओं पर बारीकी से प्रकाश डाला। दमकल अधिकारी FSSO अनिल कुमार राय ने आग के ए, बी, सी व डी क्लास की जानकारी दी। 


1.ए क्लास की आग के बारे में बताया कि लकड़ी, कोयला में लगने वाली आग होती है। इसे पानी व पानी वाले अग्निशमन उपकरण से बुझाया जा सकता है। 


2.बी क्लास में तैलीय पदार्थ में लगी आग शामिल है। इस प्रकार की आग को बुझाने के लिए फॉम वाले अग्निशमन यंत्र का प्रयोग किया जाता है। 


3.दमकल अधिकारी FSSO अनिल कुमार राय ने बताया कि गैस में लगी आग सी क्लास आग होती है जिसे बुझाने के लिए गैस वाले अग्निशमन यंत्र का प्रयोग किया जाता है। 


4.वहीं डी क्लास आग धातु या बिजली की तारों में लगी आग शामिल होती है। इस आग को बुझाने के लिए पाउडर वाले अग्निशमन यंत्र प्रयोग किए जाते हैं। 


इसके बाद दमकल टीम ने आग बुझाने, आग लगने के दौरान फंसे व्यक्ति को बचाने, रस्सी में गांठ लगाकर उसका प्रयोग करने आदि कई महत्वपूर्ण बिंदुओं को समझाने के लिए दमकल गाड़ी के जरिए रेस्क्यू आपरेशन करके दिखाया। FSSO अनिल कुमार राय ने बताया कि रेस्क्यू आपरेशन के दौरान हमें पूरी तरह तैयार होकर यानी फायर कॉस्ट्यूम व उपकरण का इस्तेमाल करके जोखिम उठाना चाहिए। दमकल टीम ने बारी-बारी से महिला व पुरुष पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षण दिया।

Share this story