चन्दौली में पुलिस की छापेमारी के दौरान युवती की मौत, परिजनों ने पुलिस पर दुष्कर्म कर हत्या करने का लगाया आरोप
Chandauli news

चंदौली। जिले के सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर गांव में रविवार की देर शाम पुलिस छापेमारी करने पहुंची। यहां बालू की अवैध आढ़त चलाने के एक आरोपी के घर पर छापा मारने के दौरान कारोबारी घर पर नहीं मिला। आरोप है कि पुलिस टीम ने कारोबारी के परिवार को बुरी तरह पीटा। इस दौरान 19 साल की बेटी सामने दिख गई तो उसे भी पीटना शुरू कर दिया। आरोप लगा कि एक सिपाही ने उसके साथ रेप भी किया। जोर जबरदस्ती और मारपीट से उसकी मौत हो गई। जून में उसकी शादी होनी थी।

 

परिजनों का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने उनके घर की लड़की निशा के साथ गलत किया और इसके बाद उसको मौत के घाट उतार दिया। वही घर की एक लड़की भी घायल है।

 

आपको बता दें कि मनराजपुर के कन्हैया यादव पर अवैध बालू भंडारण करने का आरोप है। इसी मामले को लेकर पुलिस कन्हैया यादव और उनके परिवार के कुछ सदस्यों को गिरफ्तार करने के लिए रविवार की देर शाम  मनराज पहुंची थी। परिजनों ने कहा है कि पुलिस पर सैयदराजा विधायक सुशील सिंह का दबाव है।

 

 


उन्होंने कहा कि पुलिस कहती है कि या तो आप 50 हजार रुपया दीजिये या सैयदराजा विधायक से फ़ोन करवाइए। अर्थात राजनैतिक दबाव पर पुलिसकर्मियों ने उनके घर पर छापेमारी की थी। परिजनों का आरोप है कि वे मनमानी करते हुए घर मे घुसे और उनकी बहन निशा यादव के साथ गलत किये और इसके बाद घर में जमकर तांडव किया। निशा की मौके पर ही मौत हो गई है। 

 

जबकि उसकी दूसरी बहन गूंजा गंभीर रूप से घायल है। वही मामले को लेकर सपा नेता भी घटनास्थल पर पहुंच रहे हैं।

 


पूरा गांव छावनी में तब्दील हो गया है। परिजन जमकर हंगामा कर रहे हैं। मामला बढ़ता देख घटना स्थल पर जिलाधिकारी संजीव सिंह और एसपी अंकुर अग्रवाल अपने दल बल के साथ पहुंचे और पूरे मामले को संज्ञान में लिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्यवाही में जुट गई है।

 

एसपी अंकुर अग्रवाल ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी। अगर इस मामले में कोई पुलिसकर्मी दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ शख्त से शख्त कार्यवाही की जाएगी।

 

 

इस मामले को लेकर समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल से ट्वीट भी किया गया है...

 

 


 

 

Share this story