हिमाचल में कोरोना ने फिर पकड़ी रफ्तार, मास्क पहनना हुआ अनिवार्य
हिमाचल में कोरोना ने फिर पकड़ी रफ्तार, मास्क पहनना हुआ अनिवार्य

शिमला। हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण ने फिर से रफ्तार पकड़ ली है। प्रदेश में बीते 3 दिनों से हर रोज 900 से ज्यादा नए संक्रमित सामने आ रहे हैं। इसे देखते हुए प्रशासन ने सार्वजनिक स्थलों पर अब मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से आदेश जारी किए गए हैं कि सरकारी, गैर सरकारी संस्थानों, अस्पतालों, सार्वजनिक स्थलों पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा। 

खुले या भीतर होने वाले कार्यक्रमों में भी मास्क पहनना जरूरी होगा। बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को बिना मास्क के हिमाचल में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा।

वहीं शिक्षा विभाग की ओर से भी सख्त आदेश जारी किए गए हैं। उच्चतर शिक्षा निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने इस संबंध में सभी संस्थानों को निर्देश जारी किए हैं।

इसके साथ ही स्कूलों में छात्रों को कोरोना से बचाव के तरीकों के बारे में जागरूक किया जाएगा।

सर्दी, खांसी, बुखार और जुकाम की शिकायत वाले छात्र तभी स्कूल आ पाएंगे, जब तक कि वे पूरी तरह ठीक न हो जाएं। 

बता दें कि शुक्रवार को प्रदेश में कोरोना के 930 नए मामले सामने आए और इससे एक्टिव केसों की संख्या 5391 तक पहुंच गई। हालांकि इस दौरान 777 मरीज ठीक भी हुए। राज्य के कांगड़ा जिले में सबसे ज्यादा 1245 एक्टिव केस हैं।

बिलासपुर में 351 एक्टिव केस हैं, चंबा में 355, हमीरपुर में 419, किन्नौर में 90, कुल्लू में 256, लाहौल-स्पीति में 49, मंडी में 1083, शिमला में 846, सिरमौर में 232, सोलन में 208 और ऊना जिले में 257 एक्टिव केस हैं। प्रदेश में कोरोना से 4139 लोगों की मौत हुई है।

वहीं दूसरी ओर 28 जुलाई को हुई कैबिनेट बैठक में भी कोरोना की स्थिती को लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रेजेन्टेशन दी गई है। 

कैबिनेट मंत्री सुरेश भारद्वाज का कहना है फिलहाल डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट लागू नहीं किया है केवल एडवाइजरी जारी की गई है। सभी को एतियात बरतने की सलाह दी गई है।

Share this story