×

Gorakhpur News: आईजीएल के संस्थापक स्वर्गीय मोहन लाल भरतिया की मनाई गई 15वी पुण्यतिथि

आईजीएल के संस्थापक स्वर्गीय मोहन लाल भरतिया की मनाई गई 15वी पुण्यतिथि

गोरखपुर। इण्डिया ग्लाईकॉल्स लिमिटेड के बिजनेस हेड के नेतृत्व में आईजीएल के पूर्व संस्थापक स्वर्गीय मोहनलाल भरतिया की पुण्यतिथि मनाई गई। इस समारोह के मुख्य अतिथि मदन मोहन मालवीय प्रद्यौगिक विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर डॉ जे पी पांडेय सह मुख्य अतिथि अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर अखिल कुमार (आईपीएस ), सह मुख्य अतिथि गुरु गोरखनाथ विश्विविद्यालय के कुलपति डॉ मेजर जनरल अतुल बाजपेयी, सह मुख्य अतिथि कुलसचिव प्रदीप राव, सह मुख्य अतिथि पूर्व  जिला जज एवं लोकअदालत के चेयरमैन जज जेएन पांडेय, सह मुख्य अतिथि अपर जिला जज राम कृपाल, डॉ चारु शीला सिंह, रितेश साही रहे और  विशेष अतिथि डॉ आकृति विज्ञानं विशिष्ट अतिथि, रमा शंकर शुक्ल, देश बंधू शुक्ल, परशुराम शुक्ल, संतोष तिवारी, कैप्टन ओमप्रकाश मिश्रा, राकेश तिवारी, राजेश कुमार, अधिवक्ता जितेंद्र गुप्ता, प्रमोद राय, गुड्डू प्रधान इत्यादि रहे।

कार्यक्रम की शुरुवात स्वर्गीय एम एल भरतिया की छाया प्रति पर पुष्पांजलि अर्पित किया,ततपश्चात अतिथियों द्वारा सुंदरकांड के पाठ में जाकर पूजा अर्चना किया गया तथा इसके बाद रक्तदान शिविर का शुभारम्भ किया गया। इसके पश्चात अतिथियों द्वारा 65 गरीब परिवारों को वस्त्र वितरण किया गया। 47 कर्र्मचारियो ने रक्तदान किया और इस रक्तदान शिविर में बीआरडी मेडिकल कालेज की टीम और जिला चिकित्सालय की टीम सयुक्त रूप से सहयोग किया।

आईजीएल के संस्थापक स्वर्गीय मोहन लाल भरतिया की मनाई गई 15वी पुण्यतिथि

मुख्य अतिथि कुलपति जेपी पांडेय जी ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा की आईजीएल कचरे से रोजगार और राजस्व देने वाली पूर्वांचल की पहली कंपनी है जो अपने उत्पादों से बाजार में एक नंबर स्थापित है और एस के शुक्ल के नेतृत्व में शिक्षा, रोजगार, चिकित्सा के क्षेत्र में अनेको कार्य कराये जा रहे है। सह मुख्य अतिथि अपर पुलिस महानिदेशक गोरखपुर जोन ने पूर्व संस्थापक को नमन किया और कहा की निसंदेह वर्तमान प्रबंध निदेशक श्री उमाशंकर भरतिया एवं बिजनेस हेड एस के शुक्ल के नेतृत्व में कंपनी तेजी से विकास और उन्नति के पथ पर आगे बढ़ रही है और बताया की कैसे इनके द्वारा आपरेशन त्रिनेत्र में सहयता दी गयी है और आईजीएल पुरे प्रदेश में सीएसआर के कार्य तेजी से कर रही है।

https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2953008738960898" crossorigin="anonymous">

तदोपरांत  सह मुख्य अतिथि पूर्व जिला जज श्री जेएन पांडेय जी ने  महिलाओं के अधिकारो  के बारे में बताते हुए कहा कि भारत देश का संविधान में महिला को भी पुरूष के समान अधिकार दिया गया हैं। महिलाओं को समान वेतन का अधिकार, घरेलू हिंसा के खिलाफ अधिकार, मातृत्व संबंधी लाभ के लिए अधिकार, कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ अधिकार, मुफ्त कानूनी मदद के लिए अधिकार, गरिमा और शालीनता के लिए अधिकार, संपत्ति पर अधिकार के संबंध में विस्तार से जानकारी दी।तथा विस्तार से लोक अदालत की प्रडाली पर प्रकाश डाला इसके उपरान्त सह मुख्य अतिथि अपर जिला जज श्री राम कृपाल जी ने अपने सम्बोधन में महिलाओं को  महिला सुरक्षा और सम्मान, अपने अधिकारों और कानून के प्रति सजग, लैंगिग समानता, महिला अपराधों में कमी, युवाओं में नारी सम्मान के महत्व को समझाना आदि की महिलाओं को विस्तार से जानकारी दी।बिजनेस हेड एस के शुक्ल ने अपने सम्बोधन में कहा की हनुमान जी जब लंका में जा रहे थे तब पर्वत ने उनसे प्रश्न किया था कि सनातन धर्म की परिभाषा क्या है, तब उन्होंने जवाब दिया था कि कोई आप पर कृपा करे तो उसके प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करना ही सनातन धर्म का कर्तव्य है।

संस्थापक की सोच को सार्थक करने और वर्तमान आईजीएल के प्रबंध निदेशक श्री उमाषणाकर की नेतृत्व क्षमता की तारीफ़ किया और कहा हम सब धन्य है की ऐसे ऊर्जावान नेतृत्व के अंदर कार्य आकर रहे है जो देश के राजस्व में बड़ी भागीदारी दे रहे है। प्लांट हेड एपी मिश्रा ने सभी अतिथियों को पुष्पगुच्छ ,अंगवस्त्र,एवं स्मृति चिन्ह देकर स्वागत किया।  वरिष्ठ प्रबंधक प्रशासन एवं जनसपर्क डॉ सुनील कुमार मिश्रा ने आतिथ्य परिचय दिया और कार्यक्रम की रुपरेखा पर प्रकाश डाला , कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे बिजनेस हेड एस के शुक्ल ने सभी अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया।  कार्यक्रम में उपस्थित अधिकारियो के नाम , आशीष गुप्ता , शैलेन्द्र पांडेय , शैलेश चंद , अखिलेश शुक्ल , लखन त्रिवेदी , आत्मा नंद सिंह , संदीप त्रिपाठी , साक्षी ,वैष्णवी अविका ,डॉ कमलेश सिंह अरुण चतुर्वेदी , अजित त्रिपाठी , अतुल पांडेय , अजय तिवारी , अनिरुद्ध सिंह ,मनीष साही ,केएल चौहान , रजनीकांत पांडेय ,डॉ मीनाक्षी , स्वेता सिंह ,एस एन पांडेय ,इत्यादिके साथ भारी संख्या में ग्रामीण और कर्मचारी उपस्थित रहे।

Share this story