×

Prayagraj news: जन-शिकायतों के निस्तारण में किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदासीनता क्षम्य नहीं-जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री

Prayagraj news: Any kind of negligence or indifference in redressal of public complaints is not forgivable - District Magistrate Sanjay Kumar Khatri

समाधान दिवस में कुल 341 शिकायतें प्राप्त हुई, 35 शिकायतों का मौके पर किया गया निस्तारण

प्रयागराज। जिलाधिकारी  संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में शनिवार को तहसील मेजा में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी ने लोगों की शिकायतों को सुनते हुए राजस्व, पुलिस, स्वास्थ्य एवं अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को टीम बनाने एवं मौके पर जाकर प्रकरण की जांच कर शिकायतों को गुणवत्तापूर्वक एवं समयबद्धता के साथ निस्तारण करने के निर्देश दिये हैं साथ ही साथ उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि शिकायतों के निस्तारण से शिकायतकर्ता को संतुष्ट भी होना चाहिए।

 

 जिलाधिकारी ने प्रार्थना पत्रों की समयबद्ध जांच, कार्रवाई एवं समस्याओं के निस्तारण के लिए निर्देशित किया साथ ही अधिकारियों को चेतावनी दी कि निस्तारण में विलम्ब पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

 

जिलाधिकारी ने कहा कि जन-शिकायतों का निस्तारण शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले बिंदुओं में से एक है, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदासीनता स्वीकार्य नहीं है।


सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर लगभग 90 वर्षीय वृद्ध श्री मुंशीलाल निवासी ग्राम-कोसड़ाकला माण्डा ब्लाक के द्वारा कम्बल दिलाने के बहाने जमीन का गलत ढंग से बैनामा करा लिए जाने की शिकायत की गयी, जिसपर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी मेजा को जांच कराने एवं शिकायत के सही पाये जाने पर बैनामा निरस्त किए जाने का निर्देश दिया है।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

दिव्यांग महिला सोनम देवी निवासी ग्राम सिकरा, माण्डा ब्लाक ने मृतक ससुर के हिस्से की जमीन को अपने जेठ सुरेश कुमार द्वारा हड़पने व मारपीट किए जाने की शिकायत की गयी, जिसपर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी मेजा व एसीपी को मामले की त्वरित जांच कर आवश्यक कार्यवाही किए जाने के लिए कहा है।

Prayagraj news: Any kind of negligence or indifference in redressal of public complaints is not forgivable - District Magistrate Sanjay Kumar Khatri

इसी प्रकार रामसखा ग्राम करदहा, ब्लाक मेजा द्वारा नहर में सिंचाई हेतु लगी हुई पुरानी पाईप के स्थान पर नई पाईप लगाये जाने का अनुरोध किया गया, जिसपर जिलाधिकारी ने मुख्य अभियंता सिंचाई को नहर बंद होने पर नई पाईप लगवाने का निर्देश दिया है।

विकास कुमार निवासी ग्राम भटौती ने ब्लाक मेजा ने घर के ऊपर से गुजरने वाली 11 हजार बोल्टेज लाईन के पुराने तार के जर्जर होने व बार-बार गिरने की शिकायत की गयी। 

 जिसपर जिलाधिकारी ने मुख्य अभियंता विद्युत को पुराने तार के बदले जाने का निर्देश दिया है। इसी प्रकार शीला यादव ग्राम कोढनिया ग्राम उरूवा ने प्रार्थिनी की भूमिधरी जमीन पर सहकास्तकारों द्वारा जबरन कब्जा किए जाने की शिकायत की, जिसपर जिलाधिकारी ने जांच कर आवश्यक कार्यवाही कराये जाने के निर्देश दिए है।

इसी प्रकार श्री हीरालाल पाण्डेय निवासी ग्राम जेरा ब्लाक उरूवा द्वारा तालाब पर अवैध कब्जा किए जाने की शिकायत की गयी, जिसपर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी मेजा को प्रकरण की जांच कर तालाब से कब्जा हटायें जाने के निर्देश दिए है।


सम्पूर्ण समाधान दिवस पर कुल 341 शिकायतें प्राप्त हुई, जिनमें राजस्व विभाग की 146, पुलिस विभाग की 37, विकास विभाग की 57, समाज कल्याण की 10, स्वास्थ्य विभाग की 02, शिक्षा विभाग की 01 एवं अन्य विभागों की 88 शिकायतें प्राप्त हुई, जिनमें से 35 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया।

शेष शिकायतों के निस्तारण हेतु जिलाधिकारी ने सभी सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को आज ही अपने विभागों से सम्बंधित शिकायती प्रार्थना पत्रों को प्राप्त करते हुए निर्धारित समय सीमा में गुणवत्ता के साथ निस्तारित करने के निर्देश दिये है।


जिलाधिकारी ने परियोजना निदेशक श्री अशोक कुमार मौर्या को आवास से सम्बंधित शिकायतों का निस्तारण कराये जाने हेतु निर्देशित किया है। जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी मेजा को चक मार्गों से अतिक्रमण हटवाने, खतौनी के वरासत की फीडिंग समय से कराये जाने, ठीक ढंग से फाईलों के रख-रखाव व तहसील परिसर में लगे आर0ओ0 सिस्टम की मरम्मत कराकर चालू कराये जाने तथा नवनिर्मित शौचालयों को चालू किए जाने तथा पुराने शौचालयों की साफ-सफाई कराने तथा तहसील परिसर को साफ-सुथरा बनाये रखने का निर्देश दिया है।

जिलाधिकारी ने तहसील बार एसोसिएशन के अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारी अधिवक्ताओं से मिलकर उनके सुझाव एवं समस्याओं को सुना तथा उनके निस्तारण के बारे में अधिवक्ताओं को आश्वस्त किया। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी मेजा श्री विनोद कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी श्री आशु पाण्डेय, पीडी श्री ए0के0 मौर्या, जिला विकास अधिकारी श्री भोलानाथ कनौजिया सहित सभी सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Share this story