रोहित शर्मा ने ध्वस्त किया छक्कों का रिकॉर्ड, ऐसा करने वाले बने पहले भारतीय
rohit sharma
 

T20 इंटरनेशनल क्रिकेट। भारतीय टीम के नवनियुक्त कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को उनके लंबे-लंबे छक्कों के लिए जाना जाता है। हिटमैन जब मैदान पर हो और छक्के-चौकों की बारिश ना हो, ऐसा बहुत कम ही देखने को मिलता है। अब हिटमैन ने कीवी टीम के साथ खेले दूसरे T20 मैच में एक बड़ा कारनामा कर दिखाया है। उन्होंने न्यूजीलैंड (new zealand) के खिलाफ खेले गए दूसरे टी-20 मुकाबले में एक छक्के लगाने के साथ ही इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने 450 छक्के पूरे किए। रोहित ने एक ऐसा रिकॉर्ड बना लिया है जो आज तक कोई भी भारतीय खिलाड़ी नहीं बना सका है। वो ऐसा करने वाले दुनिया सिर्फ तीसरे बल्लेबाज हैं। उनसे पहले ये कारनामा शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) और क्रिस गेल (Chris Gayle) ही कर चुके हैं। आज तक कोई भी भारतीय खिलाड़ी इंटरनेशनल क्रिकेट में 450 छक्का नहीं लगा पाया है।

गेल के नाम सबसे ज्यादा छक्के


क्रिस गेल ने इंटरनेशनल क्रिकेट में सर्वाधिक 553 छक्के लगाए हैं, जबकि शाहिद अफरीदी के बल्ले से 476 छक्के निकले हैं। इसके अलावा रोहित शर्मा ने शुक्रवार को मैदान में एक और खास उपलब्धि हासिल कर ली है। 'हिटमैन' रोहित शर्मा ने इंटरनेशनल क्रिकेट में अब तक कुल 454 छक्के लगाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से टेस्ट क्रिकेट में 63, एकदिवसीय क्रिकेट में 244 और T20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 147 छक्के निकले हैं। रोहित ने यह कारनामा 404 पारियों में किया है, जबकि शाहिद अफरीदी ने 487 और क्रिस गेल ने 499 पारियों में यह आंकड़ा छुआ है।

सर्वाधिक इंटरनेशनल छक्के 


1. क्रिस गेल - 553 छक्के (वेस्टइंडीज)
2. शाहिद अफरीदी - 476 छक्के (पाकिस्तान)
3. रोहित शर्मा - 454 छक्के (भारत)
4. ब्रैंडन मैक्कुलम - 398 छक्के (न्यूजीलैंड)
5. मार्टिन गुप्टिल - 363 छक्के (न्यूजीलैंड)
6. एमएस धोनी - 359 छक्के (भारत)

ऐसा करने वाले दूसरे बल्लेबाज होंगे


इसके साथ ही अगर रोहित शर्मा के बल्ले से बचे दो मैचों में 3 छक्के निकलते हैं तो उनके टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 150 छक्के हो जाएंगे। वो ऐसा करने वाले विश्व के सिर्फ दूसरे बल्लेबाज बनेंगे। उनसे पहले सिर्फ न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल (martin guptill) ने क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में 150 छक्के लगाए हैं।

रोहित शर्मा ने रचा आउट करने का चक्रव्यूह

मार्टिन गप्टिल ने टीम इंडिया के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के दूसरे टी20 इंटरनैशनल मैच में 15 गेंद पर 31 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली। गप्टिल जब तक क्रीज पर थे, उन्होंने भारतीय गेंदबाजों को लय हासिल करने का मौका नहीं दिया था। इस पारी के दौरान उन्होंने तीन चौके और एक छक्का लगाया। एक छक्का उन्होंने आउट होने से ठीक पहले दीपक चाहर की गेंद पर ठोका था, जिसके बाद कप्तान रोहित शर्मा ने ऐसा जाल बुना, जिसमें फंसकर इस कीवी बल्लेबाज को पवेलियन का रास्ता पकड़ना पड़ा। चाहर इस मैच में काफी महंगे साबित हुए, लेकिन उन्होंने गप्टिल का अहम विकेट अपने खाते में डाला।

पांचवें ओवर की पहली ही गेंद पर गप्टिल ने लॉन्ग ऑन पर जबर्दस्त छक्का लगाया। इसके बाद रोहित चाहर के पास गए, उन्होंने उनसे कुछ बात की और बताया कि किस एरिया में गेंद डालनी है। इसके बाद उन्होंने फील्ड में कुछ बदलाव किए। रोहित ने डीप स्क्वॉयर और थर्ड मैन पर एक फील्डर लगाया। इसके बाद चाहर ने पिछले मैच की तरह इस मैच में भी गप्टिल के खिलाफ आखिरी जंग जीती और विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों कैच कराकर उन्हें पवेलियन वापस भेजा। चाहर ने शॉर्ट गेंद की और गप्टिल इसको जब तक समझ पाते, अपना बल्ला अड़ा बैठे और पंत को आसान कैच लपकने का मौका दे दिया।

शॉर्ट फाइन लेग पर एक फील्डर था, लेकिन पंत ने वहां तक गेंद जाने नहीं दी और खुद कैच लपककर भारत को पहली सफलता दिलाई। कीवी टीम ने इस तरह से 48 रनों पर अपना पहला विकेट गंवाया। चाहर ने चार ओवर में 42 रन खर्चे। कीवी टीम की ओर से बेस्ट स्कोरर ग्लेन फिलिप्स रहे, जिन्होंने 21 गेंद पर 34 रनों की पारी खेली। कीवी टीम ने 20 ओवर में छह विकेट पर 153 रन बनाए, जवाब में भारत ने 17.2 ओवर में ही तीन विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। रोहित ने 55 और केएल राहुल ने 65 रनों की पारी खेली। 

Share this story