गुजरात में फिर पकड़ी गई करोड़ों की हेरोइन, तीन तस्कर गिरफ्तार
गुजरात: मोरबी से 600 करोड़ की हेरोइन जब्त, तीन ड्रग्स तस्कर गिरफ्तार

मोरबी। गुजरात में फिर करोड़ों की हेरोइन जब्त की गई है। यहां आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने इस बार मोरबी के जिंजुदा गांव में ऑपरेशन चलाया, जहां से 120 किलोग्राम हेरोइन बरामद की। एटीएस की ओर से बताया गया कि, ऑपरेशन स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर अंजाम दिया गया। एक प्‍लानिंग के तहत पुलिस की टीम कच्छ की खाड़ी में स्थित नवलखी बंदरगाह के पास स्थित जिंजुदा गांव पहुंची और वहां से तीन लोगों को गिरफ्तार किया।

गुजरात एटीएस के डिप्टी एसपी केके पटेल ने बताया कि हमें खुफिया सूत्रों से जानकारी मिली थी कि जामनगर और सलाया के मुख्तार हुसैन उर्फ ​​जब्बार जोड़ी और गुलाम भगड़ समुद्री रास्ते से हेरोइन लेकर आए हैं. ये लोग रात में एक जगह पर हेरोइन लेकर पहुंचने वाले हैं.

एसटीएस को खुफिया तंत्र के सूचना मिली कि तस्कर मोरबी जिले के मालिया-मियाना के जिंजुदा गांव में कोटावाला पीर की दरगाह के पास शम्सुद्दीन हुसैन मियां सैय्यद के घर हेरोइन लेकर पहुंचेंगे. इसी आधार पर टीम ने डिप्टी एसपी भावेश पी रोजिया के नेतृत्व में वहां छापा मारा.

तस्करों पर शिकंजा कसते हुए एटीएस ने मुख्तार हुसैन उर्फ ​​जब्बार जोड़ी, शम्सुद्दीन हुसैन मियां सैय्यद और गुलाम हुसैन उमर भगड़ को गिरफ्तार कर लिया. इनके कब्जे से 600 करोड़ रुपये की 120 किलो हेरोइन बरामद की. टीम तस्करों की कुंडली खंगाल रही है.

एटीएस की जांच में ये बात सामने आई है कि मुख्तार हुसैन उर्फ ​​जब्बार जोड़ी और गुलाम भगड़ को एक पाकिस्तानी नाव से डिलीवरी मिली थी. यह खेप पाकिस्तान निवासी जाहिद बशीर बलोच की ओर से भेजी गई थी. जो 2019 में राजस्व खुफिया निदेशालय द्वारा की गई 227 किलो हेरोइन की जब्ती में वांछित है.

Share this story