×

Pryagraj News: प्रयागराज के महाकुंभ क हो रहे कार्यों का मंडलायुक्त ने किया आज निरीक्षण

प्रयागराज के महाकुंभ क हो रहे कार्यों का मंडलायुक्त ने किया आज निरीक्षण  प्रयागराज महाकुंभ 2025 के दृष्टिगत कराए जा रहे विभिन्न कार्यों का निरीक्षण आज मण्डलायुक्त श्री विजय विश्वास पंत ने सभी संबंधित अधिकारियों की उपस्थिति में किया। सर्वप्रथम उ०प्र० जल निगम (नगरीय) द्वारा अलोपीबाग इण्टरमीडिएट पम्पिंग स्टेशन से ममफोर्डगंज सीवेज पम्पिंग स्टेशन तक सीवर पाइप लाइन बिछाने के कार्यों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पाइप लाइन बिछाने हेतु खोदी गयी ट्रेंच की चौड़ाई मानक के अनुरूप कम पाई गई। साइट पर सम्बन्धित अभियन्ता भी अनुपस्थित थे जिससे यह प्रतीत होता है की गुणवत्ता सुनिश्चित करने हेतु अधिकारियों द्वारा निरंतर अनुश्रवण नहीं किया जा रहा है।  तत्पश्चात उन्होंने प्रयागराज विकास प्राधिकरण द्वारा कराए जा रहे कार्यों का भी निरीक्षण किया जिसके अंतर्गत लोट्स हॉस्पिटल से कटका रोड़ तक, ओल्ड यमुना ब्रिज क्रॉस करते ही बाएं तरफ महेवा की ओर जाने वाली रोड तथा ओल्ड यमुना ब्रिज (नैनी साइड) महेवा की ओर जाने वाली रोड की दूसरी तरफ लैप्रोसी चौराहा की ओर के मार्ग के चौड़ीकरण, सुदृढीकरण एवं सौंदरीकरण के कार्यों को देखा। लोट्स हॉस्पिटल से कटका रोड एवं ओल्ड यमुना ब्रिज(नैनी साइड) के कार्यों के निरीक्षण के दौरान जल निकासी हेतु बनायी जा रही ड्रेन की कंक्रीट की गुणवत्ता असंतोषजनक पायी गयी।ओल्ड यमुना ब्रिज से लेप्रोसी चौराहा तक के मार्ग के कार्यों में बिना यूटीलिटी शिफिटिंग (मार्ग में बिजली के पोलो) ही जी०एस०बी० बिछाने का कार्य कर दिया गया है, जो मानक के अनुरूप नहीं है।निर्माण कार्यों में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर सम्बन्धित अवर अभियन्ता के विरूद्ध तत्काल कठोर कार्यवाही करते हुए उसकी जिम्मेदारी तय करने के निर्देश मुख्य अभियंता विकास प्राधिकरण को दिए गए। इसी क्रम में मण्डलायुक्त ने उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन द्वारा हेता पट्टी में बनाए जा रहे 132 केवी उपखंड की सिक्योरिटी वॉल के कार्यों का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान निर्माणाधन वाल के कालम और बीम की वर्टिकल एवं होरिजेंटल एलाइनमेंट में कमियां पाई गई। इसके अतिरिक्त प्लास्टर की थिकनेस भी ज्यादा पाई गई जो की मानक के अनुरूप नहीं थी। उपस्थित अधिशासी अभियंता को फटकार लगाते हुए उन्होंने थर्ड पार्टी से इस संबंध में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। मण्डलायुक्त ने बाढ़ कार्य खंड द्वारा किला घाट के समीप बनाए जा रहे स्थाई घाट के कार्यों का भी निरीक्षण किया तथा सभी कार्यों को पर्ट के अनुसार, गुणवत्ता पूर्वक पूर्ण करने के निर्देश दिए।

Pryagraj News: प्रयागराज के महाकुंभ क हो रहे कार्यों का मंडलायुक्त ने किया आज निरीक्षण

प्रयागराज महाकुंभ 2025 के दृष्टिगत कराए जा रहे विभिन्न कार्यों का निरीक्षण आज मण्डलायुक्त श्री विजय विश्वास पंत ने सभी संबंधित अधिकारियों की उपस्थिति में किया। सर्वप्रथम उ०प्र० जल निगम (नगरीय) द्वारा अलोपीबाग इण्टरमीडिएट पम्पिंग स्टेशन से ममफोर्डगंज सीवेज पम्पिंग स्टेशन तक सीवर पाइप लाइन बिछाने के कार्यों का निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान पाइप लाइन बिछाने हेतु खोदी गयी ट्रेंच की चौड़ाई मानक के अनुरूप कम पाई गई। साइट पर सम्बन्धित अभियन्ता भी अनुपस्थित थे जिससे यह प्रतीत होता है की गुणवत्ता सुनिश्चित करने हेतु अधिकारियों द्वारा निरंतर अनुश्रवण नहीं किया जा रहा है। 


तत्पश्चात उन्होंने प्रयागराज विकास प्राधिकरण द्वारा कराए जा रहे कार्यों का भी निरीक्षण किया जिसके अंतर्गत लोट्स हॉस्पिटल से कटका रोड़ तक ओल्ड यमुना ब्रिज क्रॉस करते ही बाएं तरफ महेवा की ओर जाने वाली रोड तथा ओल्ड यमुना ब्रिज (नैनी साइड) महेवा की ओर जाने वाली रोड की दूसरी तरफ लैप्रोसी चौराहा की ओर के मार्ग के चौड़ीकरण, सुदृढीकरण एवं सौंदरीकरण के कार्यों को देखा।

