फ्री में बनाए बिजली और सरकार से ले 20 हज़ार रुपये महीने
solar panel online registration

Make electricity for free and take 20 thousand rupees a month from the government

Free Solar Panel Yojana: बिजली के अधिक उपयोग के कारण आने वाले समय में बिजली संकट आ सकता है। जाहिर है ऐसे में आपको दूसरा बिजली के लिए दूसरा जरिया तलाश कर लेना चाहिए।

 

 

 

इसके लिए आप अपने घर सोलर प्लांट लगवा सकते हैं। इसके लिए ज्यादा पैसे भी नहीं खर्च करने पड़ेंगे। यानी आप बहुत ही सस्ते दामों पर सोलर प्लांट लगवा सकते हैं। इसमें सरकार भी आपकी मदद करेगी,

 

यानी सरकार की तरफ से आपको सब्सिडी दी जाएगी। यही नहीं आप सरकार के खर्चे पर सोलर प्लांट लगवाकर कमाई भी कर सकते हैं। आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

आपको बता दें कि सरकारी सब्सिडी पर सोलर प्लांट लगाने लिए पहले ऑन ग्रिड की पूरी डीटेल्स लेनी होगी। दरसल यह मीटर से कनेक्ट होता है और रात को बिजली मीटर से ही ली जाती है।

दिन में यह सोलर प्लांट इतनी बिजली बना देता है कि आप खुद के घर पर चलाकर सरकार को बेच सकते हैं। इससे आप सरकार से बिजली के बिल का पैसा ले सकते हैं। सरकार इस रकम का भुगतान चेक के द्वारा करती है।

आप चाहो तो सोलर प्लांट लगाकर पड़ोसियों को भी बिजली बेच सकते हैं। 9 रूपए यूनिट के हिसाब से आराम से दिन में 500 रूपए की बिजली बेच सकते हैं।

आपको बता दें कि आपके द्वारा इंस्टाल किए जाने वाले सोलर प्लांट की साइज पर ही सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी निर्भर करेगी। यदि आप बड़ा प्लांट लगाते हैं तो आपको अधिक सब्सिडी मिलेगी, छोटे प्लांट पर कम सब्सिडी मिलेगी।

उदाहरण से समझिए, अगर आपको अपने घर में 1 टन के 2 इन्वर्टर एयर कंडीशनर चलाने हैं, साथ में कूलर, पंखे और लाइट चलानी है तो आपको न्यूनतम 4 किलोवॉट का सोलर सिस्टम लगाना पड़ेगा जो हर रोज कम से कम 20 यूनिट बिजली पैदा करेगा।

आइए जानते हैं कि अगर आपको 5 KW का सोलर प्लांट लगवाकर किस तरह लाइट का खर्चा बचा सकते हैं। यही नहीं, अगर आप अपने सोलर प्लांट द्वारा बनाई गई पूरी विद्युत का उपयोग नहीं कर पा रहे हैं तो आप उस इलेक्ट्रिसिटी को सरकार को बेच कर कमाई भी कर सकते हैं।

सोलर प्लांट के लिए जरूरी सामान

सोलर प्लांट लगवाने के लिए एक सोलर इन्वर्टर, सोलर बैटरी, सोलर पैनल सबसे जरूरी सामान है। इसके साथ ही वायर फिक्सिंग, स्टैंड आदि का खर्चा होता है जिस पर अतिरिक्त पैसा देना होता है। इस तरह इन सभी चीजों को मिलाकर हम खर्चा निकाल सकते हैं।

सोलर इन्वर्टर

बाजार आपको 5 किलोवाट का सोलर इन्वर्टर मिल जाएगा जिसे आप 4 किलोवॉट का प्लांट चलाने के लिए आप खरीद सकते हैं। वैसे यह थोड़ा सा महंगा होता है। अब अगर आपका बजट कम है तो आप पीडब्ल्यूएम तकनीक वाला सोलर इन्वर्टर ले सकते हैं।

सोलर बैटरी

सोलर बैटरी की कीमत उसके आकार पर निर्भर करती है। अगर आप 4 बैटरी इन्वर्टर लेंगे तो वह सस्ता आएगा परन्तु यदि आप 8 बैटरी वाला इन्वर्ट लेंगे तो वह दुगुनी कीमत में आएगा। अंदाजें के अनुसार एक बैटरी आपको लगभग 15,000 रुपए की पड़ती है।

सोलर पैनल्स

इस समय मार्केट में तीन तरह के सोलर पैनल उपलब्ध हैं। जिनकी अलग-अलग कीमत है। इन तीनों को पॉलीक्रिस्टेलीन, मोनो पर्क, और बाइफेसिएल कहा जाता है। अगर आपका बजट कम है और स्पेस ज्यादा है तो आपको पॉलीक्रिस्टेलीन सोलर पैनल लगाना चाहिए। लेकिन अगर आपके पास स्पेस कम है तो आपको बाइफेसियल सोलर पैनल लगाना चाहिए।

सोलर प्लांट के प्रकार

कोई भी सोलर प्लांट तीन तरह का हो सकता है।

1) ऑफ-ग्रिड – जो डायरेक्ट पॉवर सप्लाई करता है।

2) हाईब्रिड – जो ऑफ ग्रिड और ऑन ग्रिड दोनों का कॉम्बीनेशन होता है।

3) ऑन-ग्रिड – जो इलेक्ट्रिसिटी को सेव कर लेता है और आवश्यकता के वक्त काम ले सकते हैं।

Share this story