×
यूपी में ग्राम प्रधान को 30 हजार रुपया घुस नहीं दिया तो नहीं मिला प्रधानमंत्री आवास

अमेठी। योगी सरकार के उत्तम प्रदेश में भ्रष्टाचार रुकने का नाम नहीं ले रहा है। अपने कार्य और विकास की देश भर में डंका बजवाने वाली योगी सरकार में भ्रष्टाचार रुकने का नाम नहीं ले रहा है।

आपको बता दें कि एक मामला अमेठी जिले का आया हुआ है जहां ग्राम प्रधान 30 हजार रुपया घुस लेकर लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास वितरित करवाता है।

जब हमारी टीम अमेठी के तहसील तिलोई विकासखंड सिंहपुर के जमुनीपुर गांव में पहुंची तो ₹30000 घूस न दे पाने पर गरीब, निराश्रित व भूमिहीन दिव्यांग को प्रधानमंत्री आवास नहीं दिया गया जबकि रजिस्टर के क्रमांक नंबर 4 पर आवास पात्रता सूची में नाम होने के बावजूद भी ₹30000 घूस न दे पाने के कारण पीएम आवास के लाभ से उस गरीब दिव्यांग को वंचित कर दिया गया।

गाँव के दिव्यांग कमलेश ने बताया कि 30000 रुपए घूस ग्राम प्रधान सुमेरी को ना दे पाने पर हमें पीएम आवास योजना नहीं मिली है।


ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम प्रधान सुमेरी ने जितने भी आवास ग्राम पंचायत कोटवा, नौखेर व जमुनीपुर में आवंटित किया है सभी लाभार्थियों से 20 - 20 हजार रुपए घूस लेकर ही दिया गया है।

Share this story