प्रयागराज के महाकुंभ क हो रहे कार्यों का मंडलायुक्त ने किया आज निरीक्षण  प्रयागराज महाकुंभ 2025 के दृष्टिगत कराए जा रहे विभिन्न कार्यों का निरीक्षण आज मण्डलायुक्त श्री विजय विश्वास पंत ने सभी संबंधित अधिकारियों की उपस्थिति में किया। सर्वप्रथम उ०प्र० जल निगम (नगरीय) द्वारा अलोपीबाग इण्टरमीडिएट पम्पिंग स्टेशन से ममफोर्डगंज सीवेज पम्पिंग स्टेशन तक सीवर पाइप लाइन बिछाने के कार्यों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पाइप लाइन बिछाने हेतु खोदी गयी ट्रेंच की चौड़ाई मानक के अनुरूप कम पाई गई। साइट पर सम्बन्धित अभियन्ता भी अनुपस्थित थे जिससे यह प्रतीत होता है की गुणवत्ता सुनिश्चित करने हेतु अधिकारियों द्वारा निरंतर अनुश्रवण नहीं किया जा रहा है।  तत्पश्चात उन्होंने प्रयागराज विकास प्राधिकरण द्वारा कराए जा रहे कार्यों का भी निरीक्षण किया जिसके अंतर्गत लोट्स हॉस्पिटल से कटका रोड़ तक, ओल्ड यमुना ब्रिज क्रॉस करते ही बाएं तरफ महेवा की ओर जाने वाली रोड तथा ओल्ड यमुना ब्रिज (नैनी साइड) महेवा की ओर जाने वाली रोड की दूसरी तरफ लैप्रोसी चौराहा की ओर के मार्ग के चौड़ीकरण, सुदृढीकरण एवं सौंदरीकरण के कार्यों को देखा। लोट्स हॉस्पिटल से कटका रोड एवं ओल्ड यमुना ब्रिज(नैनी साइड) के कार्यों के निरीक्षण के दौरान जल निकासी हेतु बनायी जा रही ड्रेन की कंक्रीट की गुणवत्ता असंतोषजनक पायी गयी।ओल्ड यमुना ब्रिज से लेप्रोसी चौराहा तक के मार्ग के कार्यों में बिना यूटीलिटी शिफिटिंग (मार्ग में बिजली के पोलो) ही जी०एस०बी० बिछाने का कार्य कर दिया गया है, जो मानक के अनुरूप नहीं है।निर्माण कार्यों में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर सम्बन्धित अवर अभियन्ता के विरूद्ध तत्काल कठोर कार्यवाही करते हुए उसकी जिम्मेदारी तय करने के निर्देश मुख्य अभियंता विकास प्राधिकरण को दिए गए। इसी क्रम में मण्डलायुक्त ने उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन द्वारा हेता पट्टी में बनाए जा रहे 132 केवी उपखंड की सिक्योरिटी वॉल के कार्यों का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान निर्माणाधन वाल के कालम और बीम की वर्टिकल एवं होरिजेंटल एलाइनमेंट में कमियां पाई गई। इसके अतिरिक्त प्लास्टर की थिकनेस भी ज्यादा पाई गई जो की मानक के अनुरूप नहीं थी। उपस्थित अधिशासी अभियंता को फटकार लगाते हुए उन्होंने थर्ड पार्टी से इस संबंध में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। मण्डलायुक्त ने बाढ़ कार्य खंड द्वारा किला घाट के समीप बनाए जा रहे स्थाई घाट के कार्यों का भी निरीक्षण किया तथा सभी कार्यों को पर्ट के अनुसार, गुणवत्ता पूर्वक पूर्ण करने के निर्देश दिए।
लोट्स हॉस्पिटल से कटका रोड एवं ओल्ड यमुना ब्रिज(नैनी साइड) के कार्यों के निरीक्षण के दौरान जल निकासी हेतु बनायी जा रही ड्रेन की कंक्रीट की गुणवत्ता असंतोषजनक पायी गयी।ओल्ड यमुना ब्रिज से लेप्रोसी चौराहा तक के मार्ग के कार्यों में बिना यूटीलिटी शिफिटिंग (मार्ग में बिजली के पोलो) ही जी०एस०बी० बिछाने का कार्य कर दिया गया जो मानक के अनुरूप नहीं है।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

निर्माण कार्यों में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर सम्बन्धित अवर अभियन्ता के विरूद्ध तत्काल कठोर कार्यवाही करते हुए उसकी जिम्मेदारी तय करने के निर्देश मुख्य अभियंता विकास प्राधिकरण को दिए गए।

इसी क्रम में मण्डलायुक्त ने उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन द्वारा हेता पट्टी में बनाए जा रहे 132 केवी उपखंड की सिक्योरिटी वॉल के कार्यों का भी निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान निर्माणाधन वाल के कालम और बीम की वर्टिकल एवं होरिजेंटल एलाइनमेंट में कमियां पाई गई। इसके अतिरिक्त प्लास्टर की थिकनेस भी ज्यादा पाई गई जो की मानक के अनुरूप नहीं थी।

उपस्थित अधिशासी अभियंता को फटकार लगाते हुए उन्होंने थर्ड पार्टी से इस संबंध में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

मण्डलायुक्त ने बाढ़ कार्य खंड द्वारा किला घाट के समीप बनाए जा रहे स्थाई घाट के कार्यों का भी निरीक्षण किया तथा सभी कार्यों को पर्ट के अनुसार, गुणवत्ता पूर्वक पूर्ण करने के निर्देश दिए।

Share this story