चंदौली: हर घर तिरंगा कार्यक्रम के सम्बंध में बैठक हुई संपन्न
चंदौली: हर घर तिरंगा कार्यक्रम के सम्बंध में बैठक हुई संपन्न
जिलाधिकारी संजीव सिंह और मुख्य विकास अधिकारी अजीतेंद्र नारायण अध्यक्षता में सफल क्रियान्वयन हेतु शासन द्वारा विस्तृत दिशा-निर्देश निर्गत किये गये है

चंदौली। जिलाधिकारी संजीव सिंह के निर्देशानुसार मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण की अध्यक्षता में हर घर तिरंगा कार्यक्रम के सम्बंध में बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि हर घर तिरंगा कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन हेतु शासन द्वारा विस्तृत दिशा-निर्देश निर्गत किये गये है। कहा कि भारतीय स्वाधीनता के 75 वर्ष पूर्ण होने के महत्वपूर्ण अवसर पर दिनांक 11 से 17 अगस्त 2022 तक हर घर तिरंगा कार्यक्रम का भव्य आयोजन किया जायेगा। हर घर तिरंगा कार्यक्रम में जनपद अग्रणी भूमिका निर्वहन करेगा। शासन के निर्देशानुसार प्रत्येक नागरिक के मन में राष्ट्रप्रेम की भावना को जागृत करते हुए स्वतंत्रता के प्रतीकों के प्रति सम्मान भाव उजागर करने हेतु प्रत्येक भारतीय को अपने घर एवं प्रतिष्ठानों पर झंडा फहराने के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिए गए हैं।  

हर घर तिरंगा कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए प्रत्येक सरकारी अधिकारी/कर्मचारी, शिक्षकगण, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों, स्वयं सहायता समूहों, विभिन्न नागरिक संगठनों आदि के सहयोग से क्रियान्वयन करने, वाणिज्यक एवं व्यवसायिक समूह एवं संगठनों को उनकी सहभागिता एवं तिरंगा झंडा बनवाने के लिए सीएसआर संसाधनों को उपलब्ध कराने हेतु प्रेरित करने, ग्राम पंचायत स्तर पर जागरूकता सत्र का आयोजन करते हुए ग्राम प्रधानों को शत-प्रतिशत घरों, दुकानों, कार्यालयों, शैक्षणिक संस्थानों तथा नलकूपों इत्यादि पर झंडा फहराने हेतु प्रेरित करने, समस्त सरकारी, सार्वजनिक क्षेत्र के प्रतिष्ठानों, शैक्षणिक संस्थानों व्यवसायिक एवं वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों, गैर सरकारी संगठनों, रेस्टोरेंट, शॉपिंग कंपलेक्स, टोल प्लाजा पुलिस चौकी/थाना इत्यादि को इस कार्यक्रम में अनिवार्य रूप से झंडा फहराने, बैनर, पंपलेट, स्टैंडी, होर्डिंग्स एवं अन्य उपयुक्त माध्यमों से स्थानीय भाषा में बोली में कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार करने, परिवहन की समस्त बसों, निजी बसों, ट्रकों एवं अन्य सार्वजनिक परिवहन साधनों तथा सरकारी वाहनों में हर घर तिरंगा कार्यक्रम का संदेश स्टीकर लगाने टोल प्लाजा, चेक प्वाइंटस, इत्यादि पर बैनर स्टैंडी आदि लगवाने सभी प्राथमिक/माध्यमिक स्कूलों में पैरेन्स टीचर मीटिंग के माध्यम से कार्यक्रम की सभी को जानकारी देने, जनपद मुख्यालय में एलईडी वैन के माध्यम से एवं सिनेमाघरों, मल्टीप्लेक्स, केबल नेटवर्क, स्थानीय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से फ्लायर वीडियो अपील, रेडियो जिंगल आदि के द्वारा कराने के निर्देश दिए गए हैं। 

कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन हेतु जनपद स्तरीय, विकास खण्ड स्तरीय एवं ग्राम पंचायत स्तर पर समितियों का गठन किया गया है। शासन द्वारा जनपद में स्थित 1425 आबाद, 204 गैर आबाद, 11 नगरों की 19.5 लाख आबादी एवं 3 लाख घरों के सापेक्ष 2.3 लाख घरों पर झंडा फहराने एवं 3.56 लाख ध्वज निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन हेतु संबंधित उप जिलाधिकारी अपनी-अपनी तहसील के लिए पर्यवेक्षक अधिकारी नामित किए गए हैं जो विकास खंड एवं ग्राम पंचायत स्तरीय कमेटी से समन्वय स्थापित कर कार्यक्रम को शासन के निर्देशों का अनुपालन करते हुए सुनिश्चित कराएंगे।

उक्त कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन हेतु जनपद स्थित प्रदेश सरकार, भारत सरकार के विभिन्न विभागों, पीएसयू को झंडा निर्माण/क्रय एवं फहराने हेतु लक्ष्य का निर्धारण कर दिया गया है। निर्देशानुसार संसोधित झंडा संहिता के अनुसार पालीस्टर/सूती/खादी/ऊनी/कपड़ों से बने निर्धारित आकार(3:2 अनुपात/30"x 20) के मशीन अथवा हस्तनिर्मित झंडो को फहराया जाना है। 


मुख्य विकास अधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सरकार के इस अति महत्वपूर्ण कार्यक्रम को सफलता के साथ क्रियान्वयन किये जाने हेतु शासन के निर्देशानुसार सभी तैयारियां समय से पूर्ण किया जाना सुनिश्चित करें। सभी विभाग लक्ष्य के अनुसार झंडो का निर्माण/क्रय समय से कर ले एवं  विभागों तथा परिवारों को समय से वितरित कराने का प्रबंध सुनिश्चित कर लें। साथ ही हर घर तिरंगा कार्यक्रम का व्यापक रूप से प्रचार प्रसार करते हुए कार्यक्रम को सफल बनाने में अपनी जिम्मेदारियों का पूरी तरह से निर्वहन करें। इसमें किभी भी प्रकार की शिथिलता या लापरवाही न बरती जाए। 


बैठक के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विकास अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, उपजिलाधिकारी गण सहित समस्त संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Share this story