वाराणसी में बुजुर्ग दंपत्ति को बंधक बनाकर 8 लाख की डकैती
वाराणसी में बुजुर्ग दंपत्ति को बंधक बनाकर 8 लाख की डकैती

वाराणसी। विगत दिनों थाना रोहनिया क्षेत्रन्तर्गत चंद्रिका विहार कॉलोनी में बुजुर्ग दंपत्ति को बंधक बनाकर डकैती करने वाले बांग्लादेशी गीरोह के तीन अधिवक्ताओं को मुठभेड़ के बाद लखनऊ पुलिस व क्राइम ब्रांच टीम ने गिरफ्तार कर लिया पुलिस के अनुसार यह एक अंतरराष्ट्रीय गिरोह है। जो कि अवैध रूप से भारत में प्रवेश कर विभिन्न राज्यों एवं जनपदों में डकैती एवं चोरी की घटनाओं में शामिल रहे हैं। गिरफ्तार आरोपियों से रुबेल उर्फ रविउल आलम उर्फ आलमीन रबीउल से पूछताछ मैं घटना में शामिल अन्य अभियुक्तों के नाम प्रकाश में आए हैं। इनके कब्जे से चंद्रिका बिहार में बुजुर्ग दंपत्ति के आधार कार्ड व अन्य घटना से संबंधित वस्तुएं बरामद हुई हैं। गिरफ्तार डकैत आधी रात ने घर की बाउंड्रीवाल पार कर घर की खिड़कियों का ग्रिल उखाड़ कर घर के अंदर प्रवेश कर घर में सदस्यों को असलहा के बल पर बंधक बनाकर घर का सामान लूट कर फरार हो जाते थे।

अभियुक्तों से पूछताछ एवं रिमांड की कार्रवाई के लिए एक टीम लखनऊ रवाना की गई है । और इस संबंध में विधिक कार्रवाई की जा रही है । इस वांछित अभीवक्ताओं की तलाश में टीम रवाना की गई है । अभियुक्त गणों के खिलाफ लखनऊ कमिश्नर रेट के विभिन्न थानों जनपद कटनी मध्य प्रदेश व अन्य राज्यों में भी अभियोग पंजीकृत है बता दें रोहनिया थाना क्षेत्र के अखरी स्थित चंद्रिका विहार कॉलोनी में 25-26 सितंबर की रात खिड़की तोड़कर गिरफ्तार डकैतों ने रिटायर प्रोफेसर के घर में आठ लाख के गहने और ₹52 हजार नगद लूट लिए थे । डकैतों ने घर में सो रहे वृद्धा प्रोफेसर और उनकी पत्नी को असलहा व धरादार चाकू और अन्य हथियार सटाकर इस घटना को अंजाम दिए थे। चोरी करके घर से निकलते वक्त डकैतों ने दोनों को घर में बंद कर दिए थे । किसी तरह बंद कमरे से निकलकर प्रोफ़ेसर ने इस घटना की सूचना पुलिस को दी थी।

Share this story