×
योगी सरकार ने बुलडोजर से उड़ा दिया ओवैसी का बाज, पूरी खबर लाइव भारत न्यूज़ पर...
योगी सरकार ने बुलडोजर से उड़ा दिया ओवैसी का बाज, पूरी खबर लाइव भारत न्यूज़ पर...

उत्तर प्रदेश। अवैध निर्माणों पर योगी आदित्यनाथ सरकार की बुलडोजर कार्रवाई जारी है। इसी क्रम में बरेली में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के नेता तौफीक प्रधान के आलीशान होटल पर विकास प्राधिकरण का बुलडोजर चला।  जिसे कुछ ही घंटों में नेस्तनाबूद कर दिया गया। 

क्यों गिराया गया होटल? 

आरोप है कि तौफीन ने बाइपास के पास मौजूद 700  वर्ग मीटर जमीन पर दो मंजिला होटल बनवाया था लेकिन उन्होंने इसकी इजाजत नहीं ली थी। अफसरों के मुताबिक ग्रीन बेल्ट को ताक पर रख कर होटल की तामीर कराई गई। इसी ताल्लुक से कार्रवाई की गई। 

भेजा गया था नोटिस 

अफसरों के मुताबिक असदुद्दीन ओवैसी के नेता तौफीक प्रधान को कई बार कानूनी नोटिस भेजा गया था जिसमें कहा गया था कि वह अवैध नर्माण को खुद गिरा लें, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।  इसके बाद बुलडोजर कार्रवाई की गई। 

क्या है तौफीक का आरोप?

बुलडोजर कार्रवाई पर तौफीक ने कहा कि उन्हें मुसलमान होने की सजा मिली है। तैफीक प्राधान पहले विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं। इसके बाद वो लाइमलाइट में आए। 

बुलडोजर के साथ पहुंची थी प्राधिकरण की टीम

होटल गिरान के लिए बुलडोजर के साथ प्राधिकरण की टीम मौके पर पहुंची जहां देश रात होटल को गिराया गया।  बताया जाता है कि होटल के ऊपरी हिस्से में बना बजा लोगों को अपनी ओर मुतवज्जा करता था। होटल गिराने के साथ ही यह बाज भी गिर गया। 

बरेली में फैला साइबर ठगों का जाल 

बरेली में ऑनलाइन ठगी के मामले में पीड़ित थाना पुलिस के चक्कर काट रहे हैं। कभी पुलिस साइबर सेल का मामला बता देती है तो कभी जांच की बात कहती है। वुमेन चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी की प्रदेश अध्यक्ष से एक लाख की ठगी के मामले में पीड़िता बृहस्पतिवार को एसएसपी ऑफिस पर गुहार लगाने पहुंची। जहां महिला ने बताया की एफआईआर दर्ज है, लेकिन आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हुई। न ही पैसा वापस अकाउंट में आया।

वुमेन चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी की प्रदेश अध्यक्ष से ठगी

बरेली निवासी रितु शाक्य वुमेन चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी की प्रदेश अध्यक्ष हैं। बृहस्पतिवार को वह शिकायती पत्र लेकर एसएसपी ऑफिस पहुंची। पीड़िता ने बताया कि मेरा नाबालिग बेटा प्रबल एक साइबर कैफे पर जाता था।

जहां कैफे संचालक अमन और उसके साथियों ने मेरे बेटे को 50 हजार रुपए के बदले एक लाख रुपए करने की बात कहकर झांसे में ले लिया। बेटा 50 हजार रुपए अलमारी से चोरी से ले गया, जबकि 50 हजार रुपए अकाउंट से ट्रांसफर करा लिए।

बाद में पता चला की कैफे संचालक ने धोखाधड़ी कर ऑनलाइन शॉपिंग भी की है। पीड़िता ने बारादरी थाने में केस दर्ज कराया। महिला ने बताया कि मेरठ का फूलबाग कॉलोनी निवासी बादशाह खान भी इसमें आरोपी है, जिसका नाम भी शामिल किया जाये।

पीड़ित बोला लगातार चक्कर काट रहा

दूसरे मामले में जय प्रकाश शाक्य ने बताया कि मेरे अकाउंट से अलग अलग बार में 50 हजार की ठगी हई है। मामला दर्ज कराया, लेकिन पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। बैंक में शिकायत करने के साथ पुलिस से भी कई बार गुहार लगाई है। पीड़ित ने शिकायत कर आरोपी पर कार्रवाई की मांग करते हुए पैसे वापस दिलाने की मांग की है।

Share this story