यूपी में गायों के इलाज के लिए 24 घंटे एंबुलेंस सेवा, योगी सरकार ने तैयार की 515 अभिनव एंबुलेंस योजना
योजना

 उत्तर प्रदेश। योगी सरकार  ने गायों को तुरंत चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराने के लिए जल्द ही अभिनव एंबुलेंस सेवा शुरू करने जा रही है।  यूपी के डेयरी, मत्स्य पालन और पशुपालन मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने बताया कि राज्यव्यापी स्तर पर इस सेवा को शुरू करने के लिए 515 एंबुलेंस तैयार कर ली हैं। 

जानकारी के अनुसार, यह सेवा 24 घंटे उपलब्ध रहेगी तथा इसके लिए लखनऊ में एक कॉल सेन्टर बनाया जाएगा। इस सेवा के लिए जो भी काल करेगा उसके पास 15 से 20 मिनट में एंबुलेंस पहुंच जाएगी। इस सेवा को अगले माह दिसंबर तक शुरू कर दिया जाएगा। मंत्री ने बताया कि गाय के नस्ल सुधार कार्यक्रम के अन्तर्गत पशुपालकों को तीन बार मुफ्त गर्भाधान कराने की सुविधा दी जाएगी। इसके अलावा गाय के शत प्रतिशत गर्भाधान को सुनिश्चित करने वाली अत्याधुनिक 'एब्रियो ट्रांसप्लांट' तकनीक को भी अमल लाये जाने की तैयारी है।

इसके अलावा गाय के शत प्रतिशत गर्भाधान को सुनिश्चित करने वाली अत्याधुनिक एब्रियो ट्रांसप्लांट तकनीक को भी अमल लाए जाने की तैयारी है।  उन्होंने बताया कि बाराबंकी में इस तकनीक के सफल प्रयोग के बाद इस तकनीक को सभी जिलों में चालू किया जा रहा है।  चौधरी ने कहा कि इसके अंतर्गत एक गाय के उन्नत सीमेन से तैयार भ्रूण को 8-10 गायों में रख दिया जाता है।  इसकी विशेषता ये है कि इसे गाय शतप्रतिशत गर्भवती होती है।  इसी के साथ इससे पैदा हुई बछिया कम से कम 20 किलो दूध देती है। 


चौधरी ने कहा कि इस तकनीक की सबसे बड़ी विशेषता ये है कि इसमें 92 प्रतिशत बछिया पैदा होंगी।  इससे किसान को आवार जानवरों की समस्या से निजात मिल सकेगी।  क्योंकि कोई किसान अधिक दूध देने वाली बछिया को खुला नहीं छोड़ सकेगा।  मंत्री ने कहा कि पाइलट प्रोजेक्ट के रूप में इस योजना को पहले मथुरा समेत आठ जिलों में शुरू किया जाएगा।  राज्य में गायों की सर्वाधिक संख्या मथुरा में है। 

Share this story