शासन के निर्देशों को भूला अयोध्या जेल प्रशासन
ayodhya
 बंदियों से मुलाकात प्रतिबंध संबंधी आदेश को जेल प्रशासन ने हवा में उड़ाया

अयोध्या | कोविड-19 के तीसरे फेज ओमी क्रोन को भूला अयोध्या जेल प्रशासन।जेल में निरुद्ध एक प्रभावशाली नेता के आगे नतमस्तक है अयोध्या जेल प्रशासन।जेल में निरुद्ध एक प्रभावशाली बंदी से खुलेआम प्रतिदिन दर्जनों की संख्या में मुलाकातियों का लगा रहता है तांता।

मंडल कारागार अयोध्या का जेल प्रशासन कोविड-19 महामारी के तीसरे फेज ओमीक्रोन के बढ़ते संक्रमण को शायद पूरी तरह से भूल गया है। यही नहीं उक्त महामारी को लेकर केंद्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा पुजारी गाइडलाइन तथा दिशा निर्देश को भी ताख पर रखकर जेल में निरुद्ध एक प्रभावशाली बंदी के आगे पूरी तरह से नतमस्तक हो गया है। जहां एक तरफ सरकार ने जेल में निरुद्ध बंदियों से मुलाकात पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है वहीं दूसरी ओर जेल प्रशासन विशेष बंदी के प्रभाव में आकर प्रतिदिन दर्जनों की संख्या में लोगों से मुलाकात कराने में मशगूल है।

अयोध्या मंडल कारागार प्रशासन की इस कारस्तानी को लेकर समूचे प्रदेश में चर्चाओं का बाजार गर्म है। यदि शासन के आदेश निर्देश को नजरअंदाज कर अयोध्या मंडल कारागार प्रशासन बंदियों से ऐसे प्रतिदिन मुलाकात कराता रहा तो शायद एक दिन एक भयावह स्थिति अयोध्या जिले के कारावास में देखने को मिल सकती है जहां बंदियों के भीषण महामारी के शिकार होने की संभावनाएं बिल्कुल प्रबल है।

Share this story