प्रयागराज बिल्डिंग की दूसरी मंजिल का छज्जा गिरने से तीन युवकों की मौत आधा दर्जन से अधिक लोग घायल
प्रयागराज बिल्डिंग की दूसरी मंजिल का छज्जा गिरने से तीन युवकों की दबकर मौके पर मौत आधा दर्जन से ज्यादा लोग घायल हैं

Three youths died due to the collapse of the visor of the second floor of Prayagraj building, more than half a dozen people injured


प्रयागराज सूरज प्रसाद प्रयागराज में मंगलवार की दोपहर में शहर के मुट्ठीगंज मोहल्ले के हटिया पुलिस चौकी के पास हादसा हुआ यहां स्थित एक मकान की दूसरी मंजिल का छज्जा अचानक भरभरा कर गिर गया मलबे में दबकर तीन युवकों की मौत हो गई जबकि आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए हैं। 

 

 

 

 

सभी को जिला अस्पताल ले जाया गया है। अग्निशमन विभाग के जवान समेत स्थानीय लोग मलबे को हटाने में लगे हैं आशंका जताई जा रही है कि मलबे में अभी कुछ और लोग की दबे होने की मृतकों की पहचान अभी नहीं हो सकी है।

  मंगलवार दोपहर तेज गरज के साथ वर्षा के बीच मुट्ठीगंज मोहल्ले में हटिया पुलिस चौकी के पास एक पुराने मकान का छज्जा गिर गया। 

छज्जा मकान की दूसरी मंजिल से गिरा अचानक तेज चीख-पुकार मच गई आसपास के घरों से लोग बाहर निकले और हालात का जायजा लेने लगे जब चीख-पुकार की आवाज तेज हुई तो हर कोई मदद के लिए मकान की ओर भागा आनन-फानन में पुलिस को सूचना भी दी गई और स्थानीय लोग मदद में जुट गए। 

हालांकि मकान की जर्जर स्थिति को देखते हुए मददगारओं में भी डर बना हुआ था कि कहीं मकान ना गिर जाए और मदद के दौरान वह भी घायल ना हो जाएं कड़ी मशक्कत के बाद मलबे में दबे लोगों को बचाने का प्रयास शुरू हुआ तो 3 लोगों को जिंदा हालत में मलबे से बाहर निकाला गया।

 उन्हें आनन-फानन में इलाज के लिए ले जाया गया जबकि तीन अन्य लोगों की जान नहीं बचाई जा सकी अभी भी राहत और बचाव कार्य जारी है मौके पर कई थानों की फोर्स समेत हजारों लोगों की भीड़ इकट्ठा हुई है। 

डीएम व एसएसपी पहुंच गए हैं वर्षा बंद होने के बाद पूरी सड़क पर भारी भीड़ के कारण जाम लग गया है स्थानीय लोगों ने बताया कि मकान जर्जर स्थिति में पहले से था। 

फिलहाल घटना को लोग अभी भी प्रशासन की ओर से कोई अधिकारीक बयान जारी नहीं हुआ है मौके पर पुलिस व प्रशासनिक अफसर जुटे हुए हैं एसडीआरएफ की टीम भी बचत राहत कार्य में मोर्चा संभाल लिया है और फंसे हुए लोगों की निकालने का कार्य जारी है। 

Share this story