×
Chandauli News: छोटे मछुवारों को ध्यान में रखते हुये चर्चित जिलाधिकारी का अति सराहनीय कार्य, गंगा नदी में छोड़ी गयी 1.40 लाख छोटी मछलियाँ
chandauli samachar

चन्दौली। प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 में रिवर रैंचिंग कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद चन्दौली में गंगा नदी के बलुआ घाट तट पर भारतीय मेजर कार्प प्रजाति की मछलियां (रोहू, भाकुर, नैन) का संचय कार्यक्रम जिलाधिकारी ईशा दुहन की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में क्षेत्र पंचायत प्रमुख चहनिया अरूण कुमार जयसवाल, प्रमुख सकलडीहा उप निदेशक मत्स्य वाराणसी मण्डल अनिल कुमार, उप जिलाधिकारी सकलडीहा मनोज पाठक, खण्ड विकास अधिकारी चहनियां शशिकान्त पाण्डेय, निषाद पार्टी के जिलाध्यक्ष अरविन्द कुमार निषाद,

पूर्व अध्यक्ष एवं समाजसेवी अनिल कुमार निषाद एवं सहायक निदेशक मत्स्य राम अवध सहित मत्स्य विभाग के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे। रिवर रैंचिंग कार्यक्रम एवं विभाग की संचालित अन्य योजनाओं के बारे में सहायक निदेशक मत्स्य चन्दौली द्वारा विस्तार से बताया गया। रिवर रैंचिंग के लाभ एवं उसकी आवश्यकता पर उप निदेशक मत्स्य द्वारा विस्तार से चर्चा की गयीं।

जिसमें उनके द्वारा बताया गया कि प्रदेश की महत्वपूर्ण सदावाही नदियों में अत्याधिक प्रदूषण एवं मत्स्याखेट के कारण नदी की भारतीय मेजर कार्प प्रजाति की मछलियां (रोहू, भाकुर, नैन) संकटग्रस्त हो रही है साथ ही मत्स्याखेट पर निर्भर रहने वाले गरीब मछुआ समुदाय व्यक्तियों की आजीविका के दृष्टिगत भारतीय मत्स्य प्रजाति के मछलियों के संरक्षण हेतु प्रदेश में रिवर रैंचिंग कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है।

दिनांक 22.11.2022 को जनपद में 1.40 लाख मत्स्य अंगुलिका (मत्स्य बीज) गंगा नदी के बलुआ घाट पर संचय किया गया। रिवर रैंचिंग पर प्रकाश डालते हुए बताया गया कि नदी से छोटी साईज की मछलियों का शिकार न किया जाय कार्यक्रम की मुख्य अतिथि ईशा दुहन द्वारा जनपद में मत्स्य पालन एवं उत्पादन की व्यापक संभावनाओं पर प्रकाश डालते हुए बताया गया कि जनपद के मत्स्य पालको को शासन द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है।

मत्स्य पालको को अधिक संख्या में पट्टे दिये जा रहे हैं एवं पुराने पट्टों का नवीनीकरण का कार्य किया जा रहा है। पूरे जनपद में मत्स्य पालन पट्टा का क्षेत्रफल प्रतिवर्ष बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक मत्स्य पालन लाभ ले एवं अपनी आय में वृद्धि करें। सहायक निदेशक मत्स्य को निर्देश दिये गये कि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में जन अभियान के माध्यम से लोगों को अवगत कराया जाय ताकि जन सामान्य एवं मछुआ समुदाय के लोग विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ उठा सके।

जिलाधिकारी महोदया द्वारा कार्यक्रम में मछुआ दुर्घटना बीमा योजना के 25 लाभार्थियों / व्यक्तियों को बीमा प्रमाण पत्रक भी वितरित किये गये। कार्यक्रम के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अजीतेंद्र नारायण, सहायक निदेशक मत्स्य राम अवध, डिप्टी मत्स्य अधिकारी अनिल कुमार, ब्लाक प्रमुख चहनियां एवं धानापुर सहित अन्य संबंधित अधिकारी गण एवं आमजन उपस्थित थे।

Share this story