×

Ayodhya News: ग्राम प्रधान द्वारा ग्राम पंचायत में शुरू की गई कन्यादान सहयोग योजना गरीब बेटियों की शादी में दी जा रही है कन्यादान सहयोग राशि

 x xzz

Ayodhya News: ग्राम प्रधान द्वारा ग्राम पंचायत में शुरू की गई कन्यादान सहयोग योजना गरीब बेटियों की शादी में दी जा रही है कन्यादान सहयोग राशि
 


बीकापुर विकासखड क्षेत्र से अमावा ग्राम पंचायत में  निर्वाचित हुई युवा महिला ग्राम प्रधान सिद्दीकी उम्मे हबीबा द्वारा शुरू की गई "कन्यादान सहयोग योजना की क्षेत्र में चर्चा है। जिसकी हर कोई तारीफ कर रहा है।

ग्राम प्रधान सिद्दीकी उम्मे हबीबा एवं उनके पति मोहम्मद मोबीन सिद्दीकी द्वारा अपने निजी कोष से ग्राम पंचायत में आयोजित हो रही गरीब कन्याओं की शादी में प्रधान निर्वाचित होने के बाद से आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है।

ग्राम पंचायत अमावा के नोहरी का पुरवा निवासी राम सजीवन की पुत्री सिंपी  की शादी के लिए ग्राम प्रधान पति मोहम्मद मोबीन द्वारा विवाह के एक दिन पूर्व कन्यादान सहयोग राशि का 10  हजार रुपए का चेक प्रदान किया गया। राम सजीवन की पुत्री की शादी रविवार को संपन्न हुई है।

ghfd

प्रधान पति मोहम्मद मोबीन सिद्दीकी द्वारा शादी के एक दिन पूर्व शनिवार को उनके घर पहुंच कर आर्थिक सहायता का चेक प्रदान किया गया। अमावा ग्राम पंचायत निवासी मोहम्मद मोबीन सिद्दीकी द्वारा पत्नी सिद्दीकी उम्मे हबीबा के पहली बार ग्राम प्रधान निर्वाचित होने के बाद अपने निजी कोष से कन्यादान सहयोग योजना शुरू की गई है।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

अब तक उनके द्वारा अभी तक दो दर्जन से अधिक बेटियों की शादी में कन्यादान सहयोग राशि दी जा चुकी है। मोहम्मद मोबीन द्वारा पंचायत चुनाव के दौरान मतदाताओं से पत्नी के ग्राम प्रधान निर्वाचित होने पर आगामी 5 वर्षों तक ग्राम पंचायत में आयोजित होने वाली बेटियों की शादी के लिए 10,000 रुपए सहयोग के रूप में कन्यादान सहयोग राशि देने का वायदा किया गया था।

पत्नी सिद्दीकी उम्मे हबीबा के ग्राम प्रधान निर्वाचित होने के बाद चुनाव के दौरान किया गया वायदा उनके द्वारा अनवरत पूरा किया जा रहा है। इस मौके पर गांव निवासी विक्रमजीत महावीर यादव आदि ग्रामीण मौजूद रहे। क्षेत्र के जागरूक लोगों द्वारा ग्राम प्रधान और उनके पति द्वारा शुरू की गई कन्यादान सहयोग योजना की सराहना की जा रही है। और अन्य प्रधानों को भी इससे प्रेरणा लेने की बात कही जा रही है।

Share this story